पाकिस्तान में 5.9 तीव्रता का भूकंप:बलूचिस्तान में इमारतें गिरने से 1 महिला और 6 बच्चों समेत 20 लोगों की मौत, 300 घायल; मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका

इस्लामाबाद2 महीने पहले
बलूचिस्तान के हरनेई शहर में भूकंप के कारण गिरे अपने मकान को देखता शख्स।

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के हरनेई इलाके में गुरुवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे तेज भूकंप के झटके महसूस किए गए। इसमें कम से कम 20 लोगों की मौत की खबर है। इनमें एक महिला और छह बच्चे शामिल हैं। करीब 300 लोग घायल भी हुए हैं।

रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 5.9 आंकी गई। US जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, इस भूकंप का केंद्र हरनेई शहर के पास जमीन से 15 किमी नीचे था। डिजास्टर मैनेजमेंट के अधिकारियों का कहना है कि रेस्क्यू शुरू कर दिया गया है। मृतकों का आंकड़ा और बढ़ सकता है।

दीवार गिरने से हुई कई लोगों की मौत
सरकारी अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के चलते दीवार गिरने से कई लोगों की जान गई। भूकंप के झटके बलूचिस्तान और क्वेटा के सिबी, पिशिन, मुस्लिम बाग, किला सैफुल्ला कचलक, हरनई और आसपास के इलाकों में महसूस किए गए। इसके बाद कई इलाकों में लोग घरों के बाहर सड़कों पर आकर बैठ गए।

भूकंप आने के बाद सड़क के किनारे आकर बैठे लोग।
भूकंप आने के बाद सड़क के किनारे आकर बैठे लोग।

कोयले की खदानों में 4 लोगों की मौत
इलाके के डिप्टी कमिश्नर सुहैल अनवर शाहीन ने बताया कि यहां की कोयले की खदानों में काम कर रहे कम से कम 4 लोग वहीं फंसकर मर गए। उनके मुताबिक, हरनई और शहराग शहरों में घरों की दीवारें और छत गिरने के बाद कई लोग मलबे के नीचे दबकर मर गए।

अस्पतालों में आपापताकाल लागू
भूकंप में दर्जनों निजी और सरकारी इमारतें जर्जर हो गईं। इन इलाकों में मरने वालों का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है। इस दौरान हरनई के सभी अस्पतालों में इमरजेंसी लागू कर दी गई है। डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को ड्यूटी पर तैनात कर दिया गया है।