• Hindi News
  • International
  • Ban On Pakistanis To Install Chinese Vaccine; China Also Gave Vaccines To Saudi Under Vaccine Diplomacy, Which They Did Not Use.

सऊदी अरब का कड़ा फैसला:चीनी वैक्सीन लगवाने वाले पाकिस्तानियों पर रोक; चीन ने वैक्सीन डिप्लोमेसी के तहत सऊदी को भी टीके दिए थे, जो इस्तेमाल ही नहीं किए

रियाद / इस्लामाबाद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दो दिन पहले लिए गए फैसले में ऐसे पाकिस्तानियों को क्वारेंटाइन में रहना अनिवार्य किया गया था, लेकिन अब उनकी एंट्री ही बैन कर दी गई है। फाइल फोटो - सऊदी के फ्रिंस सलमान और पाक पीएम - इमरान खान - Dainik Bhaskar
दो दिन पहले लिए गए फैसले में ऐसे पाकिस्तानियों को क्वारेंटाइन में रहना अनिवार्य किया गया था, लेकिन अब उनकी एंट्री ही बैन कर दी गई है। फाइल फोटो - सऊदी के फ्रिंस सलमान और पाक पीएम - इमरान खान

सऊदी अरब ने पाकिस्तानी नागरिकों को लेकर कड़ा फैसला लिया है। उसने दो दिन पहले लिए गए फैसले में महत्वपूर्ण बदलाव कर दिया है। इसके तहत चीन की वैक्सीन लगवा चुके पाकिस्तानियों को सऊदी अरब का वीजा नहीं मिलेगा, यानी उन्हें आने की इजाजत नहीं होगी। दो दिन पहले लिए गए फैसले में ऐसे पाकिस्तानियों को क्वारेंटाइन में रहना अनिवार्य किया गया था, लेकिन अब उनकी एंट्री ही बैन कर दी गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक सऊदी अरब ने कहा है कि वो उन पाकिस्तानियों को किसी भी तरह का वीजा जारी नहीं करेगा, जिन्होंने चीन में बनी वैक्सीन लगवाई है। इसकी वजह यह है कि सऊदी सरकार ने चीन की साइनोवैक और साइनोफार्म के टीके को मंजूरी नहीं दी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, हालांकि उन पाकिस्तानियों को राहत दी गई है, जिन्होंने चीनी वैक्सीन नहीं लगवाई है। लेकिन उन्हें निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही 14 दिन का क्वारेंटाइन भी पूरा करना होगा, वह भी अपने खर्चे पर। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान हाल ही में सऊदी अरब के दौरे से लौटे हैं, इसके तुरंत बाद सऊदी ने नया फरमान जारी कर इमरान सरकार की मुसीबतें बढ़ा दी हैं।

दिलचस्प बात यह है कि चीन ने वैक्सीन डिप्लोमैसी के तहत सऊदी अरब को भी वैक्सीन भेजी थीं, लेकिन उसने इनका इस्तेमाल ही नहीं किया। सऊदी ने अभी तक सिर्फ 4 टीकों को ही अनुमति दी है। इनमें फाइजर, एस्ट्राजेनेका, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन हैं।

खबरें और भी हैं...