यूएस / पार्टी कर रहे 2 दोस्तों के पास गिरा घायल बेबी बर्ड; नशे में थे इसलिए टैक्सी कर उसे अकेले रेस्क्यू सेंटर भेजा



Animal rescuers from the Wildlife Rehabilitation Center of Northern Utah, baby bird, Tim Crowley
Animal rescuers from the Wildlife Rehabilitation Center of Northern Utah, baby bird, Tim Crowley
X
Animal rescuers from the Wildlife Rehabilitation Center of Northern Utah, baby bird, Tim Crowley
Animal rescuers from the Wildlife Rehabilitation Center of Northern Utah, baby bird, Tim Crowley

  • टिम और उसके दोस्त ने चिड़िया के बच्चे को कैब से रेस्क्यू सेंटर भेजा, क्योंकि ज्यादा पीने से वे गाड़ी चला नहीं सकते थे 
  • वर्ल्डलाइफ रीहबिलटैशन सेंटर ने टिम को इतना बेहतर सोचने के लिए धन्यवाद दिया

Dainik Bhaskar

Jul 09, 2019, 06:46 PM IST

यूटाह. अमेरिका के पश्चिमी शहर यूटाह के उत्तरी भाग के क्लिटन इलाके में  दो दोस्तों ने चिड़िया के घायल बच्चे को अकेले इलाज के लिए कैब से वाइल्ड लाइफ रेस्क्यू सेंटर भेजा। अब वह स्वस्थ है। रेस्क्यू सेंटर के चेयरमैन बुज मारथालर ने कहा कि यह हमारे लिए क्रैजी था, क्योंकि चिड़िया का छोटा बच्चा उबर टैक्सी से हमारे पास पहुंचा था। बुज ने इसकी एक फोटो सोशल मीडिया पर भी शेयर की।

अधिकारियों ने देरी नहीं करने की हिदायत दी

  1. दरअसल, टिम और उसका दोस्त वीकएंड पर पार्टी कर रहे थे। तभी चिड़िया का बच्चा उनके पास आकर गिरा। थोड़ी देर दोनों को कुछ समझ नहीं, क्योंकि वे काफी शराब पीए थे। उन्होंने इसे उड़ाने की कोशिश की,लेकिन वह उड़ भी नहीं पा रहा था। तभी टिम ने उसे उठाया और रेस्क्यू सेंटर को कॉल किया, लेकिन अधिकारियों ने टिम से ही उसे सेंटर तक पहुंचाने को कहा। साथ ही देरी नहीं करने की हिदायत दी।

  2. अफसर के अलर्ट के बाद दोनों परेशान हो गए, क्योंकि ज्यादा शराब पीने की वजह से वे गाड़ी चलाने में सक्षम नहीं थे। काफी देर सोचने के बाद टिम को आइडिया आया कि क्यों न हम उबर टैक्सी से बर्ड को सेंटर भेज दें। पहले उनके दोस्त को यह मजाक लगा। उसने पूछा, क्या उबर ड्राइवर तैयार होगा? इस पर टिम ने कहा, क्यों नहीं होगा? आखिर हम उसे इसका भुगतान कर रहे हैं।

     

    aa

    टैक्सी में बैठा बेबी बर्ड।

  3. इसके बाद टिम ने फौरन उबर को सर्च किया और ऑर्डर बुक कर दिया। जल्द ही एक गाड़ी टिम के पास पहुंची। ड्राइवर को जैसे ही टिम ने बताया कि उसका पैसेंजर कोई व्यक्ति नहीं, एक बेबी बर्ड है, तो ड्राइवर ने दोनों की ड्रिंकिंग कंडीशन समझ कर बुकिंग कैंसिल कर दी। थोड़ी देर बाद दूसरी टैक्सी आई, जिसकी ड्राइवर महिला थी। दोनों ने उसे समझाया। फिर उसने बेबी बर्ड को रेस्क्यू सेंटर तक पहुंचाया।

  4. टैक्सी जैसे ही वर्ल्डलाइफ रीहबिलटैशन सेंटर पहुंची, तो सभी अचरज में पड़ गए। अधिकारियों ने फौरन ही बर्ड को इलाज शुरू कर दिया। बचाव कर्मियों ने इस बेबी बर्ड का नाम ‘पेटे उबर’रखा। साथ ही कहा, वे इसके ठीक होते ही गर्मियों के प्रवासी सीजन के दौरान जंगल में छोड़ देंगे। साथ ही टिम को इतना बेहतर सोचने के लिए सेंटर ने धन्यवाद दिया।
     

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना