अमेरिका में 5 दोस्तों का अनोखा रिवाज:40 साल से एक जगह पर मिलकर एक ही पोज में खिंचा रहे तस्वीर, न जगह बदली न अंदाज

वाशिंगटन10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लोग अक्सर अपने दोस्तों के साथ बिताए लम्हों को संजोने के लिए उन्हें तस्वीर में कैद कर लेते हैं। अमेरिका के पांच दोस्तों की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। खास बात यह है कि ये पांचों दोस्त 40 साल तक एक ही जगह पर मिलकर एक ही पोज में तस्वीरें खिंचवाते रहे। यह सिलसिला आज भी बदस्तूर जारी है।

जॉन डिक्सॉन, जॉन मोलोनी, मार्क रुमर, जॉन वर्डलॉ और डैलस बर्नी हाई स्कूल के जमाने से दोस्त हैं। ये पांचों 1970 से कैलिफोर्निया बॉर्डर के पास मौजूद कोप्को लेक के पास बने केबिन में मिलते रहे। 1982 से इन्होंने यहां पर एक खास पोज में तस्वीरें खींचना शुरू किया और यह सिलसिला आज 2022 में भी जारी है।

बाएं से दाएं- जॉन वर्डलॉ, मार्क रुमर-क्लेअरी, डैलस बर्नी, जॉन मोलोनी, और जॉन डिक्सॉन।
बाएं से दाएं- जॉन वर्डलॉ, मार्क रुमर-क्लेअरी, डैलस बर्नी, जॉन मोलोनी, और जॉन डिक्सॉन।
अब सिर्फ जॉन डिक्सॉन ही सांता बारबरा में रहते है, वह पेशे से एक टीचर है। जॉन मोलोनी एक फोटोग्राफर है, वह न्यू ऑरलींस में रहते है। मार्क रुमर और जॉन वर्डलॉ ऑरेगन में रहते है। जबकि, डैलस बर्नी कैलिफोर्निया में टीचर हैं।
अब सिर्फ जॉन डिक्सॉन ही सांता बारबरा में रहते है, वह पेशे से एक टीचर है। जॉन मोलोनी एक फोटोग्राफर है, वह न्यू ऑरलींस में रहते है। मार्क रुमर और जॉन वर्डलॉ ऑरेगन में रहते है। जबकि, डैलस बर्नी कैलिफोर्निया में टीचर हैं।
इन 5 दोस्तों का कोप्को लेक पर एक साथ आने के बाद, फोटो लेने के अलावा एक और रिवाज है। इस रिवाज का नाम टाको डिनर है, कोप्को लेक के किनारे बने केबिन में यह 5 दोस्त जाम होने के बाद साथ डिनर करते हैं।
इन 5 दोस्तों का कोप्को लेक पर एक साथ आने के बाद, फोटो लेने के अलावा एक और रिवाज है। इस रिवाज का नाम टाको डिनर है, कोप्को लेक के किनारे बने केबिन में यह 5 दोस्त जाम होने के बाद साथ डिनर करते हैं।
ये पांचों दोस्त जिस केबिन में मिलते हैं उसे वर्डलॉ के दादा ने बनाया था। ये सभी यहां मिलकर फिशिंग करते हैं।
ये पांचों दोस्त जिस केबिन में मिलते हैं उसे वर्डलॉ के दादा ने बनाया था। ये सभी यहां मिलकर फिशिंग करते हैं।
इन पांचो दोस्तों का यह रिवाज इंटरनेट पर बहुत वायरल हो रहा है। लोग इसको फ्रैंडशिप गोल्स का नाम दे रहे हैं।
इन पांचो दोस्तों का यह रिवाज इंटरनेट पर बहुत वायरल हो रहा है। लोग इसको फ्रैंडशिप गोल्स का नाम दे रहे हैं।
यह तस्वीरें वर्डलॉ के कैमरा से ली गई है। कैमरा के सेल्फ टाइमर का इस्तेमाल कर फोटो ली जाती रही है।
यह तस्वीरें वर्डलॉ के कैमरा से ली गई है। कैमरा के सेल्फ टाइमर का इस्तेमाल कर फोटो ली जाती रही है।
कुछ समय पहले, यह ग्रुप 5 से 4 होने के कगार पर था। जब जॉन डिक्सॉन को अपने कैंसर का पता चला। बाद में कैंसर की वजह से उनका एक पैर कांटना पड़ा था। जिसके बाद से अब वे ठीक हैं।
कुछ समय पहले, यह ग्रुप 5 से 4 होने के कगार पर था। जब जॉन डिक्सॉन को अपने कैंसर का पता चला। बाद में कैंसर की वजह से उनका एक पैर कांटना पड़ा था। जिसके बाद से अब वे ठीक हैं।
2017 के बाद जॉन को हुए कैंसर और कोरोना की वजह से यह ग्रुप मिल नहीं सका। हालांकि, जॉन डिक्सॉन अब ठीक है, लेकिन वह उन्हें चलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
2017 के बाद जॉन को हुए कैंसर और कोरोना की वजह से यह ग्रुप मिल नहीं सका। हालांकि, जॉन डिक्सॉन अब ठीक है, लेकिन वह उन्हें चलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
15 जून को इन्होंने अपनी 9वीं तस्वीर ली। इन दोस्तों के इस अनोखे रिवाज के बारे में दुनिया को 2017 में तब पता चला था जब CNN ने इन स्टोरी की थी।
15 जून को इन्होंने अपनी 9वीं तस्वीर ली। इन दोस्तों के इस अनोखे रिवाज के बारे में दुनिया को 2017 में तब पता चला था जब CNN ने इन स्टोरी की थी।