पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • China Removed The Statement Of Prime Minister Modi And The Ministry Of External Affairs From Social Media Platforms, Citing Them To Be Against The Rules

चीन की हरकत: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्रालय का बयान हटाया, इनके नियमों के खिलाफ होने का हवाला दिया

बीजिंग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चीन खुद के कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स चलाता है। इनमें से दो वी चैट और साइना वेबो से भारतीय प्रधानमंत्री का भाषण हटा दिया गया। (फाइल फोटो)
  • चीन ने साइना वेबो और वी चैट से मोदी का भाषण हटाया, इनमें साइना वेबो ट्विटर की तरह और वी चैट व्हाट्स ऐप्प की तरह काम करता है
  • साइना वेबो पर भारत समेत दुनिया के कई देशों के दूतावास के अकाउंट हैं, इसके जरिए चीन के लोगों से संवाद बनाया जाता है

चीन के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण का हटा दिया गया है। चीन में भारतीय दूतावास के अधिकारियों के मुताबिक 18 जून को यह वीडियो यहां की प्रमुख सोशल मीडिया साइट्स से हटा दिया गया। इसके साथ ही लद्दाख में भारत चीन सीमा पर हुए विवाद से जुड़ा विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव का बयान भी डिलीट कर दिया गया। 15 जून को लद्दाख के गलवान घाटी में भारत और चीन की सेना के बीच झड़प हुई थी। इसमें भारत के एक अफसर समेत 20 सैनिक शहीद हो गए थे। हमले में चीनी सैनिकों को नुकसान होने की बात सामने आई थी लेकिन चीन ने अभी तक इसे नहीं माना है।

वी चैट से भाषण हटाए जाने के बाद मैसेज नजर आ रहा था, जिसमें कंटेट नियमों के खिलाफ होने का दावा किया गया था।

साइना वेबो और वी चैट से भाषण हटाए गए

चीन में साइन वेबो और वी चैट से ये भाषण हटाए गए। साइना वेइबो चीन में ट्विटर की तरह है और वी चैट व्हाट्स ऐप की तरह एक मैसेजिंग एप्लिकेशन है। चीन में दुनिया के कई देशों के दूतावास इसका इस्तेमाल करते हैं। इस पर प्रधानमंत्री मोदी समेत दुनिया के कई नेताओं का अकाउंट है। इसके जरिए वे चीन के लोगों से संवाद करते हैं। चीन में भारतीय दूतावास के वी चैट अकाउंट से भी भाषण हटा दिया गया। इसमें कहा गया था कि नियमों का उल्लंघन होने की वजह से इसे नहीं दिखाया जा सकता।

भाषण में क्या कहा गया था

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि भारतीय सैनिकों का बलिदान व्यर्थ नहीं होगा। उन्होंने कहा था कि भारत शांति चाहता है, लेकिन अगर चीन ने इसे उकसाया तो भारत सही जवाब देने के काबिल है। वहीं,विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने चीन को लाइन ऑफ एक्चअुल कंट्रोल का पालन करने की बात कही थी। उन्होंने चीन से एलएसी के पार अपनी सीमा में रखने और इसे बदलने के लिए एकतरफा कदम न उठाने की नसीहत दी थी।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें