रिपोर्ट / दुनिया में 1.75 करोड़ भारतीय प्रवासी, विदेश में बसने के मामले में सबसे आगे



UN, 1.75 crore Indian diaspora in the world, half migrant in 10 countries
X
UN, 1.75 crore Indian diaspora in the world, half migrant in 10 countries

  • संयुक्त राष्ट्र ने द इंटरनेशनल माइग्रेंट स्टॉक 2019 ने यह रिपोर्ट जारी की
  • दुनियाभर में प्रवासियों की संख्या करीब 27.2 करोड़
  • भारत ने 2019 में 51 लाख अंतरराष्ट्रीय प्रवासियों को देश में जगह दी

Dainik Bhaskar

Sep 20, 2019, 12:28 PM IST

यूएन. नौकरी, उद्योग, व्यापार जैसे कारणों की वजह से अपना देश छोड़कर दूसरे देशों में रहने वालों भारतियों की आबादी दुनिया में सबसे ज्यादा है। संयुक्त राष्ट्र संघ की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में जन्मे 1.75 करोड़ लोग अलग-अलग देशों में रहते हैं। 2019 में भारत 1.75 करोड़ की प्रवासी आबादी के साथ अंतरराष्ट्रीय प्रवासियों के मामले में सबसे ऊपर पहुंच गया है।

 

संयुक्त राष्ट्र रिपोर्ट 'द इंटरनेशनल माइग्रेंट स्टॉक 2019' में कहा गया है कि दुनियाभर में प्रवासियों की संख्या करीब 27.2 करोड़ पर पहुंच गई है। इस रिपोर्ट में अंतरराष्ट्रीय प्रवासियों की उम्र, लिंग और मूल देश तथा दुनिया के सभी हिस्सों के आधार पर संख्या बताई गई है। कुल प्रवासियों की संख्या दुनिया की आज की आबादी का 3.5% है, जबकि 2000 में यह 2.8 % थी। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक दुनिया के आधे प्रवासी सिर्फ 10 देशों में रहते हैं।

 

भारत में पिछले साल से 1 लाख प्रवासी कम आए
भारत ने 2019 में 51 लाख अंतरराष्ट्रीय प्रवासियों को देश में जगह दी। हालांकि, यह 2015 के 52 लाख आंकड़ों से कम है। अंतरराष्ट्रीय प्रवासियों को अपने यहां जगह देने वाले देशों में सबसे ऊपर यूरोप और उत्तरी अमेरिका हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 2019 में यूरोप में 8.2 करोड़ और उत्तरी अमेरिका में 5.9 करोड़ प्रवासी रह रहे हैं। 2010 के मुकाबले 2019 में प्रवासियों की संख्या 5.1 करोड़ पर पहुंच गई।

 

दुनिया में टॉप- 10 देशों के प्रवासी

 

 

देश  प्रवासी आबादी 
भारत 1.75 करोड़
मैक्सिको 1.18 करोड़
चीन 1.07 करोड़ 
रूस 1.05 करोड़
सीरिया 82 लाख
बांग्लादेश 78 लाख
पाकिस्तान 63 लाख
यूक्रेन 59 लाख
फिलिपींस 54 लाख
अफगानिस्तान 51 लाख

 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना