पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Coronavirus China Italy | Coronavirus Outbreak China Italy Iran USA Japan France Live Today News Updates World Cases Novel Corona COVID 19 Death Toll

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना दुनिया में:अब तक 1 लाख 32 हजार मौतें: अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन ने कहा- डब्लूएचओ की फंडिंग रोकने का फैसला खतरनाक; गरीब देशों को राहत देगा जी-20

वॉशिंगटन/रोमएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को डब्लूएचओ की फंडिंग पर रोक लगा दी। ब्रिटेन समेत कई देशों ने इस फैसले को गलत बताया। अब ‘अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन’ ने ट्रम्प के फैसले को खतरनाक बताया है। - Dainik Bhaskar
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को डब्लूएचओ की फंडिंग पर रोक लगा दी। ब्रिटेन समेत कई देशों ने इस फैसले को गलत बताया। अब ‘अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन’ ने ट्रम्प के फैसले को खतरनाक बताया है।
  • ब्रिटेन में एक दिन में संक्रमण के पांच हजार 252 केस मिले, यहां कुल 93 हजार 873 मामलों की पुष्टि हो चुकी है
  • फ्लोरिडा में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के स्वामित्व वाले गोल्फ रिजॉर्ट से 560 कर्मचारियों को निकाला गया
  • जी-20 देशों ने गरीब और विकासशील देशों को एक साल तक कर्ज में राहत देने का फैसला किया है

दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 20 लाख 52 हजार 508 लोग संक्रमित हो चुके हैं। एक लाख 32  हजार 922 की मौत हो चुकी है। राहत की बात ये कि इसी दौरान पांच लाख 8 हजार 387 मरीज स्वस्थ भी हुए। अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के उस फैसले को खतरनाक बताया है कि जिसमें उन्होंने डब्लूएचओ की फंडिंग रोकने का आदेश दिया था। डब्लूएचओ ने भी कहा है कि वो अपना काम जारी रखेगा।ब्रिटेन समेत कई देश और संयुक्त राष्ट्र संघ भी इस फैसले का विरोध कर चुका है।

इस बीच, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के फ्लोरिडा के नेशनल मियामी गोल्फ रिजॉर्ट में काम कर रहे 560 कर्मचारियों को निकाल दिया गया है। इसी रिजॉर्ट में पहले ट्रम्प जी-7 देशों की बैठक आयोजित करने वाले थे। बीते महीने रिजॉर्ट के मैनेजमेंट ने फ्लोरिडा प्रांत के अफसरों को भेजे नोटिस में यह जानकारी दी कि कोरोनावायरस की वजह से हमें मजबूरी में अपना बिजनेस बंद करना पड़ा। 

डेनमार्क में एक महीने बाद स्कूल खुले
वहीं, डेनमार्क में एक महीेने बाद स्कूल खुलना शुरू हो गए हैं। उधर, जी-20 देशों ने गरीब और विकासशील देशों को एक साल तक कर्ज में राहत देने का फैसला किया है। गरीब देशों के कर्ज एक साल तक निलंबित भी किए जा सकते हैं। आईएमएफ इस बारे में जल्द गाइडलाइन जारी करेगा। 

कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देश

देशकितने संक्रमितकितनी मौतेंकितने ठीक हुए
अमेरिका6 लाख 22 हजार 92327 हजार 58647 हजार 707
स्पेन1 लाख 77 हजार 63318 हजार 57970 हजार 853
इटली 1 लाख 65 हजार 15521 हजार 64538 हजार 092
फ्रांस1 लाख 47 हजार 303 17 हजार 16730 हजार 955
जर्मनी1 लाख 33 हजार 2093 हजार 59272 हजार 600
ब्रिटेन98 हजार 47612 हजार 868उपलब्ध नहीं
चीन82 हजार 2953 हजार 34277 हजार 816
ईरान76 हजार 3894 हजार 77749 हजार 933
तुर्की 69 हजार 3921 हजार 5185 हजार 674
बेल्जियम33 हजार 5734 हजार 4407 हजार 107

स्रोत: https://www.worldometers.info/coronavirus/

कोरोना अपडेट्स 

  • स्पैनिश कॉलेज ऑफ नर्सिंग की स्टडी के मुताबिक, देश में 70 हजार नर्स कोरोनावायरस से संक्रमित हो सकती हैं। ईमेल के जरिए हुए इस सर्वे में 30 फीसदी नर्सों ने कोविड-19 के लक्षणों की पुष्टि की है। सरकार के मुताबिक, अब तक 27 हजार 758 हेल्थ वर्कर्स इस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।
  • जर्मनी अगले हफ्ते से लॉकडाउन में छूट दे सकता है। शुरुआत में कुछ दुकानों को शर्तों के साथ खोलने की अनुमति दी जाएगी। जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने बुधवार को यह बात कही। देश में 4 मई से स्कूल खुलना शुरू होंगे।
  • न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू कूमो सार्वजनिक रूप से लोगों के मास्क पहनने को लेकर एक आदेश जारी करेंगे। इसके मुताबिक, लोगों को उस स्थिति में मास्क पहनना होगा, जहां वे 6 फीट या उससे कम की सामाजिक दूरी को बनाए नहीं रख सकते।
  • फ्रांस के एयरक्राफ्ट कैरियर चार्ल्स डी गॉल पर तैनात एक तिहाई नौसैनिकों के कोरोना संक्रमित होने की खबर है। इस वॉरशिप पर करीब 2 हजार नौसैनिक तैनात हैं। इसमें से 668 के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है।

अमेरिका : ट्रम्प का फैसला खतरनाक
‘अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन’ के प्रेसिडेंट डॉक्टर पैट्रिक हैरिस ने डब्लूएचओ की फंडिंग रोके जाने के फैसले को खतरनाक बताया। हैरिस ने सीएनएन से कहा, “यह इस सदी का सबसे बड़ा स्वास्थ्य संकट है। ट्रम्प ने डब्लूएचओ की फंडिंग रोक दी। ये गलत दिशा में उठाया गया खतरनाक कदम है। इस वायरस की कोई सीमा नहीं है। दुनिया अगर एक होकर मुकाबला नहीं करेगी तो हालात बेहद जटिल हो जाएंगे। इसका असर हम अमेरिकियों पर भी पड़ना तय है।”

19 साल की मिनोली अया भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक हैं। उनकी मां माधवी न्यूयॉर्क के एक हॉस्पिटल में हेल्क वर्कर थीं। मरीजों की सेवा करते हुए माधवी खुद कोरोना संक्रमित हुईं। उनका मंगलवार को निधन हो गया।
19 साल की मिनोली अया भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक हैं। उनकी मां माधवी न्यूयॉर्क के एक हॉस्पिटल में हेल्क वर्कर थीं। मरीजों की सेवा करते हुए माधवी खुद कोरोना संक्रमित हुईं। उनका मंगलवार को निधन हो गया।

डेनमार्क : 1 महीने बाद स्कूल खुले

करीब एक महीने बंद रहने के बाद डेनमार्क के ज्यादातर स्कूल बुधवार से खोल दिए गए। प्रधानमंत्री मैते फ्रेडरिक्सन खुद राजधानी कोपेनहेगन के एक स्कूल पहुंचीं और बच्चों से बातचीत की। संक्रमण के दौर में स्कूल खोलने वाला डेनमार्क यूरोप का पहला देश है। हालांकि, कुछ स्कूलों ने सरकार से क्लासेज शुरू करने के लिए वक्त मांगा है क्योंकि उनकी तैयारी पूरी नहीं है। लेकिन, सभी स्कूल 20 अप्रैल तक पूरी तरह शुरू हो जाएंगे।  

गरीब देशों को कर्ज शर्तों में राहत देंगे जी-20 देश
दुनिया की 20 आर्थिक शक्तियां विकासशील और गरीब देशों को कर्ज की शर्तों में राहत देंगी। यह जानकारी जी-20 देशों की तरफ से जारी बयान में दी गई है। राहत एक साल के लिए हो सकती है। बयान के मुताबिक, “जी-20 देश तय वक्त के लिए गरीब देशों के कर्ज निलंबित कर सकते हैं।” सऊदी अरब के फाइनेंस मिनिस्टर मोहम्मद अल जदान ने कहा- महामारी की वजह से गरीब और विकासशील देश परेशान हैं। उन्हें राहत देने के लिए हम तैयार हैं। इसके लिए संबंधित देशों को आईएमएफ के साथ काम करना होगा।  

डब्लूएचओ अपना काम करता रहेगा
विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्लूएचओ के चीफ टेड्रोस एधेनोम के मुताबिक, अमेरिका द्वारा फंडिंग रोके जाने के बाद भी संगठन अपना काम करता रहेगा। चीफ ने कहा, “हाल के दिनों में देश, संगठन और व्यक्तियों की तरफ से मिले सहयोग के लिए हम उनके शुक्रगुजार हैं। हम इस बात का अध्यन कर रहे हैं कि अमेरिका की फंडिंग रुकने से हमारे किन कार्यक्रमों पर और कितना असर पड़ सकता है। हम हर देश के साथ काम करना चाहते हैं। महामारी के खिलाफ हम हर स्तर पर एक जंग लड़ रहे हैं।”  

डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन के एक स्कूल के बाहर मौजूद बच्चे और पैरेंट्स। यहां बुधवार से ज्यादातर स्कूल शुरू हो गए। स्कूलों को सोशल डिस्टेंसिंग समेत कई सख्त नियमों का पालन करना होगा।
डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन के एक स्कूल के बाहर मौजूद बच्चे और पैरेंट्स। यहां बुधवार से ज्यादातर स्कूल शुरू हो गए। स्कूलों को सोशल डिस्टेंसिंग समेत कई सख्त नियमों का पालन करना होगा।

स्विट्जरलैंड : आईसीयू में दवाओं की कमी

यहां की हेल्थ मिनिस्ट्री ने बुधवार को एक बयान में कहा, “हमारे यहां कई संक्रमित आईसीयू में हैं। इनके लिए जिन खास दवाओं की जरूरत होती है, वो अब खत्म हो रही हैं। इससे तनाव बढ़ रहा है। अभी तो ठीक है लेकिन कुछ वक्त हालात बेहद खराब हो सकते हैं।”  

फ्रांस : हेल्थ केयर वर्कर्स को बोनस मिलेगा
कोविड-19 के खिलाफ जंग लड़ रहे हेल्थ वर्कर्स को फ्रांस सरकार ने बोनस देने का ऐलान किया। उन्हें सैलरी के अलावा 1500 यूरो का बोनस दिया जाएगा। इसके लिए अलग-अलग कैटेगरी तय की गई हैं। फ्रांस के प्रधानमंत्री एडुअर्ड फिलिप ने बुधवार को यह जानकारी दी। इन कर्मचारियों का ओवरटाइम पेमेंट 20 से बढ़ाकर 50 फीसदी पहले ही कर दिया गया था। 

न्यूयॉर्क : मैन्यूफैक्चरिंग इंडेक्स में ऐतिहासिक गिरावट
न्यूयॉर्क फेडरल रिजर्व इंडेक्स में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। यह इंडेक्स रोजमर्रा के छोटे कारोबार का आकलन करता है। अप्रैल में यह 52 पॉइंट गिरकर -78.2 हो गया। सीएनएन के मुतबाकि, एम्पायर स्टेट मैन्यूफैक्चरिंग सर्वे में यह इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट है। हालांकि, इसमें ये भी कहा गया है कि छह महीने में स्थितियां बहुत हद तक सामान्य हो जाएंगी। 

स्विटजरलैंड लुसाने शहर में एक मरीज के पास मौजूद मेडिकल स्टाफ। सरकार ने माना है कि अस्पतालों के आईसीयू में जरूरी दवाएं कम होती जा रही हैं और इनका जल्द इंतजाम नहीं किया गया तो हालात खराब हो सकते हैं।
स्विटजरलैंड लुसाने शहर में एक मरीज के पास मौजूद मेडिकल स्टाफ। सरकार ने माना है कि अस्पतालों के आईसीयू में जरूरी दवाएं कम होती जा रही हैं और इनका जल्द इंतजाम नहीं किया गया तो हालात खराब हो सकते हैं।

डब्ल्यूएचओ का फंड रोकने पर ट्रम्प की निंदा

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के सह संस्थापक और चेयरमैन बिल गेट्स ने कोरोना के लगातार बढ़ते संक्रमण के बीच अमेरिका की ओर से विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की फंडिंग रोकने को खतरनाक बताया है। बिल गेट्स ने बुधवार को ट्वीट किया- डब्ल्यूएचओ की ओर से किए जा रहे कार्यों से कोरोना के संक्रमण को तेज गति से फैलने से रोकने में मदद मिली है। यदि उसका काम रुक जाता है तो कोई दूसरा संगठन उसका स्थान नहीं ले सकता। मौजूदा समय में विश्व को डब्ल्यूएचओ की पहले से कहीं ज्यादा जरूरत है।

यूएन चीफ एंटोनियो गुटेरेस ने कहा- यह समय डब्ल्यूएचओ या कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले किसी अन्य संगठन के स्रोतों की कमी करने का समय नहीं है। यह समय इस संक्रमण को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के एकजुट होने का है।

यूरोपीय संघ के विदेश नीति के प्रतिनिधि जोसेप बोरेल ने भी राष्ट्रपति ट्रम्प के डब्ल्यूएचओ का फंड रोकने के फैसले की निंदा की है। उन्होंने कहा कि इस कदम को उचित ठहराने का कोई कारण नहीं है। महामारी को रोकने और कम करने के लिए डब्ल्यूएचओ की पहले से कहीं ज्यादा जरूरत है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा- डब्ल्यूएचओ की समीक्षा होगी

इसके पहले, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने डब्ल्यूएचओ की फंडिंग रोक दी। कहा, “अगर संगठन ने बुनियादी स्तर पर काम किया होता तो दुनियाभर में इतने लोग नहीं मारे जाते। आज मैं डब्ल्यूएचओ की फंडिंग रोकने का आदेश दे रहा हूं। कोरोना पर उसकी भूमिका की समीक्षा की जाएगी।” बता दें कि अमेरिका डब्ल्यूएचओ को सालाना करीब तीन हजार करोड़ रु. की वित्तीय सहायता देता है।’’

न्यूयॉर्क : 2 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी संक्रमित
न्यूयॉर्क पुलिस डिपार्टमेंट के 2 हजार 156 कर्मचारी अब तक कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। यह जानकारी सीएनएन ने एवायपीडी के सूत्रों के हवाले से दी है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, एक हाजर 184 पुलिसकर्मी स्वस्थ होकर ड्यूटी संभाल चुके हैं।  

व्हाइट हाउस में प्रेस ब्रीफिंग से लौटते राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प। उन्होंने डब्लूएचओ की फंडिंग पर रोक लगा दी है। यूएन ने अमेरिकी राष्ट्रपति के इस फैसले पर नाखुशी जाहिर की है।
व्हाइट हाउस में प्रेस ब्रीफिंग से लौटते राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प। उन्होंने डब्लूएचओ की फंडिंग पर रोक लगा दी है। यूएन ने अमेरिकी राष्ट्रपति के इस फैसले पर नाखुशी जाहिर की है।

चीन ने चिंता जताई

चीन ने बुधवार को कहा कि अमेरिका द्वारा डब्लूएचओ की फंडिंग रोके जाने से बेहद चिंतित है। चीन ने वॉशिंगटन से दायित्वों को पूरा करने का आग्रह किया। इससे पहले ट्रम्प ने डब्ल्यूएचओ पर आरोप लगाते हुए कहा था कि संस्था चीन केंद्रित है। ट्रम्प ने मार्च में भी दावा किया था कि कोरोना पर चीन को लेकर डब्ल्यूएचओ का रवैया पक्षपातपूर्ण हैं।

दूसरे विश्व युद्ध के सैनिक ने कोरोना को मात दी

दूसरे विश्व युद्ध में हिस्सा लेने वाले 99 साल के सैनिक इर्मांडो पिवेटा मंगलवार को संक्रमण मुक्त हो गए। पिवेटा ने ब्राजील की थल सेना में सेकंड लेफ्टिनेंट के तौर पर सेवाएं दीं थीं। उन्हें ब्रासिलिया स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आठ दिन के इलाज के बाद जब वे हरे रंग का आर्मी कैप पहनकर बाहर निकले तो ट्रंपेट बजाकर बधाई दी गई। वहीं, फ्रांस के विदेश मंत्री ने चीनी दूतावास के राजदूत को एक लेख में यूरोप की आलोचना करने के लिए समन भेजा है।

ब्राजील: आठ दिन के इलाज के बाद जब इर्मांडो पिवेटा हरे रंग का आर्मी कैप पहनकर बाहर निकले तो स्टाफ ने ताली बजाकर उनका स्वागत किया।
ब्राजील: आठ दिन के इलाज के बाद जब इर्मांडो पिवेटा हरे रंग का आर्मी कैप पहनकर बाहर निकले तो स्टाफ ने ताली बजाकर उनका स्वागत किया।

अमेरिका: 24 घंटे में दो हजार 407 मौतें

अमेरिका में 24 घंटे में दो हजार 407 लोगों की जान गई है। इसके साथ ही देश में मौतों का आंकड़ा 27 हजार 586 हो गया है। यहां संक्रमण के 26 हजार 945 नए मामले सामने आए हैं। देश में संक्रमितों की संख्या छह लाख 22 हजार 923 हो गई है। अमेरिका की नौसेना ने कहा- उसके शिप मर्सी अस्पताल के पांच सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। नौसेना ने बताया कि इन लोगों के संपर्क में आने वले लोगों को क्वारैंटाइन किया गया है। सेना ने कहा, “इसके कारण शिप पर होने वाले मरीजों के इलाज पर असर नहीं पड़ेगा।”

अमेरिका: यह तस्वीर न्यूयॉर्क के ब्रोंक्स-लेबनान अस्पताल केंद्र के बाहर की है। राज्य में मौतों का आंकड़ा 10 हजार से ज्यादा हो गया है।
अमेरिका: यह तस्वीर न्यूयॉर्क के ब्रोंक्स-लेबनान अस्पताल केंद्र के बाहर की है। राज्य में मौतों का आंकड़ा 10 हजार से ज्यादा हो गया है।

ब्रिटेन: 300 सालों में मंदी के सबसे बुरे दौर से गुजर सकता है देश
बजट पर नजर रखने वाली संस्था ने चेतावनी दी है कि अगर कोरोनावायरस के कारण लॉकडाउन गर्मियों तक रहता है तो ब्रिटेन 300 साल की सबसे गंभीर मंदी का सामना करेगा। ऑफिस फॉर बजट रिस्पॉन्सिबिलिटी (ओबीआर) ने कहा कि देश में बेरोजगारी 13 लाख से 34 लाख तक बढ़ सकती है। हर 10 में से एक व्यक्ति बेरोजगार होगा। अप्रैल और जून के बीच अर्थव्यवस्था में 35% की कमी हो सकती है। यहां 12 हजार 868 लोगों की मौत हो चुकी है। 93 हजार 873 संक्रमित हैं।

लंदन के पिकाडिली सर्कल पर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले वर्कर्स के लिए मैसेज लिखा विज्ञापन लगाया गया है।
लंदन के पिकाडिली सर्कल पर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले वर्कर्स के लिए मैसेज लिखा विज्ञापन लगाया गया है।

इटली: एक दिन में 602 मौतें
इटली में पिछले दो दिनों में मौतों की संख्या में थोड़ी वृद्धि हुई है। यहां 24 घंटे में 602 लोगों की जान गई है। यहां सोमवार को 566 और रविवार को 431 न दम तोड़ा था। देश में अब तक 21 हजार 67 लोगों ने जान गंवाई है। वहीं यहां एक लाख 62 हजार 488 लोग संक्रमित हैं।

इटली के एक सुपरमार्केट में जाने से पहले कस्टमर का तापमान जांचता कर्मी। यहां अब तक 21 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।
इटली के एक सुपरमार्केट में जाने से पहले कस्टमर का तापमान जांचता कर्मी। यहां अब तक 21 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

फ्रांस: चीन के राजदूत को समन
फ्रांस के विदेश मंत्री ने पेरिस स्थित चीनी दूतावास के राजदूत को समन भेजा। आरोप है कि चीनी दूतावास की वेबसाइट पर लगातार दूसरा लेख प्रकाशित किया गया, जिसमें कोरोना संकट को लेकर यूरोप की आलोचना की गई है। विदेश मंत्री ज्यां-इव ली ने कहा कि चीनी दूतावास के प्रतिनिधियों द्वारा सार्वजनिक रूप से इस तरह की टिप्पणी द्विपक्षीय संबंधों की बुनियाद के खिलाफ है। प्रकाशित लेख में कहा गया था कि पश्चिमी देशों ने अपने बुजुर्गों को नर्सिंग होम में मरने के लिए छोड़ दिया था। चीन की ओर से यह लेख तब प्रकाशित किया गया जब फ्रांस ने चीन से लाखों मास्क मंगवाने का फैसला किया था। फ्रांस में महामारी से अब तक 15 हजार 729 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं यहां एक लाख 43 हजार 303 संक्रमित हैं।

फ्रांस: पेरिस में रेस्तरां से खाना पैक कराती एक महिला। देश में अब तक 15 हजार 729 लोगों की मौत हो चुकी है
फ्रांस: पेरिस में रेस्तरां से खाना पैक कराती एक महिला। देश में अब तक 15 हजार 729 लोगों की मौत हो चुकी है

स्पेन: अब तक 18 हजार 579 लोगों की जान गई
स्पेन में मंगलवार को 499 लोगों की मौत हुई है और तीन हजार 961 संक्रमित हुए हैं। यहां अब तक 18 हजार 579 जान गई है। वहीं, एक लाख 77 हजार संक्रमित हैं। स्पेन अमेरिका के बाद दूसरा देश है, जहां संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले हैं।

स्पेन: मैड्रिड में स्वास्थ्यकर्मी रेमन वाई सैजल अस्पताल की फार्मेसी लैब में मेडिसिन पाउच तैयार कर रही हैं। यहां सोमवार से लॉकडाउन प्रतिबंधों में कुछ ढील दी गई है।
स्पेन: मैड्रिड में स्वास्थ्यकर्मी रेमन वाई सैजल अस्पताल की फार्मेसी लैब में मेडिसिन पाउच तैयार कर रही हैं। यहां सोमवार से लॉकडाउन प्रतिबंधों में कुछ ढील दी गई है।

रूस: एक दिन में तीन हजार नए केस
रूस में एक दिन में तीन हजार नए केस सामने आए हैं। यह अब तक का नए मामलों में सबसे बड़ा इजाफा है। यहां अभी संक्रमण के 24 हजार 490 मामले हैं। इनमें मॉस्को में सबसे ज्यादा 14 हजार 776 केस हैं। यहां अब तक 198 लोग मारे गए हैं।

ईरान: 98 लोगों की मौत
ईरान में मंगलवार को 98 लोगों की मौत हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में अब तक चार हजार 683 जान जा चुकी है। वहीं, कोरोना से 74 हजार 877 लोग संक्रमित हैं। यहां 24 घंटे में संक्रमण के 1,574 नए मामले सामने आए हैं। 

द.कोरिया: संक्रमण के मामलों में कमी
दक्षिण कोरिया ने महामारी पर काफी हद तक काबू पा लिया है।  24 घंटों के दौरान सिर्फ 27 नए मामले सामने आए। कोरिया के रोग नियंत्रण एवं बचाव केंद्र (केसीडीसी) ने बुधवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि यह लगातार तीसरा दिन है जब एक दिन में संक्रमण के 30 से कम मामले सामने आए हैं। इससे पहले मंगलवार को भी केवल 27 नए मामले ही सामने आए थे जबकि सोमवार को 25 नए मामलों की पुष्टि हुई थी। 

दक्षिण कोरिया: सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्य एग्जिट पोल देखते हुए। 15 अप्रैल को यहां संसदीय चुनाव था।
दक्षिण कोरिया: सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्य एग्जिट पोल देखते हुए। 15 अप्रैल को यहां संसदीय चुनाव था।

ब्राजील: रियो डी जनेरिया के गवर्नर कोरोना पॉजिटिव

ब्राजील के रियो डी जनेरिया प्रांत के गवर्नर विल्सन विजेल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वे अब वह सेल्फ आइसोलेशन में काम करेंगे। विल्सन ने मंगलवार को ट्वीट किया, “शुक्रवार को कमजोरी महसूस होने पर मैंने कोरोना टेस्ट के लिए कहा। आज जांच के नतीजे आ गए हैं और यह पॉजिटिव है।” उन्होंने कहा, ‘‘मुझे बुखार, सुखी खांसी और थकान जैसे बीमारी के कई लक्षण हैं। लेकिन, अब मैं बेहतर महसूस कर रहा हूं और डॉक्टरों के परामर्श का पालन करते हुए सेल्फ आइसोलेशन में रहकर काम करूंगा।”  

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

और पढ़ें