• Hindi News
  • International
  • 107 Teens Awarded with gold for Launching, Their Own Projects, to Save Oceans, Plastic Pollution in California

अमेरिका / प्लास्टिक के खिलाफ 107 स्कूली छात्रों की टीम ने गोल्ड मेडल और 3.5 लाख रुपए जीते



कैलिफोर्निया के सांता मोनिका हाई स्कूल की टीम मरीन। कैलिफोर्निया के सांता मोनिका हाई स्कूल की टीम मरीन।
107 Teens Awarded with gold for Launching, Their Own Projects, to Save Oceans, Plastic Pollution in California
X
कैलिफोर्निया के सांता मोनिका हाई स्कूल की टीम मरीन।कैलिफोर्निया के सांता मोनिका हाई स्कूल की टीम मरीन।
107 Teens Awarded with gold for Launching, Their Own Projects, to Save Oceans, Plastic Pollution in California

  • कैलिफोर्निया के सांता मोनिका हाई स्कूल की टीम मरीन ने टॉप-डाउन, बॉटम-अप' स्पर्धा जीती
  • प्रतियोगिता में अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, भारत, नाइजीरिया, पिटकेर्न, वियतनाम के छात्र शामिल हुए

Dainik Bhaskar

Nov 12, 2019, 12:24 PM IST

कैलिफोर्निया.  सांता मोनिका हाई स्कूल ने प्लास्टिक प्रदूषण से बचने के लिए स्वयं का प्रोजेक्ट शुरू किया था। स्कूल के पर्यावरण क्लब के दल, जिसका नाम 'टीम मरीन' है, ने 'टॉप-डाउन, बॉटम-अप' स्पर्धा जीतकर गोल्ड मेडल तथा 5 हजार डॉलर का इनाम जीता है। साथ ही प्लास्टिक फ्री एमवी के लिए दो सिल्वर मेडल भी जीते। इसमें दो विजेताओं को 2,500 डॉलर प्रत्येक के अलावा संस्था बो सीट ने 1,000 डॉलर का एक कांस्य पुरस्कार भी दिया। 

 

इसी तरह तीन किशोरों ने 750, दो अन्य को 500 और छह स्टूडेंट ने 100 डॉलर के पुरस्कार जीते हैं। टीम मरीन के सदस्य सिरी स्टॉरस्टीन-नॉरगार्ड ने बताया कि सिल्वर मेडल उस टीम ने जीता, जिसने उत्तरी अमेरिका में पानी और सोडा के लिए प्लास्टिक की बोतलें बनाने पर रोक लगाने की पहल की।

 

अब तक 800 फ्रेशर्स बच्चों को प्रशिक्षित किया
किशोर आयु के 107 बच्चों ने प्लास्टिक प्रदूषण दूर करने के अभियान में हिस्सा लिया था। इतना ही नहीं, इस टीम ने प्लास्टिक प्रदूषण से कैसे निपटें, इसके लिए कई स्कूलों के 800 फ्रेशर्स बच्चों को प्रशिक्षित किया है। इस स्कूल ने प्लास्टिक प्रदूषण के बारे में एक व्यापक योजना पारित करने की सिफारिश भी की है, जिसमें स्कूली पाठ्यक्रम में पर्यावरण को बचाने के लिए लेसन शामिल करने की पैरवी की गई है। इस तरह एक चेन बनती चली जाएगी।

 

बो सीट की प्रतियोगिताएं 2016 से शुरू
बो सीट ओशन अवेयरनेस प्रोग्राम्स नामक संस्था के संस्थापक और अध्यक्ष लिंडा कैबोट ने कहा पानी हम सभी को जोड़ता है। समुद्री कचरा, खासकर प्लास्टिक सभी के लिए एक समस्या है। समुद्र तटीय शहर इससे बहुत प्रदूषित हो रहे हैं। हम नीचे से बदलाव चाहते हैं, इसलिए बच्चों को अभियान से जोड़ रहे हैं। जल्द ही यह एक आंदोलन का रूप लेगा। बो सीट की यह प्रतियोगिताएं 2016 से शुरू की गई थीं। यह संस्था समुद्री मलबे को कम करने का काम करती है। 

 

इन देशों के प्रतिभागी शामिल हुए
इस प्रतियोगिता में अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, भारत, नाइजीरिया, पिटकेर्न, वियतनाम और अन्य स्थानों से समुद्र और उसके बीच, किनारों की रक्षा करने के लिए काम करने वाले छात्र शामिल थे।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना