पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Coronavirus Outbreak Vaccine Latest Update; USA Brazil Russia UK France Cases And Deaths From COVID 19 Virus

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना दुनिया में:WHO ने एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को इमरजेंसी अप्रूवल दिया, इसी के 8.7 लाख डोज की पहली खेप भारत से मैक्सिको पहुंची

​​​​​​​लंदन/तेल अवीव15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की बनाई कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी यूज की मंजूरी दे दी है। इससे यूनाइटेड नेशंस के सपोर्ट वाले प्रोग्राम कोवैक्स के तहत कई देशों में लाखों डोज भेजने का रास्ता साफ हो गया है।

UN की हेल्थ एजेंसी ने सोमवार को बताया कि उसने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और दक्षिण कोरिया की एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को अप्रूव कर दिया है। WHO से ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद कोवैक्स प्रोग्राम को मजबूती मिलने की उम्मीद है। इसके जरिए दुनिया के कमजोर देशों को वैक्सीन सप्लाई की जानी है।

उधर, भारत में बनी एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन की पहली खेप रविवार को मैक्सिको पहुंची। मैक्सिको की सरकार ने बताया कि पहले खेप में 8.7 लाख डोज मंगाए गए हैं। मैक्सिको का भारत से कुल 20 लाख डोज मंगाने का प्लान है।

मैक्सिको ब्राजील के बाद भारत से वैक्सीन पाने वाला दूसरा लैटिन अमेरिकी देश है। मैक्सिको कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल है। यहां अब तक 19.92 लाख मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 1.74 लाख मरीजों की मौत हुई है। मौतों के मामले में यह देश अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे नंबर पर है।

मैक्सिको कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल है। मौतों के मामले में यह देश अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे नंबर पर है।
मैक्सिको कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल है। मौतों के मामले में यह देश अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे नंबर पर है।

मैक्सिको और अर्जेंटीना ने लैटिन अमेरिका में डिस्ट्रीब्यूशन के लिए वैक्सीन के 25 करोड़ डोज के लिए एस्ट्राजेनेका के साथ समझौता किया है। मैक्सिकन अरबपति कार्लोस स्लिम इसके लिए मदद कर रहे हैं। यहां दिसंबर में हेल्थकेयर वर्कर्स का वैक्सीनेशन शुरू हुआ था। फाइजर की वैक्सीन की कमी और सप्लाई में देरी की वजह से इसका टारगेट पूरा नहीं हो सका।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक सिर्फ 16.36 लाख डोज मिले हैं। इसके लिए चीन की कैन्सिनो और रूस की स्पुतनिक V के लिए एग्रीमेंट किया गया है।

अब तक 10.95 करोड़ केस
दुनिया में अभी कोरोना के 10.95 करोड़ केस आ चुके हैं। इनमें से 8.16 करोड़ मरीज ठीक हो चुके हैं। 24.13 लाख लोगों की जान जा चुकी है। सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका में रविवार को कुल 64,297 नए मरीज मिले और 1,111 लोगों की मौत हो गई। यहां अब तक 2.82 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। 1.82 करोड़ लोग ठीक हुए हैं, जबकि 4.97 लाख संक्रमितों ने जान गंवाई है।

तुर्की में अगले हफ्ते से टीचर्स का वैक्सीनेशन होगा
तुर्की के एजुकेशन मिनिस्टर जिया सेल्कुक ने सोमवार को बताया कि देश में अगले हफ्ते से टीचर्स को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय ने टीचर्स की सूची हेल्थ मिनिस्ट्री को सौंप दी है। अब उनका नाम वैक्सीनेशन सिस्टम में रजिस्टर किया जा रहा है।

तुर्की में 14 जनवरी को चीन की सिनोवैक वैक्सीन से मास वैक्सीनेशन शुरू किया था। यहां अब तक 41 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगाया जा चुका है।

ब्रिटेन में 1.5 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन
ब्रिटेन में अब तक 1.5 करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने रविवार को इसे मील का पत्थर करार दिया। उन्होंने सोशल मीडिया पर कहा कि कहा कि यह एक अविश्वसनीय उपलब्धि है। वैज्ञानिकों, फैक्ट्री वर्कर्स, डिलीवरी ड्राइवर्स, NHS स्टाफ, वॉलंटियर्स और जिन्होंने इस आश्चर्यजनक उपलब्धि को संभव बनाया, उनका बहुत-बहुत शुक्रिया।

UK में 8 दिसंबर को शुरू हुआ था वैक्सीनेशन
ब्रिटेन में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान की शुरुआत 8 दिसंबर को हुई थी। 90 साल की बुजुर्ग मारग्रेट कीनन पहली ब्रिटिश नागरिक थीं, जिन्हें फाइजर की कोरोना वैक्सीन लगाई गई थी। यहां फिलहाल फाइजर-बायोटेक और एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन लगाई जा रही है।

इजराइल में एयर ट्रैफिक शुरू होगा
कोरोना महामारी के बीच इजराइल में सरकार ने कुछ रियायत देना शुरू किया गया है। यहां अब रोजाना 2000 विदेशी एयर पैसेंजर्स को आने की मंजूरी दे दी गई है। डिफेंस मिनिस्ट्री को यहां आने वाले पैसेंजर्स को होटल में क्वारैंटाइन करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। यहां कोरोना पर कंट्रोल के लिए 25 जनवरी से एयर ट्रैफिक बंद कर दिया गया था।

ब्रिटेन के वैज्ञानिकों का दावा, नए वैरिएंट से पूरी दुनिया को खतरा
ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि कोरोना संक्रमण का नया वैरिएंट जल्द ही दुनिया को अपनी चपेट में ले लेगा। इस वैरिएंट से उबरने में दुनिया को कम से कम 10 साल लग जाएंगे। इनमें सबसे ज्यादा संक्रामक ब्रिटेन के केंट क्षेत्र में फैले कोरोना वैरिएंट को बताया जा रहा है।

जेनेटिक सर्विलांस प्रोग्राम के प्रमुख शेरोन ने वायरस के म्यूटेशन पर चिंता जताते हुए कहा कि इस नए स्ट्रेन के कारण ब्रिटेन में फिर से लॉकडाउन लगने की आशंका है। यह वैरिएंट 50 से अधिक देशों में पहुंच चुका है। जानकारों का दावा है कि यह पहले वाले वैरिएंट से 70% ज्यादा तेजी से फैलता है और करीब 30% ज्यादा घातक हो सकता है।

टॉप-10 देश, जहां अब तक सबसे ज्यादा लोग संक्रमित हुए

देश

संक्रमितमौतेंठीक हुए
अमेरिका28,271,023497,17418,224,288
भारत10,916,172155,76410,619,083
ब्राजील9,834,513239,2948,745,424
रूस4,071,88380,1263,593,101
UK4,038,078117,1662,160,515
फ्रांस3,465,16381,814238,753
स्पेन3,056,03564,747N/A
इटली2,721,87993,5772,225,519
तुर्की2,586,18327,4712,475,329
जर्मनी2,341,70665,5662,119,100

(ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus/ के मुताबिक हैं)

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

और पढ़ें