रूस-यूक्रेन जंग में अब तक 7 हजार नागरिकों की मौत:UN का दावा- 18 हजार लोग हताहत हुए, असली आंकड़ा ज्यादा भी हो सकता है

10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
UN की रिपोर्ट के अनुसार यूक्रेन में विस्फोटक हथियारों से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। - Dainik Bhaskar
UN की रिपोर्ट के अनुसार यूक्रेन में विस्फोटक हथियारों से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं।

आज रूस और यूक्रेन के बीच चल रही जंग को 11 महीने पूरे हो गए हैं। संयुक्त राष्ट्र (UN) की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, युद्ध की शुरुआत से लेकर 3 जनवरी 2023 तक 18,483 नागरिक हताहत हुए हैं। इनमें से 7,068 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। हालांकि UN का मानना है कि असली आंकड़ा इससे भी कहीं ज्यादा हो सकता है।

यूक्रेन में लाखों लोगों पर मौत का खतरा
UN ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि यूक्रेन में जारी जंग से लाखों लोगों पर मौत का खतरा मंडरा रहा है। साथ ही अनाधिकारिक तौर पर मरने वाले नागरिकों की संख्या कई गुना ज्यादा हो सकती है। यह खासकर मारियुपोल, खारकीव, लिसिचांस्क, पोपासना और लुहांस्क के लिए हैं, क्योंकि यहां आए दिन हमलों और लोगों के मारे जाने की खबरें आती रहती हैं।

UN के मुताबिक, यूक्रेन में जंग से मौत का आंकड़ा कहीं ज्यादा हो सकता है।
UN के मुताबिक, यूक्रेन में जंग से मौत का आंकड़ा कहीं ज्यादा हो सकता है।

रॉकेट-मिसाइल से हुईं सबसे ज्यादा मौतें
रिपोर्ट के अनुसार यूक्रेन में विस्फोटक हथियारों से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। इनमें तोपों से बमबारी, रॉकेट सिस्टम, मिसाइल और एयर स्ट्राइक शामिल हैं। बता दें कि कई देश हथियारों के जरिए यूक्रेन की मदद कर रहे हैं।

रविवार को जर्मनी ने पोलैंड के जरिए यूक्रेन को अपना लेपर्ड 2 टैंक देने की मंजूरी दे दी है। जर्मनी में बना लेपर्ड 2 टैंक दुनिया के खतरनाक टैंकों में से एक माना जाता है। अफगानिस्तान और सीरिया युद्ध में भी इसका इस्तेमाल किया जा चुका है।

तस्वीर में जर्मनी के चांसलर ओलाफ शोल्ज को लेपर्ड 2 टैंक के साथ देखा जा सकता है।
तस्वीर में जर्मनी के चांसलर ओलाफ शोल्ज को लेपर्ड 2 टैंक के साथ देखा जा सकता है।

यूक्रेन में भ्रष्टाचार बना परेशानी

जंग के साथ-साथ यूक्रेन के लोगों को भ्रष्टाचार भी परेशान कर रहा है। लगभग एक हफ्ते से राष्ट्रपति जेलेंस्की भ्रष्टाचार करने वालों से इस्तीफों पर साइन करवा रहे हैं। इसी बीच मंगलवार को यूक्रेन के डिप्टी डिफेंस मिनिस्टर याचेस्लाव शापोवालोव को भ्रष्टाचार से जुड़े एक स्कैंडल में फंसने के बाद इस्तीफा देना पड़ा। पूरी खबर पढ़ें...

रूस-यूक्रेन जंग से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें...

पुतिन बोले- जंग में जीत हमारी ही होगी: NATO ने यूक्रेन को हथियार देने का वादा किया; जेलेंस्की ने चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग को पत्र लिखा

24 फरवरी 2022 को शुरू हुई रूस-यूक्रेन जंग जारी है। इस बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन का कहना है कि जंग में जीत उनकी ही होगी। सेंट पीटर्सबर्ग में मिलिट्री फैक्ट्री वर्रकर्स को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा- जंग में हमारी जीत पक्की है। मुझे इस बात पर कोई डाउट नहीं है। पूरी खबर पढ़ें...

मां की लात-घूसों से की थी हत्या: यूक्रेन युद्ध में जान गंवाई तो रूस ने बनाया हीरो, लोग बोले- जिंदगी से प्यार करने वाला था

रूस ने 5 जनवरी को 46 साल के सर्गेई मोल्डोत्सोव नाम के अपने सैनिक का सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया। इस सैनिक की यूक्रेन के खिलाफ युद्ध में जान चली गई थी। रूसी सेना ने अंतिम विदाई देते हुए सर्गेई मोल्डोत्सोव को अपना हीरो माना। जबकि इस व्यक्ति ने अपनी मां की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। पूरी खबर पढ़ें...

खबरें और भी हैं...