रियल हीरो बने स्लमडॉग मिलेनियर एक्टर देव:चाकूबाजी रोकने के लिए अपनी जिंदगी खतरे में डाली, पुलिस आने तक घायल व्यक्ति की हिफाजत की

कैनबरा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय मूल के अभिनेता देव पटेल ने अजनबी की जान बचाने के लिए अपनी जिंदगी खतरे में डाल दी। स्लम डॉग मिलेनियर फिल्म से मशहूर हुए देव चाकूबाजी की घटना को रोकने के लिए बीच में कूद पड़े। घायल व्यक्ति की हिफाजत के लिए वे पुलिस के आने तक वहीं डटे रहे।

देव ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड के रहने वाले हैं और ये घटना भी वहीं की है। मंगलवार को देव एडिलेड के एक जनरल स्टोर में अपने दोस्तों के साथ गए थे। स्टोर के पास ही एक कपल लड़ाई कर रहा था। लड़ाई करते-करते ये कपल स्टोर के काफी करीब आ गया। इस दौरान महिला ने पुरुष के सीने में चाकू मार दिया।

देव पटेल एडिलेड के गौगर स्ट्रीट पर चाकूबाजी के दौरान मौजूद थे, इसलिए पुलिस ने उनसे घटना के बारे में जानकारी ली।
देव पटेल एडिलेड के गौगर स्ट्रीट पर चाकूबाजी के दौरान मौजूद थे, इसलिए पुलिस ने उनसे घटना के बारे में जानकारी ली।

चाकू मारने वाली महिला गिरफ्तार, पुरुष की हालत गंभीर नहीं
ये मामला और बढ़ता इससे पहले ही देव और उनके दोस्त इस चाकूबाजी के बीच आ गए। घायल व्यक्ति की तब तक हिफाजत की, जब तक पुलिस और एंबुलेंस वहां नहीं आ गई। देव के प्रवक्ता ने कहा कि एक्टर ने अपनी नेचुरल इंस्टिंक्ट के मुताबिक ही व्यवहार किया।

मुझे लगता है कि वहां पर जो भी लोग हैं, वो ठीक हैं। पुलिस के मुताबिक, 32 साल के घायल व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती किया गया है और उसकी हालत ठीक है। महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है।

फैंस ने की देव की तारीफ
सोशल मीडिया पर फैंस देव पटेल की तारीफ कर रहे हैं। फैंस ने कहा कि खतरनाक स्थिति में भी किसी की जान बचाना तारीख के काबिल है। एक यूजर ने कहा- अजनबी के लिए अपनी जान खतरे में डालना। That's My Boy...

घटना के बाद मौके पर पहुंची एडीलेड की स्थानीय पुलिस। वे मामला दर्ज कर आगे की जांच कर रहे हैं।
घटना के बाद मौके पर पहुंची एडीलेड की स्थानीय पुलिस। वे मामला दर्ज कर आगे की जांच कर रहे हैं।

18 साल की उम्र में मिली थी स्लम डॉग मिलेनियर
देव पटेल 2008 में आई डैनी बॉयल की फिल्म स्लम डॉग मिलेनियर से दुनिया में मशहूर हुए। इस फिल्म ने 8 ऑस्कर अवॉर्ड जीते थे। इस फिल्म में देव के अलावा फ्रीडा पिंटो, अनिल कपूर भी थे। देव को 2016 में आई लॉयन फिल्म के लिए ऑस्कर में नॉमिनेशन मिला था।

इस फिल्म में उन्होंने एक ऐसे इंडियन बच्चे का किरदार निभाया था, जिसे ऑस्ट्रेलियन फैमिली ने अडॉप्ट किया। इसके अलावा लास्ट एयरबेंडर जैसी फिल्मों ने देव को दुनिया के साथ-साथ भारत में भी लोकप्रिय बनाया।