पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कर्मचारी ने वर्जीनिया के ऑफिस में अंधाधुंध गोलियां चलाईं, 11 लोगों की मौत, 6 जख्मी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस ने बताया- हमलावर वर्जीनिया का ही सरकारी कर्मचारी, जवाबी फायरिंग में मारा गया
  • अमेरिका में इस साल मास शूटिंग की 150 घटनाएं हो चुकी हैं

वॉशिंगटन. अमेरिका के वर्जीनिया बीच शहर में शुक्रवार शाम एक बंदूकधारी ने अंधाधुंध फायरिंग की। घटना नगरपालिक के कार्यालय में हुई। इसमें 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच जख्मी हैं। पुलिस ने जवाबी गोलीबारी में हमलावर को मार गिराया। बताया जा रहा है कि वह शहर के एक सरकारी दफ्तर में नौकरी करता था। गन वायलेंस को लेकर काम कर रही वॉशिंगटन की संस्था के मुताबिक, अमेरिका में इस साल मास शूटिंग की 150 घटनाएं हो चुकी हैं।

 

वर्जीनिया के पुलिस चीफ जेम्स सर्वेरा ने बताया कि हमलावर स्थानीय समयानुसार शाम करीब 5 बजे नगरपालिका दफ्तर में घुसा और अचानक उसने कर्मचारियों पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं। फिलहाल, घटना के पीछे का मकसद साफ नहीं हो पाया है। एफबीआई के अधिकारी भी जांच के लिए घटनास्थल पर पहुंचे हैं।

 

कर्मचारियों ने मेज के नीचे छिपकर जान बचाई 
गोलीबारी की चश्मदीद कर्मचारी मेगन ने बताया कि जैसे ही दफ्तर में फायरिंग शुरू हुई। मैं 20 साथियों के साथ मेज के नीचे छिप गई। हमने तुरंत इमरजेंसी नंबर पर कॉल किया, पुलिस के आने तक कई बार गोलियां चलने की आवाज सुनाई देती रही।

 

मेयर बोले- मारे गए लोग मेरे दोस्त थे

वर्जीनिया बीच के मेयर बॉबी डेर ने कहा कि यह शहर के इतिहास का सबसे विनाशकारी दिन है। घटना में जो लोग मारे गए या जख्मी हुए वे सभी हमारे दोस्त और सह-कर्मचारी हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भी शूटिंग की घटना पर नजर रख रहे हैं।