पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

9/11 मेमोरियल म्यूजियम के चुनिंदा 10 फोटो:हर तस्वीर कुछ कहती है; कोई छुट्टी से वापस आया और फिर नहीं लौटा, कोई बचते-बचाते मारा गया

न्यूयॉर्क10 दिन पहले

ठीक 20 साल पहले अमेरिका में दुनिया का सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ था। करीब तीन हजार लोग मारे गए थे। ट्विन टॉवर का तो मलबा हटाने में ही दो साल लगे। अब ट्विन टॉवर की जगह फ्रीडम टॉवर है। इसमें ही मौजूद है 9/11 मेमोरियल म्यूजियम। यहां हमलों से जुड़ी हजारों निशानियां हैं। हर निशानी की अपनी कहानी है। कुछ उन लोगों की, जो खून के प्यासे आतंकियों का शिकार बने। कुछ ऐसे लोगों की जो खुशकिस्मत थे और बच गए। मारे गए लोगों के परिजनों ने भी इस म्यूजियम में अपनों की निशानियां और यादें सहेजने के लिए दान कर दीं। हजारों तस्वीरों में से 10 खास निशानियां यहां आपके लिए और उनकी संक्षिप्त जानकारी भी।

ये सैंडल्स लिन्डा रेच लोपेज के हैं। नॉर्थ टॉवर में लपटों को देखकर वे साउथ टॉवर के 97th फ्लोर से सीढ़ियां उतरने लगीं। तेजी से उतर सकें इसलिए सैंडल्स हाथ में ले लिए। 67th फ्लोर तक पहुंचीं। पैरों से खून रिसा तो तो सैंडल्स पहन लिए। फिर एलिवेटर से नीचे आ गईं। लिन्डा ने ये सैंडल्स म्यूजियम को डोनेट किए हैं।
ये सैंडल्स लिन्डा रेच लोपेज के हैं। नॉर्थ टॉवर में लपटों को देखकर वे साउथ टॉवर के 97th फ्लोर से सीढ़ियां उतरने लगीं। तेजी से उतर सकें इसलिए सैंडल्स हाथ में ले लिए। 67th फ्लोर तक पहुंचीं। पैरों से खून रिसा तो तो सैंडल्स पहन लिए। फिर एलिवेटर से नीचे आ गईं। लिन्डा ने ये सैंडल्स म्यूजियम को डोनेट किए हैं।
यह लैपल अमेरिकन एयरलाइंस के फ्लाइट अटेंडेंट कायरन रेम्से के हैं जो उन्होंने अपनी दोस्त सारा एलिजाबेथ को दिए थे। 28 साल की सारा उसी फ्लाइट में थीं जो नॉर्थ टॉवर से टकराई थी। सारा की मौत के बाद उनके पिता ने बतौर निशानी ये लैपल म्यूजियम में दान कर दिया।
यह लैपल अमेरिकन एयरलाइंस के फ्लाइट अटेंडेंट कायरन रेम्से के हैं जो उन्होंने अपनी दोस्त सारा एलिजाबेथ को दिए थे। 28 साल की सारा उसी फ्लाइट में थीं जो नॉर्थ टॉवर से टकराई थी। सारा की मौत के बाद उनके पिता ने बतौर निशानी ये लैपल म्यूजियम में दान कर दिया।
यह पेजर 25 साल की आंद्रिया लिन हेबरमैन का है। 11 सितंबर 2001 को वो पहली बार न्यूयॉर्क सिटी और नॉर्थ टॉवर गईं थीं। आंद्रिया शिकागो के रहने वाली थीं। कहा जाता है कि हेबरमैन वहां एक इंटरव्यू के सिलसिले में गईं थीं। उनकी मौत के बाद पेजर मलबे से मिला था।
यह पेजर 25 साल की आंद्रिया लिन हेबरमैन का है। 11 सितंबर 2001 को वो पहली बार न्यूयॉर्क सिटी और नॉर्थ टॉवर गईं थीं। आंद्रिया शिकागो के रहने वाली थीं। कहा जाता है कि हेबरमैन वहां एक इंटरव्यू के सिलसिले में गईं थीं। उनकी मौत के बाद पेजर मलबे से मिला था।
दो डॉलर का यह नोट 55 साल के रॉबर्ट जोसेफ जीसहार के वॉलेट से मिला था। हमले के वक्त वो साउथ टॉवर की 92वीं मंजिल पर अपने ऑफिस में थे। हमले के बाद उन्होंने पत्नी मार्टा से फोन पर कहा था- डरो मत, मैं सकुशल वापस आ जाऊंगा। हालांकि, वो फिर कभी नहीं लौटे।
दो डॉलर का यह नोट 55 साल के रॉबर्ट जोसेफ जीसहार के वॉलेट से मिला था। हमले के वक्त वो साउथ टॉवर की 92वीं मंजिल पर अपने ऑफिस में थे। हमले के बाद उन्होंने पत्नी मार्टा से फोन पर कहा था- डरो मत, मैं सकुशल वापस आ जाऊंगा। हालांकि, वो फिर कभी नहीं लौटे।
यह कुचला हुआ हेलमेट फायरफाइटर डेविड हेल्डरमैन का है। उनके पिता और भाई भी इसी जॉब में थे। माना जाता है कि साउथ टॉवर का मलबा सिर पर गिरने से उनकी मौत हुई थी। घटना के करीब एक महीने बाद भी उनका शव डिपार्टमेंट को नहीं मिल पाया था।
यह कुचला हुआ हेलमेट फायरफाइटर डेविड हेल्डरमैन का है। उनके पिता और भाई भी इसी जॉब में थे। माना जाता है कि साउथ टॉवर का मलबा सिर पर गिरने से उनकी मौत हुई थी। घटना के करीब एक महीने बाद भी उनका शव डिपार्टमेंट को नहीं मिल पाया था।
यह I.D. कार्ड अब्राहम जेल्मानोविच का है जो हमले के वक्त नॉर्थ टॉवर के 27वें फ्लोर पर अपने ऑफिस में थे। उनका एक सहयोगी व्हीलचेयर पर था, उसे बचाने के लिए वे खुद नीचे नहीं आ सके। बाद में दोनों की मौत हो गई। इसके पहले उन्होंने अपने घरवालों से फोन पर बात की थी।
यह I.D. कार्ड अब्राहम जेल्मानोविच का है जो हमले के वक्त नॉर्थ टॉवर के 27वें फ्लोर पर अपने ऑफिस में थे। उनका एक सहयोगी व्हीलचेयर पर था, उसे बचाने के लिए वे खुद नीचे नहीं आ सके। बाद में दोनों की मौत हो गई। इसके पहले उन्होंने अपने घरवालों से फोन पर बात की थी।
यह लिंक ब्रेसलेट 24 साल की येवेती निकोल मोरेनो का है। वे नॉर्थ टॉवर के 92वें फ्लोर पर एक कार शो रूम में कर्मचारी थीं। जब इस टॉवर से प्लेन टकराया तो येवेती ने मां को फोन कर कहा- फिक्र मत कीजिए, मैं घर के लिए निकल रही हूं। वे नीचे उतरीं तो ऊपर से मलबा आ गिरा और मौत हो गई।
यह लिंक ब्रेसलेट 24 साल की येवेती निकोल मोरेनो का है। वे नॉर्थ टॉवर के 92वें फ्लोर पर एक कार शो रूम में कर्मचारी थीं। जब इस टॉवर से प्लेन टकराया तो येवेती ने मां को फोन कर कहा- फिक्र मत कीजिए, मैं घर के लिए निकल रही हूं। वे नीचे उतरीं तो ऊपर से मलबा आ गिरा और मौत हो गई।
47 साल के जेम्स फ्रांसिस पुलिस अफसर थे। हमलों के वक्त सर्जरी के चलते छुट्टी पर थे। जैसे ही घटना की जानकारी मिली तो सिविल यूनिफॉर्म में यही बेसबॉल कैप लगाकर घटनास्थल पर पहुंच गए। ऊपर से गिरे मलबे में दबकर उनकी मौत हो गई। चार महीने बाद भी शव नहीं मिला था।
47 साल के जेम्स फ्रांसिस पुलिस अफसर थे। हमलों के वक्त सर्जरी के चलते छुट्टी पर थे। जैसे ही घटना की जानकारी मिली तो सिविल यूनिफॉर्म में यही बेसबॉल कैप लगाकर घटनास्थल पर पहुंच गए। ऊपर से गिरे मलबे में दबकर उनकी मौत हो गई। चार महीने बाद भी शव नहीं मिला था।
38 साल के जॉन विलियम पैरी पुलिस की नौकरी छोड़कर वकालात में कैरियर बनाना चाहते थे। उस दिन छुट्टी होने के बावजूद ड्यूटी पर पहुंच गए। कई लोगों की जिंदगी बचाई और अचानक मलबे में दब गए। कुछ दिनों बाद उनका बैज बिल्कुल सही सलामत मिला।
38 साल के जॉन विलियम पैरी पुलिस की नौकरी छोड़कर वकालात में कैरियर बनाना चाहते थे। उस दिन छुट्टी होने के बावजूद ड्यूटी पर पहुंच गए। कई लोगों की जिंदगी बचाई और अचानक मलबे में दब गए। कुछ दिनों बाद उनका बैज बिल्कुल सही सलामत मिला।
यह न्यूयॉर्क फायर डिपार्टमेंट लैडर-3 ट्रक है और हमले के वक्त ट्विन टॉवर के पास वेस्ट स्ट्रीट में था। टॉवर गिरे तो यह ट्रक पूरी तरह तबाह हो गया। सामने वाला हिस्सा तो अब नजर भी नहीं आता। यह ट्रक नेशनल मेमोरियल म्यूजियम में रखा गया है।
यह न्यूयॉर्क फायर डिपार्टमेंट लैडर-3 ट्रक है और हमले के वक्त ट्विन टॉवर के पास वेस्ट स्ट्रीट में था। टॉवर गिरे तो यह ट्रक पूरी तरह तबाह हो गया। सामने वाला हिस्सा तो अब नजर भी नहीं आता। यह ट्रक नेशनल मेमोरियल म्यूजियम में रखा गया है।