• Hindi News
  • International
  • Coronavirus China Italy | Coronavirus Outbreak China Italy Iran USA Japan France Live Today News Updates World Cases Novel Corona COVID 19 Death Toll

कोरोना दुनिया में:अब तक 2 लाख मौतें : पाकिस्तान में डॉक्टर भूख हड़ताल पर बैठे; ब्रिटेन में मरने वालों का आंकड़ा 20 हजार के पार

वॉशिंगटन2 वर्ष पहले
लाहौर में भूख हड़ताल पर बैठे डॉक्टर और नर्स। इन्होंने सरकार से मास्क, ग्लव्स और पीपीई किट मुहैया कराने की मांग की थी। ये पूरी नहीं हुई। - Dainik Bhaskar
लाहौर में भूख हड़ताल पर बैठे डॉक्टर और नर्स। इन्होंने सरकार से मास्क, ग्लव्स और पीपीई किट मुहैया कराने की मांग की थी। ये पूरी नहीं हुई।
  • दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 29 लाख से ज्यादा, 8 लाख 31 हजार से ज्यादा मरीज ठीक हुए
  • मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में 150 डॉक्टर कोरोनावायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि कुछ ही मौत हुई है
  • दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमण के 9 लाख 48 हजार मामले अमेरिका में, यहां अब तक 53 हजार से ज्यादा मौतें

दुनिया में कोरोनावायरस से मरने वालों का आंकड़ा शनिवार रात 2 लाख के पार हो गया। 10 अप्रैल तक 1 लाख 5 हजार 979 लोगों की मौत हुई थी। 25 अप्रैल को यह संख्या 2 लाख हो गई। यानी 15 दिन में मौतों का आंकड़ा दोगुना हो गया। अब तक इस वायरस से 29 लाख 2 हजार 708 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 2 लाख 2 हजार 179 की मौत हो चुकी है। इसी दौरान 8 लाख 31 हजार 316 स्वस्थ भी हुए। शुक्रवार शाम से दुनियाभर में 6813 नई मौतें हुईं हैं और 93 हजार से ज्यादा संक्रमण के मामले दर्ज हुए हैं। अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित है। दुनिया की कुल मौतों में से 25 फीसदी ने यहां दम तोड़ा है।

इधर, पाकिस्तान में पंजाब प्रांत में ‘यंग डॉक्टर्स एसोसिएशन’ यानी वायडीए भूख हड़ताल पर बैठ गया है। एसोसिएशन ने एक बयान में कहा- कोविड-19 के खिलाफ हम जान जोखिम में डालकर लड़ रहे हैं। कई दिनों से सरकार को यह बात बता रहे कि हमारे पास मास्क, ग्लव्स और पीपीई किट नहीं है। फिर भी अब तक इसका इंतजाम नहीं किया गया।

कोरोना से जुड़े अहम अपडेट्स

  • इटली में कोरोनावायरस की वजह से जेलों में बंद माफियाओं को बाहर निकालकर उनके घरों में नजरबंद रखने का फैसला हुआ है। हालांकि, विपक्षी नेता मैटियो साल्विनी ने सरकार के इस फैसले को पागलपन करार दिया। यहां जेलों में संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने जजों को यह अधिकार दिया है कि वे उन कैदियों को घर भेज सकते हैं, जिनकी सजा 18 महीने से कम बची है।
  • तुर्की में 3 अप्रैल के बाद पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 हजार से कम हुई। बीते 24 घंटे में यहां 2861 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब तक 106 मरीजों की मौत हुई है। देश में संक्रमितों की संख्या 1 लाख 7 हजार 773 हो गई है।
  • कनाडा में कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट देखी गई है। लेकिन इसके बाद भी सरकार यहां आर्थिक गतिविधियां शुरू करने के मूड में नहीं है। सरकार ने कहा कि जब पर्याप्त संख्या में पर्सनल प्रोटेक्टिव किट नहीं उपलब्ध हो जाती। तब तक देश में व्यापार नहीं शुरू होगा।

अमेरिका के न्यूयॉर्क में शव ले जाने के लिए ट्रक का इस्तेमाल

न्यूयाॅर्क के ब्रुकलिन हॉस्पिटल में मृतकों के शव ले जाने के लिए रेफ्रिजरेटेड ट्रक का इस्तेमाल किया जा रहा है। अस्पताल के पिछले हिस्से में यह ट्रक पार्क किया गया है। यहांं पीपीई किट पहने मेडिकल वर्कर्स तैनात हैं। शव लाने के लिए मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। अस्पताल के सामने ही टेंट लगाया गया है। यहां कोरोना के लक्षण नजर आने पर लोगों से टेस्ट कराने की अपील की जा रही है।

कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देश

देशकितने संक्रमितकितनी मौतेंकितने ठीक हुए
अमेरिका9 लाख 48 हजार 07953 हजार 4711 लाख 16 हजार 007
स्पेन2 लाख 23 हजार 75922 हजार 90295 हजार 708
इटली 1 लाख 95 हजार 39126 हजार 38463 हजार 120
फ्रांस1 लाख 61 हजार 48822 हजार 61444 हजार 594
जर्मनी1 लाख 55 हजार 7825 हजार 8431 लाख 9 हजार 809
ब्रिटेन1 लाख 48 हजार 37720 हजार 319उपलब्ध नहीं
तुर्की 1 लाख 7 हजार 7732 हजार 70625 हजार 582
ईरान89 हजार 3285 हजार 65068 हजार 193
चीन 

82 हजार 816

4 हजार 63277 हजार 346
रूस74 हजार 5886816 हजार 250

ये आंकड़े https://www.worldometers.info/coronavirus/ से लिए गए हैं।

ब्रिटेन : मरने वालों का आंकड़ा अब 20 हजार पार
यहां शनिवार शाम संक्रमण से मरने वालों की तादाद 20 हजार 319 हो गई। यह आंकड़ा ब्रिटिश सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड सोशल केयर ने जारी किया। कुल एक लाख 48 हजार 377 लोग संक्रमित हैं। खास बात यह है कि अमेरिका की तरह ब्रिटेन में भी सिर्फ उन्हीं मौतों को गिना जा रहा है जो हॉस्पिटल या प्राईवेट नर्सिंग होम्स में हुईं। घर या अन्य किसी स्थान पर दम तोड़ने वालों को इसमें शामिल नहीं किया गया। यहां छह महीने की बच्ची संक्रमण से उबर गई है। इसे ‘मिरेकल बेबी’ यानी चमत्कारी बच्चा कहा जा रहा है। शनिवार शाम इसे एल्डर हे हॉस्पिटल के आईसोलेशन सेंटर से बाहर लाया गया। एरिन नाम की इस बच्ची के स्वस्थ होने की खुशी में स्टाफ ने तालियां बजाईं। 

अमेरिका : डिफेंस प्रोडक्शन एक्ट के तहत पहली कार्रवाई
संक्रमण के बीच अमेरिका में डिफेंस प्रोडक्शन एक्ट के तहत पहली कार्रवाई हुई। आरोपी भारतीय मूल का है। अधिकारियों के मुताबिक, उस पर पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट) की जमाखोरी करने और उन्हें महंगे दाम पर बेचने का आरोप है। 

अमेरिका: न्यूयॉर्क में शुक्रवार को सबसे कम मौतें

अमेरिका में 24 घंटे में 1951 लोगों की मौत हुई है और 38 हजार 764 केस मिले हैं। यहां अब तक 53 हजार से ज्यादा मरीजों की जान जा चुकी है। हालांकि, जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक, शुक्रवार को 1258 जान गई हैं, जो तीन हफ्ते में मौतों का सबसे कम आंकड़ा है। देश में सबसे ज्यादा प्रभावित न्यूयॉर्क शहर में शुक्रवार को 422 लोगों की जान गई है। 31 मार्च के बाद पहली बार राज्य में मौतों का आंकड़ा इतना कम रहा। गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में मामले अभी भी अकल्पनीय स्तर पर हैं। हालांकि, संक्रमण कुछ कम हुआ है।  यहां अब तक 16 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग में ढील देने पर मामले और बढ़ सकते हैं।

  • ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा था कि कीटनाशक को शरीर में इंजेक्ट करने से महामारी का इलाज हो सकता है। उनके इस बयान की आलोचना हो रही है। टास्क फोर्स के डॉक्टर ब्रिक्स ने राष्ट्रपति के इस बयान को खारिज कर दिया। ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने यह तंज में कहा था।
  • बीबीसी के मुताबिक, सर्जन जोनाथन स्पाइसर ने कहा- कीटनाशक इतने खतरनाक होते हैं कि हमारे शरीर के अंदर वाले हिस्से को गला सकते हैं।
  • कोरोना टास्क फोर्स के प्रमुख डॉ. फौसी ने कहा- दुनिया में सबसे कम मृत्यु दर अमेरिका में है। प्रति व्यक्ति के हिसाब से अमेरिका में मृत्यु दर फ्रांस, स्पेन और ब्रिटेन से कम है।

पोम्पियो ने कहा- सही जानकारी साझा करे चीन
अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने चीन से वायरस की शुरुआत पर सही जानकारी साझा करने को कहा। एक इंटरव्यू में पॉम्पियो ने कहा- चीन द्वारा सटीक जानकारी साझा करने से लोगों की जान बचाने में मदद मिलेगी। यह बेहद जरूरी है। हम सभी जानते हैं कि वायरस की शुरुआत वुहान शहर से हुई है। अब हमें यह पता लगाने की जरूरत है कि यह कैसे हुआ?

न्यूयॉर्क को ‘कभी न सोने वाला शहर’ भी कहा जाता है। लेकिन, फिलहाल अमेरिका का यह शहर सूना नजर आता है। शुक्रवार रात यहां के चर्च एवेन्यू रोड से मास्क पहनकर गुजरती महिला।
न्यूयॉर्क को ‘कभी न सोने वाला शहर’ भी कहा जाता है। लेकिन, फिलहाल अमेरिका का यह शहर सूना नजर आता है। शुक्रवार रात यहां के चर्च एवेन्यू रोड से मास्क पहनकर गुजरती महिला।

ईरान : खतरनाक हो सकता है संक्रमण का दूसरा दौर
यहां की हेल्थ मिनिस्ट्री को आशंका है कि देश में संक्रमण का दूसरा और नया दौर ज्यादा खतरनाक हो सकता है। रमजान के दौरान यहां कई इलाकों में भीड़ देखी जा रही है। तेहरान हेल्थ कमेटी के कोऑर्डिनेटर अलीरिजा झाली के मुताबिक, प्रतिबंधों में ढील देना संक्रमण को बुलावा देने जैसा है। यहां सरकार ने 11 अप्रैल से ही बाजार फिर खोल दिए हैं। झाली ने कहा- अगर अब हालात बिगड़े तो इन्हें काबू करना बेहद मुश्किल हो जाएगा। 

ईरान की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। एक आर्मी अफसर तेहरान के अस्पताल में अपने साथी की सेहत जानने पहुंचा। वॉर्ड के बाहर एक नर्स से सामना हुआ। अफसर ने नर्स को सैन्य अंदाज में सैल्यूट किया।
ईरान की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। एक आर्मी अफसर तेहरान के अस्पताल में अपने साथी की सेहत जानने पहुंचा। वॉर्ड के बाहर एक नर्स से सामना हुआ। अफसर ने नर्स को सैन्य अंदाज में सैल्यूट किया।

जापान : सूमो पहलवान भी संक्रमित

जापान के पारंपरिक खेल सूमो में भी कोरोनावायरस का असर पड़ा है। जापान की न्यूज एजेंसी क्योदो ने बताया कि शनिवार को टोक्यो में एक स्टेबलमास्टर समेत पांच पहलवान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सूमो पहलवान जहां रहते हैं, उसे स्टेबल कहा जाता है। इसके इंचार्ज को स्टेबलमास्टर कहा जाता है।  

जापान की राजधानी टोक्यो में शनिवार को पारंपरिक परिधान किमोनो पहने सड़क पार करती महिला। देश में इमरजेंसी लागू है। सिर्फ बेहद जरूरी होने पर ही घर से निकला जा सकता है। इस दौरान भी मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है।
जापान की राजधानी टोक्यो में शनिवार को पारंपरिक परिधान किमोनो पहने सड़क पार करती महिला। देश में इमरजेंसी लागू है। सिर्फ बेहद जरूरी होने पर ही घर से निकला जा सकता है। इस दौरान भी मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है।
न्यूयॉर्क के ब्रुक्रलिन अस्पताल में एक बुजुर्ग मरीज को वॉर्ड में शिफ्ट करने ले जाता स्टाफ। अमेरिका में अब तक 52 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। न्यूयॉर्क सबसे ज्यादा प्रभावित है।
न्यूयॉर्क के ब्रुक्रलिन अस्पताल में एक बुजुर्ग मरीज को वॉर्ड में शिफ्ट करने ले जाता स्टाफ। अमेरिका में अब तक 52 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। न्यूयॉर्क सबसे ज्यादा प्रभावित है।

श्रीलंका: 24 घंटे का कर्फ्यू  

श्रीलंका में सरकार ने फिर से 24 घंटे का कर्फ्यू लगा दिया है। यहां शुक्रवार 46 नए मामले सामने आए। संक्रमण के 420 केस हो चुके हैं। सात लोगों की मौत हो चुकी है। बीबीसी के मुताबिक, कर्फ्यू उल्लंघन करने वाले 30 हजार लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में स्वैब टेस्ट के लिए लाइन में लगे लोग। देश में अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है।
श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में स्वैब टेस्ट के लिए लाइन में लगे लोग। देश में अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है।

पाकिस्तान: 9 मई तक लॉकडाउन 

पाकिस्तान में 9 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। यहां 11 हजार 940 मामले मिल चुके हैं। 253 लोगों की मौत हो चुकी है। कैबिनेट मंत्री असद उमर ने कहा- लॉकडाउन का फैसला सभी प्रांतीय सरकारों से सलाह के बाद लिया गया। इसके पहले, प्रधानमंत्री इमरान खान न शुक्रवार को कहा कि उन्हें किसी भी देश से आर्थिक मदद नहीं मिली है। महामारी से देश की अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई है। मुल्क को सिर्फ आईएमएफ से कर्ज मिला है।

पाकिस्तान के कराची शहर में लॉकडाउन के दौरान एक मस्जिद के बाहर तैनात पुलिसकर्मी।
पाकिस्तान के कराची शहर में लॉकडाउन के दौरान एक मस्जिद के बाहर तैनात पुलिसकर्मी।

पोलैंड-जर्मनी सीमा पर लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शन

पोलैंड में रहने वाले और जर्मनी में काम करने वाले सैकड़ों लोगों ने पोलैंड की सीमा से सटे गॉर्जेलिक शहर में शुक्रवार शाम को लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शन किया। दोनों देशों की सीमा 15 मार्च से ही बंद है। एक टीचर ने कहा- मैं पिछले छह हफ्ते से फंसा हुआ हूं। जर्मनी के गॉरलिट्ज शहर में काम करता हूं। हमें वहां जाने नहीं दिया जा रहा है। प्रदर्शन में पोलैंड की ओर से करीब 300 और जर्मनी की ओर से 100 लोग शामिल हुए थे।

शुक्रवार शाम पोलैंड-जर्मनी सीमा पर करीब 400 लोगों ने लॉकडाउन के विरोध में प्रदर्शन किया।
शुक्रवार शाम पोलैंड-जर्मनी सीमा पर करीब 400 लोगों ने लॉकडाउन के विरोध में प्रदर्शन किया।
अमेरिका के न्यू होप शहर के सेंट थैरेसा अस्पताल के कर्मचारियों का समर्थन करता व्यक्ति।
अमेरिका के न्यू होप शहर के सेंट थैरेसा अस्पताल के कर्मचारियों का समर्थन करता व्यक्ति।

हम कई देशों को वेंटिलेटर भेज रहे: ट्रम्प

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के मुताबिक, उनकी सरकार देश को फिर से खोलने के लिए काम कर रही है। उन्होंने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और स्वच्छता बनाए रखने की अपील की। कहा- जिन देशों को वेंटिलेटर की जरूरत है, उन्हें अमेरिका ये भेज रहा है। फेडरल गवर्नमेंट के पास 10 हजार वेंटिलेटर हैं। हम मैक्सिको, इंडोनेशिया, फ्रांस, होंडुरास की मदद कर रहे हैं। साथ ही इटली और स्पेन को भी मदद भेज रहे हैं। उधर, अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने संक्रमितों को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन देने को लेकर चेतावनी दी है। इसमें कहा गया है कि इस दवा से मरीज के हृदय पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि जिन देशों को वेंटिलेटर की जरूरत है, उन्हें अमेरिका भेज रहा है।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि जिन देशों को वेंटिलेटर की जरूरत है, उन्हें अमेरिका भेज रहा है।

ब्रिटेन: घरेलू हिंसा मामले में 4 हजार गिरफ्तार

सीएनएन के मुताबिक, ब्रिटेन में लॉकडाउन के दौरान लंदन में घरेलू हिंसा मामले में करीब चार हजार लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। देश में शुक्रवार को 684 मौतें हुईं। यहां मरने वालों की संख्या 20 हजार से ज्यादा हो चुकी है। वहीं, यहां एक लाख 48 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।

लॉकडाउन के दौरान पुलिस लोगों को यहां बैठने से मना कर रही है। देश में अब तक 19 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।
लॉकडाउन के दौरान पुलिस लोगों को यहां बैठने से मना कर रही है। देश में अब तक 19 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

जापान: नागासाकी में खड़े इटली के क्रूज पर 60 नए मरीज मिले
जापान के नागासाकी पोर्ट पर खड़े इटली के क्रूज कोस्ट अटलांटिका में 60 नए मरीज मिले हैं। जहाज पर संक्रमिक मरीजों की कुल संख्या 150 हो चुकी है। जानकारी के मुताबुक, इस जहाज पर 600 से ज्यादा लोग हैं। जापान में संक्रमण के अब तक 12 हजार से ज्यादा केस हो चुके हैं, जबकि 345 लोगों की मौत हो चुकी है।

यूरोपीय संघ रिपोर्ट जारी
न्यूज एजेंसी रायटर्स के मुताबिक, चीन यूरोपीय संघ की एक रिपोर्ट को रेकना चाहता था, लेकिन अब यह जारी कर दी गई है। रिपोर्ट में चीन पर संक्रमण को लेकर गलत सूचना देने का आरोप है। चीन ने अब तक इस पर प्रतिक्रिया नहीं दी। 

इटली: 5 हफ्ते में पहली बार संक्रमण में कमी

इटली में संक्रमण के मामलों में कमी आई है। बीबीसी के मुताबिक, यहां पांच हफ्ते में पहली बार एक दिन में सबसे कम मौतें हुई हैं। देश में अब तक 150 डॉक्टर्स की मौत हो चुकी है। 10% स्वास्थ्यकर्मी बीमार हैं। करीब 36 हजार लोगों की जान जा चुकी है।1 लाख 93 हजार संक्रमित हैं।

शुक्रवार को इटली लिबरेशन डे कर्यक्रम में मौजूद रोम की मेयर वर्जिनिया राग्गी (बाएं) और रोम ज्यूश कम्युनिटी की अध्यक्ष रूथ डुरेघेल्लो।
शुक्रवार को इटली लिबरेशन डे कर्यक्रम में मौजूद रोम की मेयर वर्जिनिया राग्गी (बाएं) और रोम ज्यूश कम्युनिटी की अध्यक्ष रूथ डुरेघेल्लो।

चीन ने मेडिकल टीम उत्तर कोरिया भेजी
चीन ने मेडिकल एक्सपर्ट की टीम उत्तर कोरिया भेजी है। उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन कुछ समय से बीमार चल रहे हैं। उनकी स्थिति नाजुक बताई जा रही है। किम 15 अप्रैल को अपने दादा की 108वीं जयंती पर भी नजर नहीं आए थे।  

रूस में मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी के पास सड़क को डिसइन्फेक्ट करते कर्मचारी।
रूस में मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी के पास सड़क को डिसइन्फेक्ट करते कर्मचारी।

ब्राजील: संक्रमितों की संख्या 52,995
ब्राजील में संक्रमितों के 3,503 नए मामले सामने आए हैं। संक्रमितों की संख्या बढ़कर 52,995 हो गई है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एक दिन पहले ब्राजील में 3,735 नए केस मिले थे। देश में अब तक 3,670 लोगों की मौत हो चुकी है। मंत्रालय के अनुसार ब्राजील में अब तक 27,600 से ज्यादा संक्रमित ठीक हो चुके हैं।