• Hindi News
  • National
  • Delhi Coronavirus Cases Update | India Germany UK US Reported Cases And Deaths By Country Or Territory

फिर डराने लगा कोरोना:देश में एक दिन में 60 की जान गई, 24 घंटे में डेढ़ गुना बढ़ी मौतें; नए केस भी बढ़े

नई दिल्ली7 महीने पहले

देश-दुनिया में कोरोना की रफ्तार फिर बढ़ती जा रही है। भारत में कोरोना से 28 अप्रैल को 60 लोगों की मौत हुई। यह आंकड़ा पिछले दिन के मुकाबले डेढ़ गुना है। 27 अप्रैल को 39 लोगों की मौत हुई थी। महामारी की शुरुआत से अब तक देश में कुल 5.23 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 3,377 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 2,496 लोग डिस्चार्ज हुए। एक्टिव केस यानी इलाज करा रहे लोगों की संख्या भी 17,801 पर पहुंच गई है। बीते दिन कोरोना के लिए 4.73 लाख सैंपल टेस्ट किए गए। इससे पहले, गुरुवार को 3,303 और बुधवार को 2,937 नए मामले दर्ज किए गए थे

दिल्ली में कोरोना के 5,250 एक्टिव मामले
दिल्ली में गुरुवार को 1,490 नए मरीज सामने आए। इसके साथ ही दिल्ली में अब कुल एक्टिव केस 5,250 हो गए हैं। हालांकि, इनमें से केवल 124 मरीजों को ही अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ा है। दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए 9,379 बेड उपलब्ध हैं। यहां में गुरुवार को दो मौतें भी दर्ज की गईं।

कोरोना अपडेट्स...

  • IIT मद्रास में कोरोना के 11 नए मामले सामने आए हैं। यहां संक्रमितों का कुल आंकड़ा 182 हो गया है।
  • IMF की प्रबंध निदेशक क्रिस्टालिना जॉर्जीवा की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

यूपी में 2 मई को 75 जिलों में जांच अभियान
उत्तरप्रदेश में 2 मई कोरोना की वापसी चौथी लहर से बचाव के लिए विशेष मॉकड्रिल के जरिए स्वास्थ्य सेवाओं को परखा जाएगा। इसमें कोविड मरीज को अस्पताल में भर्ती कराने से लेकर इलाज शुरू करने के दौरान लगने वाले वक्त और बचाव के इंतजामों को दुरुस्त किया जाएगा। 2 मई को मेरठ सहित पूरे प्रदेश के सभी 75 जिलों में मेडिकल और जिला अस्पताल सहित सीएचसी, पीएचसी सहित सभी कोविड सेंटर्स पर यह मॉकड्रिल होगी। पढ़ें पूरी खबर...

चौथी लहर के डर के बीच बिहार में पहली मौत
बिहार में कोरोना की चौथी लहर आने के डर के बीच एक कोरोना संक्रमित की मौत हुई है। मृतक शहर के एक निजी अस्पताल में 5 दिन से भर्ती थे। उन्हें सांस लेने में तकलीफ थी। हालत बिगड़ने पर उन्हें पटना से दिल्ली ले जाया जा रहा था, जिस दौरान उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। इधर, राजभवन में प्रशासनिक सेवा के एक बड़े अफसर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पूरी खबर यहां पढ़ें...

दुनिया में बढ़ रहा कोरोना का खतरा
कोरोना के बढ़ते मामले भारत के साथ कई देशों के लिए चिंता का सबब बने हुए हैं। जर्मनी में एक दिन में दुनियाभर में सबसे ज्यादा नए केस सामने आए। यहां गुरुवार को 1.24 लाख नए केस मिले, जबकि 25 अप्रैल को 86,980 नए केस सामने आए थे।

अमेरिका में नए मामले 28% बढ़े
अमेरिका में 25 अप्रैल को 45,091 नए केस आए, जबकि 28 अप्रैल को यहां 57,985 केस मिले थे। इस लिहाज से नए मामलों में 28% की बढ़ोतरी हुई है। अमेरिकी राष्ट्रपति के मेडिकल एडवाइजर डॉ. एंथनी फॉसी ने बुधवार को कहा कि अमेरिका से महामारी अभी गई नहीं है और हमें सावधान रहना होगा।

बीजिंग में स्कूल बंद, शादी-अंतिम संस्कार पर रोक
सवा दो करोड़ की आबादी वाले चीन के बीजिंग में सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। यहां शादी और अंतिम संस्कार पर भी रोक लगा दी गई है। बीजिंग में दो करोड़ लोगों की कोरोना जांच का अभियान शुरू किया गया है। चीन के ही शंघाई में गुरुवार को 10 हजार नए केस आए। उधर, एशिया के एक दिन में सबसे 57 हजार से ज्या केस दक्षिण कोरिया में दर्ज हुए हैं।

चीन कोरोना को काबू करने के लिए जीरो कोविड पॉलिसी अपना रहा है। इस वजह से करोड़ों लोगों को घर में कैद कर दिया गया है।
चीन कोरोना को काबू करने के लिए जीरो कोविड पॉलिसी अपना रहा है। इस वजह से करोड़ों लोगों को घर में कैद कर दिया गया है।

WHO ने दी चेतावनी
WHO का कहना है कि कोरोना का अगला वैरिएंट चिंता का कारण हो सकता है। WHO की महामारी विशेषज्ञ डॉ. मारिया वान केरखोव ने कहा- वर्तमान में दुनिया भर में सबसे अधिक मामले ओमिक्रॉन के ही हैं। साथ ही साथ इसके सबवैरिएंट बीए.4, बीए.5, बीए.2.12.1 पर भी नजर रखी जा रही है।

उन्होंने कहा- विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, यह बताना मुश्किल है कि अगला कोविड-19 वैरिएंट कौन सा होगा? हमारे लिए यह एक चिंता का महत्वपूर्ण कारण बना हुआ है। हमें अभी अलग-अलग परिस्थितियों के मुताबिक प्लान बनाने की जरूरत है।