गुजरात / महिला की गुहार- जज साहब, पति ने परिवार न बढ़ाने का वचन तोड़ा; तलाक दिलवाएं

Your Honor, husband breaks the promise of not raising a family, get a divorce
X
Your Honor, husband breaks the promise of not raising a family, get a divorce

  • महिला पुणे की रहने वाली है और पति अहमदाबाद से है, दोनों की पांंच साल पहले शादी हुई थी

  • महिला एयरलाइंसकर्मी का आवेदन कुटुंब न्यायालय ने खारिज किया तो हाईकोर्ट में गुहार लगाई
  • पति ने कहा- सुरक्षा बरती थी, संबंधित उत्पाद ने धोखा दिया; कंपनी से मुआवजा दिलाएं

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 03:34 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात हाईकोर्ट में एक एयरलाइंस कर्मी और मॉडल ने पति से तलाक दिलवाने की गुहार लगाई है। इसके पीछे उसने तर्क दिया है कि पति ने विवाह पूर्व की शर्त का उल्लंघन किया। इसके चलते वह गर्भवती हो गई। कुटुंब न्यायालय ने उसका आवेदन खारिज कर दिया था। इसके बाद उसने गुजरात हाईकोर्ट में अपील की।

महिला पुणे की रहने वाली है, जबकि पति अहमदाबाद में रहते हैं। दोनों की पांंच साल पहले शादी हुई थी। दो साल पहले एक बच्चा हुआ।

काम के लिए शरीर को सुडौल रखना होता है

  • महिला का कहना है कि कंपनी के मानदंड के अनुसार शरीर को सुडौल रखना होता है। हर साल इन मानदंडों की जांच भी होती है। इसलिए हमने फैमिली प्लानिंग (परिवार न बढ़ाने) न करने की शर्त के साथ शादी की थी। शादी के तीसरे साल में मुझे पता चला कि मैं गर्भवती हूं। इससे मुझे दुख हुआ। इसके बाद दोनों में झगड़े होने लगे। 
  • महिला का आरोप है कि पति ने उनके संबंधों के दौरान सुरक्षा नहीं बरती। इस वजह से वह गर्भवती हो गई। उधर, पति का तर्क है कि उसने पर्याप्त सुरक्षा बरती थी, लेकिन संबंधित उत्पाद के फेल होने से उसकी शादी टूटने की कगार पर पहुंची है। पति ने उपभोक्ता फोरम में अलग से केस दर्ज करवाकर संबंधित कंपनी से मुआवजा मांगा है। फिलहाल हाईकोर्ट ने बच्चे के भविष्य को ध्यान में रखते हुए यह मामला मध्यस्थता सेंटर भेज दिया है। वहां दोनों की काउंसिलिंग की जा रही है।
DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना