• Hindi News
  • International
  • Anchor Surrounded By Taliban Fighters Read The News, Appealed To The Scared People Not To Be Afraid, 42 Seconds Click Was Seen By 1 Million People

बंदूक की नोक पर न्यूज:तालिबानी लड़ाकों से घिरे एंकर ने पढ़ी खबर, डरते हुए लोगों से नहीं डरने की अपील की

काबुल5 महीने पहले

अमेरिका अफगानिस्तान छोड़कर चला गया। अब वहां तालिबान सत्ता में है। तालिबान जनता को भरोसा दिला रहा है कि उसके राज में किसी को डरने की जरूरत नहीं है। आम जनता 'इस्लामिक नियमों के अनुसार' निडर होकर रहे। महिलाएं बेफिक्र रहें और मीडिया आजादी से काम करे, लेकिन अफगानिस्तान से वायरल हो रहे वीडियो इससे उलट कहानी कह रहे हैं।

हाल ही में अफगानिस्तान के एक न्यूज चैनल के एंकर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें तालिबान के लड़ाके बंदूक लिए एंकर के पीछे खड़े और उसे घूर रहे हैं। एंकर भी डरा हुआ है, लेकिन वह वीडियो में इस्लामिक अमीरात की तारीफ कर रहा है। साथ ही प्रोग्राम देखने वाले लोगों से तालिबान से नहीं डरने की अपील भी कर रहा है, जबकि उसके खुद के चेहरे के एक्सप्रेशन बदले हुए हैं। न्यूज की 42 सेकंड की इस क्लिप को 10 लाख से ज्यादा लोग देख चुके हैं।

तालिबान ने कई पत्रकारों को पीटा
सत्ता बदलते ही अफगानिस्तान में कई पत्रकारों पर हमले हो चुके हैं। उनके परिवार को परेशान किया जा रहा है। रिपोर्टर और कैमरामैन को सड़क पर पीट दिया जाता है। तालिबान बातें शांति की और काम हिंसा, अशांति और डर फैलाने वाला कर रहा है।

स्कूलों में अलग-अलग पढ़ेंगे लड़के और लड़कियां
अफगानिस्तान के उच्च शिक्षा मंत्रालय के कार्यवाहक मंत्री अब्दुल बकी हक्कानी ने ऐलान किया कि अब स्कूलों में लड़के और लड़कियां अलग-अलग पढ़ेंगे। नई सरकार में जल्द ही स्कूलों में लड़के और लड़कियों के लिए अलग अलग क्लासरूम की व्यवस्था करेगी।

तालिबान ने किया आजादी का ऐलान

अमेरिकी सैनिकों के जाते ही तालिबान ने काबुल एयरपोर्ट पर कब्जा कर लिया है।
अमेरिकी सैनिकों के जाते ही तालिबान ने काबुल एयरपोर्ट पर कब्जा कर लिया है।

तालिबान के अल्टीमेटम से पहले ही अमेरिकी सेना ने अफगानिस्तान छोड़ दिया। रात करीब 12 बजे काबुल एयरपोर्ट से अमेरिकी सेना का आखिरी दल रवाना हुआ। इसके साथ ही अमेरिकी सेना के यहां 20 साल चले संघर्ष का अंत हो गया। इधर, अमेरिकी सेना की विदाई हुई और उधर तालिबान ने अफगानिस्तान की आजादी का ऐलान कर दिया। तालिबान ने कहा है कि इस जंग में हमारी जीत हुई है। यह घुसपैठियों के लिए एक सबक है।

तालिबान अमेरिका से अच्छे रिश्ते चाहता है
काबुल एयरपोर्ट पर रिपोर्टर्स से बात करते हुए तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा, ‘यह ऐतिहासिक मौका है और हमारा मुल्क अब आजाद है। मैं सभी अफगानियों को जीत की बधाई देता हूं। हम अमेरिका समेत पूरी दुनिया के साथ अच्‍छे रिश्‍ते कायम करना चाहते हैं।’

US ने समय से 24 घंटे पहले अफगानिस्तान छोड़ा
तालिबान के साथ हुए समझौते के तहत अमेरिका को 31 अगस्त से तक पूरी तरह अफगानिस्तान को छोड़ देना था, लेकिन अमेरिका 24 घंटे पहले ही अफगानिस्तान से निकल गया। जैसे ही अमेरिका के चार C-17 सैन्य परिवहन विमानों ने काबुल एयरपोर्ट से उड़ान भरी, तालिबान के लड़ाकों ने जश्न में फायरिंग शुरू कर दी।

खबरें और भी हैं...