चीन में अचानक गिरी 8 मंजिला बिल्डिंग:बिल्डिंग में चल रहा था होटल और सिनेमा; 39 लोग लापता, 23 मलबे के अंदर फंसे

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चीन में अचानक एक बिल्डिंग भरभराकर गिर जाने से उसके मलबे में 23 लोग फंस गए, जबकि कुल 39 लोग लापता बताए जा रहे हैं। चीन के सेंट्रल प्रांत हुनान के शहर चांगसा में हादसे का शिकार हुई 8 मंजिला बिल्डिंग के अंदर होटल और सिनेमाघर चल रहे थे। शुक्रवार को हुए इस हादसे के बाद बिल्डिंग की जगह के सामने सड़क में भी एक बेहद गहरा गड्ढा बन गया है।

बचाव दल कर रहा मलबा हटाने की कोशिश
चांगसा शहर की डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी का बचाव दल मौके पर मलबा हटाकर अंदर फंसे हुए लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रहा है। शहर के मेयर झेंग जियानजिन ने रिपोर्टर्स से बताया कि अब तक 5 लोगों को रेस्क्यू टीम निकाल चुकी है। बाकी लोगों को निकालने के लिए मलबे में मशीनों से रास्ता बनाया जा रहा है, लेकिन 39 लापता लोगों से किसी प्रकार का संपर्क नहीं हो पाया है। यह स्पष्ट नहीं है कि ये लोग भी मलबे के अंदर दबे हुए हैं या हादसे से पहले ही बाहन निकल चुके थे।

बीच में मौजूद ध्वस्त हुई बिल्डिंग।
बीच में मौजूद ध्वस्त हुई बिल्डिंग।

बिल्डिंग में रिहाइशी फ्लैट्स भी बने हुए थे
बिल्डिंग में होटल और सिनेमाघर के अलावा रिहाइशी फ्लैट्स भी बने हुए थे, जिनमें लोग रह रहे थे। इसके चलते जान-माल का ज्यादा नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है। मेयर झेंग ने कहा, लापता लोगों की सिचुएशन का आकलन किया जा रहा है।

सिटी अथॉरिटी ने जारी नहीं की है ऑफिशियल रिलीज
हालांकि हादसे को 24 घंटे से ज्यादा समय बीतने के बावजूद सिटी अथॉरिटी ने मरने या घायल होने वालों की कोई ऑफिशियल जानकारी जारी नहीं की है, लेकिन इतना बताया है कि 5 लोग शुक्रवार रात में ही मलबे से निकाल लिए गए थे।

सरकारी मीडिया में फायर फाइटर्स को भारी मशीनों की मदद से कंक्रीट और मेटल के टुकड़ों को काटकर रास्ता बनाने की कोशिश करते दिखाया गया है। साथ रेस्क्यू टीम बिल्डिंग के मलबे में चिल्लाकर फंसे हुए लोगों की जानकारी लेने की कोशिश करती दिखाई दी है। रेस्क्यू टीम के लोग स्पॉट पर पहुंचे आम लोगों की मदद से मानव चेन बनाकर मलबे को हाथ से हटाकर विशेषज्ञों के लिए जगह बनाने की कोशिश करते हुए भी दिखाई दिए हैं।

रेस्क्यू टीम ने शुक्रवार रात में ही बचाव अभियान शुरू कर दिया था।
रेस्क्यू टीम ने शुक्रवार रात में ही बचाव अभियान शुरू कर दिया था।

खोजी कुत्तों की मदद से बचाए 5 लोग
सरकारी मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक, शुक्रवार देर रात में ही खोजी कुत्तों ने मलबे में जिंदा लोगों के दबे होने का संकेत दिया। इसके बाद किसी तरह से बेहद पतला रास्ता बनाकर मलबे के अंदर से 5 घायलों को निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

हालांकि अब तक अथॉरिटी ऑफिशियल्स ने इस हादसे का स्पष्ट कारण भी नहीं बताया है, लेकिन अनुमान लगाया जा रहा है कि पुरानी बिल्डिंग पर जरूरत से ज्यादा निर्माण कर लिए जाने के कारण वजन के चलते वह ध्वस्त हो गई है।

शनिवार को भी मलबा हटाने का काम चल रहा था।
शनिवार को भी मलबा हटाने का काम चल रहा था।

जिनपिंग ने कहा- हर कीमत पर करो पीड़ितों को तलाश
सरकारी टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने 'किसी भी कीमत पर' पीड़ितों की तलाश करने के आदेश दिए हैं। साथ ही जांच के जरिए बिल्डिंग गिरने के कारणों का पता लगाने का भी आदेश दिया है।

हादसे के तत्काल बाद ही सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के शीर्ष अधिकारी स्टेट काउंसिलर वांग यॉन्ग को मौके पर रवाना किया गया था, जिससे हादसे की भयावहता का अंदाजा लगाया जा सकता है। शनिवार को एक ऑफिशियल बयान में कहा गया कि वांग रेस्क्यू वर्क कर रही टीम को लीड कर रहे हैं।

आम बात है चीन में बिल्डिंग का ढहना
बेहद कमजोर सेफ्टी व कंस्ट्रक्शन स्टेंडर्ड्स के कारण चीन में बिल्डिंग्स का गिरना आम बात है। इसके अलावा बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन पर नजर रखने वाले एनफोर्समेंट डिपार्टमेंट के अधिकारी भी भ्रष्टाचार के लिए बेहद बदनाम हैं। चीन में हाल ही में हुए हादसे निम्न प्रकार हैं-

  • जनवरी में चोंगकिंग शहर की एक बिल्डिंग संदिग्ध गैस लीक के कारण विस्फोट से ढह गई थी और दर्जन भर से ज्यादा लोग मारे गए थे।
  • जून 2021 में शियान शहर के एक आवासीय परिसर में गैस ब्लास्ट हुआ था। इस हादसे में 25 लोगों की मौत हुई थी।
  • जून 2021 में ही एक मार्शल आर्ट स्कूल में आग लग जाने से 18 स्टूडेंट्स की मौत हो गई थी।