• Hindi News
  • International
  • Coronavirus Vaccination USA, Pfizer BioNTech COVID 19 Vaccine Latest News Update; Donald Trump, Vice President Mike Pence

अमेरिका में वैक्सीनेशन शुरू:पहली कोरोना वैक्सीन अश्वेत नर्स सैंड्रा को लगाई गई; ट्रम्प बोले- USA और पूरी दुनिया को बधाई

वॉशिंगटनएक वर्ष पहले

अमेरिका में आज से वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि अमेरिका में पहली वैक्सीन लगा दी गई है। अमेरिका को बधाई! पूरी दुनिया को बधाई! वहीं, देश में पहली कोरोना वैक्सीन अश्वेत नर्स सैंड्रा लिंडसे को लगाई गई। यहां पहले फेज में हेल्थ केयर वर्कर्स को यह वैक्सीन दी जानी है। इससे पहले पूरे दिन वैक्सीनेशन के लिए तैयारियां चलती रहीं। देश के कई राज्यों में 145 जगहों पर वैक्सीन पहुंचाई गई।

व्हाइट हाउस के जरूरी काम करने वाले स्टाफ और ऑफिसर्स को वैक्सीन लगाने में फिलहाल देरी होगी। इससे पहले यह खबर आई थी कि 10 दिन में इन्हें वैक्सीन लगा दी जाएगी। हालांकि, ट्रम्प ने इसके कुछ ही देर बाद सोशल मीडिया पर लिखा- व्हाइट हाउस के स्टाफ को वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत बाद में टीका लगाया जाएगा। बहुत जरूरी होने पर ही उन्हें जल्द वैक्सीन लगाई जा सकती है।

अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उप राष्ट्रपति माइक पेंस को भी वैक्सीन ऑफर होगी। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि ट्रम्प तुरंत यह वैक्सीन लगवाएंगे या नहीं, क्योंकि वे पहले एक बार संक्रमित हो चुके हैं। प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को भी टीका लगाने की योजना है।

कई चरणों में वैक्सीनेशन

अमेरिका में कई चरणों में वैक्सीनेशन होगा। पहले चरण में फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स और केयर होम में रह रहे बुजुर्ग लोगों को टीका लगाया जाएगा। कोरोना वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन की जिम्मेदारी जनरल गुस्ताव पेरना देख रहे हैं। पेरना के मुताबिक, इस हफ्ते के अंत तक सभी राज्यों में वैक्सीन के करीब 30 लाख डोज पहुंच जाएंगे। ट्रकों और जहाजों के जरिए वैक्सीन डोज पहुंचाई जा रही है। सरकार ने बीते हफ्ते ही फाइजर और बायोएनटेक को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है। देश के फेडरल ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) और डिजीस कंट्रोल सेंटर (सीडीसी) ने इसे सुरक्षित बताया है।

पांच लोगों के वैक्सीनेशन के साथ शुरू हुआ प्रोग्राम

डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विस ने पांच लोगों को वैक्सीन लगाकर वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत की। इसे किक ऑफ इवेंट नाम दिया गया है। इन पांच लोगों को वॉशिंगटन डीसी स्थित जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी हॉस्पीटल में टीका लगाया गया। यह सभी फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स हैं। इसके बाद हेल्थ डिपार्टमेंट के सीनियर ऑफिसर्स और डॉक्टर्स को वैक्सीन लगाई गई। आम अमेरिकियों को वैक्सीन लगाने की शुरूआत इस हफ्ते के बाद ही हो सकेगी।

अमेरिका ने आधी आबादी के लिए वैक्सीन का इंतजाम किया

अमेरिका ने मॉडर्ना की वैक्सीन के 10 करोड़ एक्स्ट्रा डोज का ऑर्डर दिया है। इससे पहले जुलाई में अमेरिका ने मॉडर्ना से एक लाख डोज खरीदे थे। उसने कुल 30 करोड़ एक्स्ट्रा डोज खरीदने का टारगेट रखा है। हर मरीज को दो डोज की जरूरत पड़ती है। इस लिहाज से 15 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा सकेगी।अमेरिका की आबादी करीब 33 करोड़ है। इसका मतलब है कि उसने आधी आबादी के लिए वैक्सीन का इंतजाम कर लिया है।