• Hindi News
  • International
  • BAN ON BURKA IN SWITZERLAND, 51 Percent Of People Voted In Favor Of Referendum, Now Women Will Not Be Able To Completely Cover Face In Public Places

स्विट्जरलैंड में बुर्का बैन करने की तैयारी:51% लोगों ने बुर्का बैन करने के पक्ष में वोट दिए, कानून बना तो महिलाएं सार्वजनिक जगहों पर पूरी तरह चेहरा नहीं ढंक सकेंगी

स्विजरलैंड9 महीने पहले
स्विट्जरलैंड में काफी दिनों से बुर्का बैन करन की मांग की जा रही थी। इसी अभियान से जुड़े पोस्टर के सामने से गुजरती महिला, जिसने कोरोना से सतर्कता के मद्देनजर फेस्क मास्क पहना हुआ है।

स्विट्जरलैंड में बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है। रविवार को हुए जनमत संग्रह में यहां के 51.21% लोगों ने बुर्के पर रोक लगाने के पक्ष में वोट दिए। माना जा रहा है कि यहां अब इस पर कानून बनाया जा सकता है। करीब एक महीने पहले यह प्रस्ताव लाया गया था। इसका लोगों ने विरोध किया तो सरकार ने जनमत संग्रह कराने का फैसला किया। इस पर कानून बना तो यहां महिलाएं सार्वजनिक जगहों पर पूरी तरह से मुंह ढंककर नहीं निकल सकेंगी।

स्विस पीपुल्स पार्टी (SPV) समेत अन्य समूहों ने अपने प्रस्ताव में कहीं भी इस्लाम का जिक्र नहीं किया था। इसके बावजूद यहां की मीडिया में इस प्रस्ताव को बुर्का बैन कहा गया और इसे इस्लाम के खिलाफ माना गया। स्विट्जरलैंड की आबादी करीब 86 लाख है। इसमें 5.2% मुस्लिम हैं।

धार्मिक स्थानों पर छूट रहेगी
CNN के मुताबिक, स्विट्जरलैंड में सार्वजनिक जगहों जैसे पब्लिक ऑफिस, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, रेस्ट्रां, दुकान और अन्य जगहों पर महिलाएं अपना चेहरा पूरी तरह से नहीं ढंक सकेंगी। हालांकि, पूजा करने के स्थान और अन्य धार्मिक स्थानों पर इसकी छूट रहेगी।

सुरक्षा कारणों से लिया गया फैसला
बीमारी की रोकथाम और सुरक्षा कारणों के चलते भी महिलाएं बुर्का पहन सकेंगी और कॉर्निवल जैसी जगहों में भी महिलाओं को ऐसा करने की इजाजत होगी, जहां मुंह ढंकने का रिवाज सालों से चला आ रहा है। स्विट्जरलैंड की सरकार के प्रपोजल में विदेश से आने वाले टूरिस्ट और अन्य लोगों को भी कोई छूट नहीं दी गई है।

यहां बुर्का कोई नहीं पहनता, 30% महिलाएं नकाब पहनती हैं
इस साल की शुरुआत में लूसर्न यूनिवर्सिटी के सर्वे में दावा किया था कि स्विट्जरलैंड में महिलाएं बुर्का नहीं पहनतीं। हालांकि, 30% महिलाएं सार्वजनिक स्थानों पर जाने के दौरान नकाब या हिजाब से चेहरा ढंकती हैं। बुर्का में पूरे शरीर को ढंका जाता है, जबकि नकाब या हिजाब से सिर्फ चेहरा ढंका जाता है।

इन देशों में चेहरा ढंकने पर पहले से रोक
फ्रांस ने 2011 में चेहरे को पूरी तरह से ढंकने पर बैन लगा दिया था। डेनमार्क, ऑस्ट्रिया, नीदरलैंड और बुलगारिया में भी सार्वजनिक जगहों पर बुर्का पहनने पर रोक है।

खबरें और भी हैं...