पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • International
  • Carbon Dioxide Increased 50% More Than 300 Years In The Atmosphere, It Took 25 Years To Increase Its Quantity By 25%

2021 हाेगा सबसे ज्यादा गर्म साल:पर्यावरण में 300 साल की तुलना में 50% ज्यादा बढ़ी कार्बन डाइऑक्साइड, इसकी 25% मात्रा बढ़ने में 200 साल लगे थे

लंदन2 महीने पहले

हमारे पर्यावरण में काॅर्बन-डाइऑक्साइड (सीओ2) गैस का उत्सर्जन लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इसे लेकर वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि 2021 अब तक का सबसे ज्यादा गर्म साल हाे सकता है। एक अध्ययन में रिसर्चर्स ने बताया कि सीओ2 स्तर इस साल के अंत तक 18वीं सदी (करीब 300 साल पहले) में हुई औद्योगिक क्रांति के पहले हो रहे मानव जनित काॅर्बन उत्सर्जन के स्तर से 50% ज्यादा हो जाएगा। इसका मतलब है कि सीओ2 का स्तर 18वीं सदी के स्तर से डेढ़ गुना के करीब बढ़ेगा।

हालिया स्टडी में अमेरिका और ब्रिटेन के रिसर्चर्स ने हवाई और बर्फीले इलाके के सीओ2 डेटा का विश्लेषण किया है। इसमें पाया कि 1750-1800 में सीओ2 का औसत स्तर 278 पार्ट्स प्रति मिलियन (PPM) था। वहीं मार्च 2021 में हमारे वायुमंडल में सीओ2 का स्तर 417.14 PPM तक पहुंच गया। विशेषज्ञों का अनुमान है कि मई तक काॅर्बन उत्सर्जन और बढ़ेगा। साथ ही, 2021 में इसका औसत 419.5 PPM पर पहुंच जाएगा।

नाटकीय परिवर्तन एक मानव उल्कापिंड पृथ्वी की तरह
विश्लेषण से पता चला कि 1760 के आसपास शुरू हुआ कार्बन-डाइऑक्साइड मार्च 2021 तक एक नए स्तर पर पहुंच चुका है। लंदन यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर साइमन लुईस ने कहा कि वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा को 25% बढ़ने में 200 साल लगा, जबकि औद्याेगिक क्रांति के पूर्व के स्तर से यह सिर्फ 30 साल में 50% से ऊपर पहुंच गया। यह नाटकीय परिवर्तन एक मानव उल्कापिंड पृथ्वी की तरह है।

खबरें और भी हैं...