अमेरिका / सामाजिक सौहार्द बनाए रखने के लिए 2 पुलिसकर्मी गाना गाते हैं, बच्चों के साथ खेलते भी हैं



माइकल नॉरवुड (बाएं) और मो बैजर। माइकल नॉरवुड (बाएं) और मो बैजर।
नॉरवुड और बैजर को लोग सिंगिंग कॉप्स कहकर बुलाते हैं। नॉरवुड और बैजर को लोग सिंगिंग कॉप्स कहकर बुलाते हैं।
X
माइकल नॉरवुड (बाएं) और मो बैजर।माइकल नॉरवुड (बाएं) और मो बैजर।
नॉरवुड और बैजर को लोग सिंगिंग कॉप्स कहकर बुलाते हैं।नॉरवुड और बैजर को लोग सिंगिंग कॉप्स कहकर बुलाते हैं।

  • न्यूयॉर्क की बफैलो काउंटी में तैनात माइकल नॉरवुड और मो बैजर रेस्त्रां और सड़क पर गाने गाते हैं
  • नॉरवुड और बैजर को लोग सिंगिंग कॉप्स कहते हैं, पुलिस की छवि बेहतर करने के लिए एक प्रोग्राम कॉप्स भी चला रहे

Dainik Bhaskar

Apr 18, 2019, 07:51 AM IST

न्यूयॉर्क. पुलिसकर्मी अमूमन लोगों की सुरक्षा के लिए काम करते हैं, लेकिन न्यूयॉर्क के बफेलो में तैनात दो पुलिसकर्मी गाने गाते हैं। इसका मकसद सामाजिक सौहार्द बरकरार रखना है।

रेस्त्रां में गाने गाते हैं

  1. माइकल नॉरवुड और मो बैजर एक रेस्त्रां में किसी प्रोफेशनल की तरह गाने गाते हैं। दोनों की म्यूजिकल जोड़ी के लोग दीवाने हैं। नॉरवुड के मुताबिक- लोग हमेशा कहते हैं कि आप लोग कब काम करना शुरू करते हैं? हम कहते हैं कि यही हमारे काम की ही तरह है। हमें यही पसंद है।

  2. नॉरवुड आगे कहते हैं- लोग हमें देखते ही गाने की सिफारिश करने लगते हैं। वे न नहीं सुनना चाहते। उन्हें इसकी भी परवाह नहीं होती कि क्या चल रहा है। लोग हमें सिंगिंग कॉप्स (गाना गाने वाले सिपाही) कहते हैं।

  3. नॉरवुड और बैजर अपने गाना गाने की वजह समाज को एकजुट रखने को बताते हैं। दोनों ने एक कार्यक्रम कॉप्स (सीओपीएसएस) भी शुरू किया है। इसके जरिए वे पुलिस को पारंपरिक छवि से बाहर निकालना चाहते हैं। नॉरवुड और बैजर बच्चों के साथ बॉस्केटबॉल भी खेलते हैं।

  4. दोनों कहते हैं- हमारी चीजों से लोगों के रवैये में बदलाव आया है। स्कूली बच्चे भी पुलिस को अच्छा समझने लगे हैं। पहले बच्चे हमसे डरते थे। अब कहते हैं कि हमें आपके जैसे बनना चाहते हैं। पुलिसवालों को ईमानदार नहीं माना जाता। यही सोच लोगों को पुलिस से दूर कर देती है। हमारा मिशन इस सोच को बदलना है। शायद हमारा मिशन काम कर रहा है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना