• Hindi News
  • International
  • Cases Increased Again After 4 Months In UK; German Cafes, Restaurants, Bars Close On Arrival Of British Travelers

कोरोना वायरस का नया वैरिएंट:ब्रिटेन में 4 माह बाद फिर बढ़े केस; ब्रिटिश यात्रियों के पहुंचने पर जर्मनी के कैफे, रेस्तरां, बार बंद

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर इटली की, जहां विदेशी पर्यटकों से नहरें गुलजार होने लगी हैं। - Dainik Bhaskar
तस्वीर इटली की, जहां विदेशी पर्यटकों से नहरें गुलजार होने लगी हैं।
  • जर्मनी ने खुद से एक तिहाई केस वाले ब्रिटेन के यात्रियों पर बैन लगाया
  • फ्रांस भी तैयारी में; वजह- ट्रिपल म्यूटेशन वाला वायरस ज्यादा खतरनाक

ब्रिटेन में चार महीने बाद कोरोना वायरस के मामले फिर बढ़ने लगे हैं। पिछले सात दिनों में यहां 12% केस बढ़े हैं। वो भी तब, जब एक हफ्ते पहले ही ब्रिटेन पूरी तरह अनलॉक हुआ है। इस बीच यार्कशायर में मिले ‘ट्रिपल म्यूटेशन’ वाले वैरिएंट ने ब्रिटेन की चिंता बढ़ा दी है।

डॉक्टरों का दावा है कि नया वैरिएंट पहले से ज्यादा लोगों को बीमार कर रहा है। ब्रिटिश स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि ट्रिपल म्यूटेंट वैरिएंट की खोज सबसे पहले यॉर्कशायर में हुई। नए स्ट्रेन का नाम वीयूआई-21एमएआई-01 है। लेकिन अब इस वैरिएंट के मामले पूरे देश में सामने आने लगे हैं। यॉर्कशायर और हंबर में अब तक नए स्ट्रेन के 49 मामलों की पुष्टि की गई है।

उधर, ब्रिटेन के वैरिएंट को लेकर जर्मनी ने ब्रिटिश यात्रियों पर अस्थाई प्रतिबंध लगा दिया है। वहीं, रविवार को फ्रांस ने भी ब्रिटिश यात्रियों पर बैन लगाने के संकेत दे दिए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन ने शनिवार को कोरोना के 2,694 नए मामले दर्ज हुए। जबकि 16 से 22 मई के बीच 17,410 नए मामले सामने आए। जो पिछले 7 दिनों की तुलना में 12% तक ज्यादा हैं।

  • ब्रिटेन में एक हफ्ते में 12% केस बढ़े हैं, जबकि पिछले 28 दिन में 48 मौतें हुई हैं।
  • ब्रिटेन में अब तक कोरोना के 44.60 लाख केस मिल चुके, 43 लाख ठीक हो चुके
  • ब्रिटेन अपनी 33% आबादी को वैक्सीन लगा चुका है, वहीं, पूरे यूरोप में सिर्फ 5% लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।

जर्मनी: एयरलाइंस, ट्रेन व बस कंपनियां केवल अपने नागरिकों को ही ला सकेंगी
जर्मनी ने अपने नागरिकों को छोड़कर ब्रिटेन से आने वाले सभी ब्रिटिश यात्रियों पर प्रतिबंध लगा दिया, जो रविवार से लागू हो गया। एयरलाइंस, रेल और बस कंपनियां केवल जर्मन नागरिकों को ही वापस ला सकेंगी। वापस लौटने पर जर्मन नागरिकों को दो सप्ताह क्वारेंटाइन रहना होगा। वहीं, ब्रिटेन के नए वैरिएंट के कारण जर्मनी में बार, पब और रेस्तरां बंद कर दिए गए। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा- यह कदम ब्रिटेन के लिए कठिन है, लेकिन ऐसा करना जरूरी था।’

यूरोप: फ्रांस में भी बढ़ने लगे केस; जर्मनी, स्पेन और इटली में लगातार गिर रहे मामले
पूरे यूरोप में पिछले सात दिनों का ट्रेंड देखें तो जो देश अनलॉक हुए हैं, सिर्फ वहीं केस बढ़े हैं। फ्रांस तीन दिन पहले ही अनलॉक हुआ और वहां भी केस बढ़ने लगे है। फ्रांस में पिछले तीन दिन में दो फीसदी केस बढ़े हैं। जबकि जिन देशों में अब भी आंशिक प्रतिबंध जारी है, वहां नए मामलों और मौतों में केस घटे हैं। हालांकि, इटली भी खुल रहा है। सात दिनों में वहां 31% मामले कम हुए हैं, जबकि 27% मौतें घटी हैं। इसके अलावा स्पेन में 22% केस और 54% मौतें कम हुई हैं।

खबरें और भी हैं...