• Hindi News
  • International
  • Cases Decreased By 35% In The US, 50% In The World; No Increase In Infection In Any Country In Two Months

टीका और जागरूकता:अमेरिका में 35%, दुनिया में 50% केस घटे; 2 महीने में किसी देश में संक्रमण में तेजी नहीं

वॉशिंगटन4 महीने पहलेलेखक: डेविड लियोनहार्ट
  • कॉपी लिंक
कोरोना के डेल्टा वैरिएंट का असर कम हो गया है और मौत के केस भी घटे हैं। - Dainik Bhaskar
कोरोना के डेल्टा वैरिएंट का असर कम हो गया है और मौत के केस भी घटे हैं।

कोरोना गया नहीं लेकिन उतार पर है। पिछले दिनों के दौरान कोरोना के नए मामलों और अस्पतालों में मरीजों के भर्ती होने की संख्या में कमी दर्ज की गई है। अमेरिका में एक सितंबर के रोज आने वाले कोरोना के मामलों में 35 फीसदी की कमी आई है जबकि गत वर्ष अगस्त के मुकाबले में दुनिया भर में 30 फीसदी केस कम हुए हैं।

स्क्रिप रिसर्च के डॉ. एरिक टोपल का कहना है कि अमेरिका में मामलों में कमी को दो माह के पैटर्न के रूप में भी देखा जा सकता है। डेल्टा वैरिएंट के कारण अमेरिका में मामले पिछले समय के दौरान काफी बढ़े थे। वैसे रोग विज्ञानियों में मामलों में आई कमी के बारे में कोई सटीक तर्क नहीं है लेकिन मिनिसोटा यूनिवर्सिटी के प्रो. माइकल ऑस्टरहोम का कहना है क दुनिया भर में टीकाकरण अभियान और लोगों में कोराेना के प्रति आई जागरूकता के कारण भी मामले कम हुए हैं।

अस्पताल में भर्ती होने की दर 25% घटी
अमेरिका में 1 सितंबर, 2021 के बाद कोरोना के मरीजों के अस्पताल में भर्ती होने की दर में भी 25% की गिरावट आई है। 20 सिंतंबर के बाद मौताें का आंकड़ा भी गिरा है। वहां 10% कम मौतें दर्ज की गई हैं। डेल्टा वैरिएंट का असर अब कम होने से भारत, इंडोनेशिया, थाइलैंड, फ्रांस और स्पेन में भी कोरोना के मामलों और मौतों में गिरावट दर्ज की गई है।

कोरोना की बड़ी लहर का दौर गुजरा?
वैज्ञानिक अब इस चर्चा में हैं क्या कोरोना की बड़ी लहर का दौर गुजर चुका है। कोरोना की बड़ी लहर पिछले दो माह के दौरान दुनिया के किसी भी देश में नजर नहीं आई। ब्रिटेन में गत दो माह में मामलों में उतार-चढ़ाव का ट्रेंड देखा गया है। अमेरिका में सर्दी के मौसम की शुरुआत और लोगों में घरों में ज्यादा रहने से भी मामले कम आ रहे।

न्यूजीलैंड ने जीरो काेविड मॉडल छोड़ा
न्यूजीलैंड जीरो कोविड मॉडल को छोड़ दिया है। न्यूजीलैंड का मानना है कि एक भी केस नहीं होने के लक्ष्य का फिलहाल पाया नहीं जा सकता। ऐसे में लोगों को सावधानी बरतने हुए कोरोना के साथ जीना होगा। न्यूजीलैंड में अब तक किसी भी जगह पर कोरोना केस पाए जाने पर कम से कम सप्ताह भर का सख्त लॉक डाउन लगाया जाता था।