• Hindi News
  • International
  • Chief Heat Officer Posted In The Capital Of Greece; Task Finding Ways To Protect The City From Heatstroke And Bad Weather

अमेरिका में बढ़ी गर्मी से सबक:ग्रीस की राजधानी में चीफ हीट ऑफिसर तैनात; काम- शहर को लू व खराब मौसम से बचाने के तरीके खोजना

एथेंस3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमेरिका में तेज गर्मी से जंगल कीं आग भड़कने की घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है। जबकि यूरोप में लू से 2018 में 1,04,000 लोगों की मौत हो गई थी। - Dainik Bhaskar
अमेरिका में तेज गर्मी से जंगल कीं आग भड़कने की घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है। जबकि यूरोप में लू से 2018 में 1,04,000 लोगों की मौत हो गई थी।
  • मुख्य ताप अधिकारी तैनात करने वाला दुनिया का दूसरा शहर बना एथेंस
  • इसलिए हरियाली बढ़ाने पर भी जोर दिया

ग्रीस के एथेंस शहर में चीफ हीट ऑफिसर (मुख्य ताप अधिकारी) की नियुक्ति हुई है। एथेंस ऐसी नियुक्ति करने वाला यूरोप का पहला और दुनिया का दूसरा शहर है। एथेंस के पहले इसी साल अमेरिका के मियामी-डेड में चीफ हीट ऑफिसर नियुक्त किया गया था। अधिकारियों के मुताबिक, चीफ हीट ऑफिसर एथेंस को लू और खराब मौसम से बचाने के तरीके खोजेगा। वह शहर को ठंडा रखने के लिए इमारतों में एसी जैसे उपाय नहीं करेगा।

इसका कारण यह है कि एसी जैसे यंत्र कृत्रिम ऊर्जा से चलते हैं और जलवायु परिवर्तन का संकट बढ़ाते हैं। इनके बजाय पेड़-पौधे लगाकर, खेती को बढ़ावा देकर शहर को ठंडा रखा जाएगा। सड़कों और इमारतों की डिजाइन सुधारी जाएगी। इनके निर्माण में वातावरण का तापमान बढ़ाने वाली सामग्री का इस्तेमाल नहीं होगा। एथेंस में पहले से खराब मौसम के बारे में जानकारी देने के लिए एप का इस्तेमाल किया जाता है।

एप यह भी बताता है कि वे कैसे खुद को गर्मी में रहने लायक बनाया जा सकता है। एथेंस प्रशासन ने अमेरिका, कनाडा और यूरोप की घटनाओं से सबक लिया है। यहां पिछले कुछ दिन से अत्यधिक तापमान और लू का सामना किया जा रहा है। सैकड़ों लोगों की मौत तक हो चुकी है। अमेरिका में तेज गर्मी से जंगल कीं आग भड़कने की घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है। जबकि यूरोप में लू से 2018 में 1,04,000 लोगों की मौत हो गई थी।

गर्मी के कारण पर्यटक नहीं आते, यही चिंता

एथेंस के मेयर कोस्टास बकोयानिस ने एलेनी मायरिविली को चीफ हीट ऑफिसर नियुक्त किया। बकोयानिस ने कहा, ‘जलवायु में बदलाव का एथेंस के लोगों के जीवन और अर्थव्यवस्था पर खराब असर पड़ता है। शहर का तापमान ज्यादा हो जाए तो पर्यटक नहीं आते। ये पर्यटक हमारी अर्थव्यवस्था का आधार हैं।’ जबकि एलेनी ने कहा, ‘हम दशकों से ग्लोबल वार्मिंग के बारे में बात कर रहे हैं। लेकिन हमने गर्मी के साथ बेहतर जीवन बिताने पर बात नहीं की।’