• Hindi News
  • International
  • After Corona, Now The New Variant Mu Has Raised Concerns; NS. Forest. Even The Vaccine Is Not Effective On This Virus Named Sixtoon; Children Are Getting Infected Fast In America

कोरोना के बाद अब नए वैरिएंट म्यू ने बढ़ाई चिंता:इस वायरस पर वैक्सीन भी असर नहीं कर रही; अमेरिका में बच्चे तेजी से संक्रमित हो रहे

जिनेवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमेरिका में एक महीने में रोज औसतन 330 बच्चे अस्पताल पहुंचे। (प्रतिकात्मक तस्वीर ) - Dainik Bhaskar
अमेरिका में एक महीने में रोज औसतन 330 बच्चे अस्पताल पहुंचे। (प्रतिकात्मक तस्वीर )

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि वह म्यू नामक नए कोरोना वायरस वैरिएंट की निगरानी कर रहा है। इसको पहली बार जनवरी में कोलंबिया में पहचाना गया था। डब्ल्यूूएचओ का कहना है कि वैज्ञानिक नाम बी. वन. सिक्सटूवन (B.1.621) वाले इसे वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट के रूप में वर्गीकृत किया गया है। इसमें वैक्सीन या संक्रमण से पैदा हुई एंटी बॉडीज से बचकर निकलने की क्षमता है। हालांकि इस बारे में और अध्ययन की जरूरत है। दुनिया में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट सामने आ रहे हैं।

चार वैरिएंट बढ़ा रहे चिंता

डब्ल्यूएचओ ने चार वैरिएंट की पहचान की है, जो चिंता की वजह हैं। इनमें अल्फा वैरिएंट 193 देशों में पाया गया है वहीं डेल्टा वैरिएंट 170 देशों में मौजूद है। इसके अलावा म्यू सहित पांच वैरिएंट को निगरानी सूची में शामिल किया जाना है।

विक्टोरिया में मामले बढ़े

ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में सख्त लॉकडाउन के बावजूद कोरोना केस बढ़ रहे हैं। इस कारण लॉकडाउन को तीन सप्ताह बढ़ा दिया गया है। उधर, अमेरिका में बच्चे तेजी से संक्रमित हो रहे हैं। एक महीने में रोज औसतन 330 बच्चे अस्पताल पहुंचे।

उत्तर कोरिया ने 29 लाख टीके लौटाने की पेशकश की

उत्तर कोरिया ने उसे दी जाने वाली 29 लाख 70 हजार चीन निर्मित सिनोवैक वैक्सीन को उन देशों को देने का प्रस्ताव किया है जहां पर कोविड-19 का प्रकोप ज्यादा है। यूनिसेफ के मुताबिक उत्तर कोरिया के ने कहा कि उसके यहां कोविड-19 के कोई मामले नहीं हैं। डब्लूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर कोरिया ने कहा है कि उसने 37,291 लोगों का कोविड परीक्षण किया था लेकिन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

खबरें और भी हैं...