कैपिटल हिल्स हिंसा मामले में बड़ा खुलासा:ट्रम्प के झूठ का साथ देने वाले नेताओं को बड़ी कंपनियों ने पैसा दिया, डोनेशन से हुआ खेल

वॉशिंगटन5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के झूठ को आगे बढ़ाने में अमेरिका की बड़ी-बड़ी कंपनियों का भी हाथ रहा है। वे ट्रम्प के झूठ, नफरत और हिंसा फैलाने की गतिविधियों के बावजूद उनके समर्थक रिपब्लिकन का वित्तपोषण कर रही थीं।

ऐसा 6 जनवरी 2020 को कैपिटल हिल्स पर हमले के बाद भी हुआ। हिंसा के तुरंत बाद सैकड़ों कॉर्पोरेट ने ऐसे रिपब्लिकन सांसदों को पैसा दान करने पर रोक लगाने की घोषणा की, जिन्होंने जो बाइडेन की जीत को प्रमाणित करने के खिलाफ मतदान किया था।

39 रिपब्लिकन सांसदों को 48 लाख रुपए मिले
टोयोटा के प्रवक्ता ने हमले के एक हफ्ते बाद कहा था कि हाल की घटनाओं और कैपिटल पर हुए भयानक हमले को देखते हुए कंपनी अपने दान देने के मानदंडों को फिर से तय कर रही है। इसके बावजूद टोयोटा ने 1 अप्रैल 2021 तक 39 रिपब्लिकन सांसदों को 48 लाख रुपए दिए। ट्रम्प के करीबी सहयोगी और उनके हर झूठ का साथ देने वाले एरिजोना के रिपब्लिकन सांसद रहे एंडी बिग्स को 78 हजार रुपए से ज्यादा का नकद दान दिया था।

हालांकि, टोयोटा ने इस बारे में कहा है कि वह दोनों पक्षों को समान रूप से दान करती है। कंपनी उन लोगों का समर्थन नहीं करेगी, जो अपने शब्दों और कार्यों से हिंसा भड़काने वाला माहौल बनाते हैं। 6 जनवरी 2020 की घटना के डेढ़ साल बाद ही कंपनियां अपना वादा भूल गईं और ऐसे नेताओं को खुलकर दान दे रही हैं।

फॉर्च्यून 500 कंपनियों ने 11 करोड़ रुपए दान दिए
अकेले अप्रैल के महीने में फॉर्च्यून 500 में शामिल कंपनियों और व्यापार संगठनों ने कांग्रेस के सदस्यों को करीब 11 करोड़ रुपए (14 लाख डाॅलर) से अधिक दान दिए। ये दान उन नेताओं काे मिला, जिन्होंने चुनाव परिणामों को प्रमाणित करने के विराेध में मतदान किया था।