इमरान खान के खिलाफ अरेस्ट वारंट:कुछ ही घंटे पहले माफी मांगने की बात कही थी, महिला जज पर किया था कमेंट

इस्लामाबाद2 महीने पहले

पाकिस्तान के पूर्व PM और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) चीफ इमरान खान के खिलाफ शनिवार को अरेस्ट वारंट जारी किया गया। यह वारंट इस्लामाबाद के मारगल्ला पुलिस स्टेशन के मजिस्ट्रेट ने जारी किया है। खान के खिलाफ महिला जज पर कमेंट करने का आरोप है। 20 अगस्त को इस्लामाबाद में एक रैली के दौरान इमरान ने महिला जज जेबा चौधरी और पुलिस अधिकारियों को खुलेआम धमकी दी थी।

उन्होंने यह धमकी अपने दोस्त शहबाज गिल की गिरफ्तारी के बाद दी थी। खान के खिलाफ अगस्त में भी एंटी टेररिज्म एक्ट के तहत अरेस्ट वारंट जारी हुआ था। यह वारंट खान की ओर से शनिवार को एफिडेविट जमा करने के कुछ ही घंटों के बाद आया, जिसमें खान ने कहा था कि वह अपनी गलती के लिए माफी मांगने को तैयार हैं।

अदालती कार्रवाई मानने की बात भी कही
इस्लामाबाद हाईकोर्ट में जमा किए गए एफिडेविट में खान ने माना है कि उन्होंने 20 अगस्त की एक पब्लिक रैली अपनी सीमा लांघी। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने एफिडेविट का हवाला देते हुए बताया कि खान ने अदालत को आश्वासन दिया कि वह भविष्य में ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे, जिससे किसी भी अदालत और न्यायपालिका, खासकर निचली न्यायपालिका की गरिमा को ठेस पहुंचे।

खान ने यह भी कहा कि पिछली सुनवाई में अदालत के सामने उन्होंने जो बातें कही उसका पूरी तरह से पालन करेंगे। साथ ही अदालती कार्रवाई मानने के लिए भी तैयार हैं। खान ने आगे कहा कि अगर जज को लगता है कि उन्होंने रेड लाइन क्रॉस की है तो वह माफी मांगने को तैयार हैं।

इमरान खान के साथ एक फ्लाइट में मौजूद उनके चीफ ऑफ स्टाफ शहबाज गिल। गिल के पास पाकिस्तान के अलावा अमेरिकी नागरिकता भी है। (फाइल)
इमरान खान के साथ एक फ्लाइट में मौजूद उनके चीफ ऑफ स्टाफ शहबाज गिल। गिल के पास पाकिस्तान के अलावा अमेरिकी नागरिकता भी है। (फाइल)

इमरान ने क्या कहा था?
इमरान ने 20 अगस्त को इस्लामाबाद के F9 पार्क में आयोजित एक रैली के दौरान कहा था- पाकिस्तान की पुलिस किसी के निर्देश पर मेरे पार्टी लीडर्स को गिरफ्तार कर रही है। जब मैंने पुलिस से पूछा कि शहबाज गिल को क्यों गिरफ्तार किया गया है, तो पुलिस का कहना था कि वे सिर्फ ऑर्डर्स फॉलो कर रहे हैं।

इतना ही नहीं, खान ने एक महिला जज पर अपनी पार्टी के खिलाफ पक्षपात वाला रवैया अपनाने का आरोप लगाया और उसे देख लेने की धमकी दी। उन्होंने कहा- ज्यूडिशियरी को भी परिणामों के लिए खुद को तैयार कर लेना चाहिए। खान ने गिल को रिमांड पर लिए जाने का आदेश देने वाली महिला जज को भी धमकी देते हुआ कहा कि जज को खिलाफ भी एक्शन लिया जाएगा। इसके लिए जज तैयार रहें।

इमरान के खिलाफ 4 धाराओं में FIR
इमरान के खिलाफ पाकिस्तानी पेनल कोड (PPC) की 4 धाराओं में FIR दर्ज की गई है। इनमें 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा), 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान), 189 (लोक सेवक को हमले की धमकी), और 188 ( पब्लिक सर्वेंट के आदेश को नकारना) शामिल है।