अंतरिक्ष / स्पेस रिसर्च के लिए चीन 2050 तक पृथ्वी और चंद्रमा के बीच इकोनॉमिक जोन बनाएगा- रिपोर्ट

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • चीन के एयरोस्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी कॉर्पोरेशन ने कहा- चंद्रमा-पृथ्वी के बीच इस क्षेत्र में बड़ी आर्थिक क्षमता
  • ‘चीन को पृथ्वी और इसके उपग्रह के बीच भरोसेमंद और कम लागत वाले एयरोस्पेस ट्रांसपोर्ट सिस्टम के विकास पर अध्ययन करना चाहिए’

दैनिक भास्कर

Nov 11, 2019, 09:00 AM IST

बीजिंग. चीन की आर्थिक महत्वाकांक्षाओं के लिए पृथ्वी अब बहुत छोटी है। वह अंतरिक्ष में इकोनॉमिक जोन विकसित करने पर विचार कर रहा है, जो चंद्रमा और पृथ्वी के बीच होगा। चीन के एयरोस्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी कार्पोरेशन के प्रमुख बाओ वीमिन ने इसकी जानकारी दी। राज्य के साइंस एंड टेक्नोलॉजी अखबार ने इंडस्ट्री के विशेषज्ञों के हवाले से बताया कि चीन इस प्रोजेक्ट पर करीब 10 ट्रिलियन डॉलर (706 लाख करोड़ रु.) खर्च करेगा।

चीन ने हाल के वर्षों में स्पेस टेक्नोलॉजी में काफी प्रगति की

बाओ वीमन ने बताया कि चंद्रमा और पृथ्वी के बीच इस क्षेत्र में बड़ी आर्थिक क्षमता है। चीन को हमारे पृथ्वी और उसके उपग्रह के बीच कम लागत वाले और भरोसेमंद एयरोस्पेस ट्रांसपोर्ट सिस्टम का विकास करने पर ध्यान देना चाहिए।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट के लिए बेसिक टेक्नोलॉजी पर 2030 तक काम पूरा हो जाएगा। जबकि प्रमुख ट्रांसपोर्ट टेक्नोलॉजी 2040 तक बनने की उम्मीद है। अधिकारियों ने बताया कि 2050 तक चीन स्पेस इकोनॉमिक जोन को सफलतापूर्वक स्थापित कर सकता है।

चीन हाल के वर्षों में तेजी से अंतरिक्ष के क्षेत्र में विकास कर रहा है। चंद्रमा का भी काफी अध्ययन कर रहा है। जुलाई में निजी कंपनी आई-स्पेस ने ऑर्बिटल मिशन के लिए पहला कैरियर रॉकेट का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। इसे बीजिंग इंटरस्टेलर ग्लोरी स्पेस टेक्नोलॉजी भी कहा जाता है।

पिछले साल चीन ने चंद्र मिशन चांग' ए 4 लॉन्च किया था, जो 3 जनवरी को चंद्रमा के सुदूर भाग में सफलतापूर्वक लैंड हुआ। एयरोस्पेस के प्रशंसकों का कहना है कि इस प्रोजेक्ट से कई महत्वपूर्ण मिशन को गति मिलेगी। इसमें लांग मार्च-5 कैरियर रॉकेट भी शामिल है।

चीन के सबसे बड़े लॉन्च व्हीकल लांग मार्च-5 की सहायता से 2020 में चांग-5 को चंद्रमा से सैंपल्स लाने के लिए भेजा जाएगा। इसके साथ ही चीन के हेवी-लिफ्ट कैरियर रॉकेट लॉन्ग मार्च-9 2030 के आसपास अपनी पहली उड़ान भर सकता है।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना