चीन / ओवरटाइम करवाना प्रबंधन के अहम की निशानी- अखबार; जैक मा ने किया था 12 घंटे काम का समर्थन



जैक मा एक कार्यक्रम में चीन की एक्ट्रेस झाओ से चर्चा करते हुए। जैक मा एक कार्यक्रम में चीन की एक्ट्रेस झाओ से चर्चा करते हुए।
X
जैक मा एक कार्यक्रम में चीन की एक्ट्रेस झाओ से चर्चा करते हुए।जैक मा एक कार्यक्रम में चीन की एक्ट्रेस झाओ से चर्चा करते हुए।

  • चीन की सत्ताधारी पार्टी के अखबार पीपुल्स डेली ने लिखा- ओवरटाइम कर्मचारियों से अन्याय
  • अलीबाबा के फाउंडर मा ने पिछले हफ्ते कहा था- 8 घंटे की सोच रखने वालों की जरूरत नहीं

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2019, 01:35 PM IST

बीजिंग. अलीबाबा ग्रुप के फाउंडर जैक मा के ओवरटाइम का समर्थन करने से चीन में नौकरी और निजी जिंदगी में तालमेल को लेकर बहस छिड़ गई है। वहां की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के अखबार पीपुल्स डेली संपादकीय में लिखा है कि ओवरटाइम को जरूरी करना प्रबंधन के अहम को दर्शाता है। यह कर्मचारियों के साथ अन्याय और अव्यावहारिक है।

सोशल मीडिया पर भी जैक मा के बयान की निंदा हो रही

  1. चीन के सबसे अमीर व्यक्ति जैक मा ने पिछले हफ्ते कहा था कि उनकी कंपनी में नौकरी करने के लिए 12 घंटे काम करना जरूरी है। उन्हें 8 घंटे काम करने की सोच रखने वालों की जरूरत नहीं।

  2. जैक मा के बयान की सोशल मीडिया पर निंदा हो रही है। हालांकि, कुछ लोग इसका समर्थन भी कर रहे हैं क्योंकि चीन की अर्थव्यवस्था मंदी के दौर से गुजर रही है।

  3. काम से खुद को इम्प्रूव करना चाहिए: जैक मा

    निंदा करने वालों को जैक मा ने जवाब दिया कि काम करने में खुशी मिलनी चाहिए। इसमें अध्ययन के लिए समय होना चाहिए और खुद को इम्प्रूव करना चाहिए।

  4. पिछले कुछ महीनों से चीन में ओवरटाइम करवाने का मुद्दा चर्चाओं में है। ऐसी शिकायतें मिल रही हैं कि काम के लंबे घंटों की वजह से वहां जन्म दर कम है। कुछ कंपनियों के अधिकारियों की अचानक मौत होने की घटनाओं को भी ओवरटाइम से जोड़ा जा रहा है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना