बलूचिस्तान में पाकिस्तानी सेना का प्लेन क्रैश:6 अफसरों की मौत; मौसम खराब होने की थ्योरी पर स्थानीय मीडिया ने खड़े किए सवाल

इस्लामाबाद18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बलूचिस्तान में सोमवार को लापता हुए पाकिस्तानी सेना के हेलिकॉप्टर का मलबा मंगलवार को मिल गया है। लासबेला जिले में मिले मलबे से 6 पाकिस्तानी अफसरों के शव बरामद किए गए हैं। इनमें लेफ्टिनेंट जनरल सरफराज अली भी मारे गए हैं

बलूचिस्तान में बाढ़ राहत कार्यों में लगे पाकिस्तानी सेना के हेलिकॉप्टर का सोमवार को ATC से संपर्क टूट गया था। हेलिकॉप्टर में कमांडर 12 कॉर्प्स, लेफ्टिनेंट जनरल सरफराज समेत 6 अधिकारी सवार थे। पाकिस्तान के डीजी इंटर-सर्विस पब्लिक रिलेशंस (ISPR) ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।

पाकिस्तानी सेना की थ्योरी पर खड़े किए हुए सवाल
बलूचिस्तान की न्यूज वेबसाइट ने मौसम खराब होने वाली पाकिस्तानी सेना की थ्योरी पर सवाल खड़े किए हैं। द बलूचिस्तान पोस्ट ने कहा कि पाकिस्तान की सेना दावा कर रही है कि खराब मौसम की वजह से प्लेन क्रैश हुआ है, जबकि हमारे सूत्रों और मौसम विभाग के आकंड़े बताते हैं कि जिस इलाके में हादसा हुआ है, वहां का मौसम पूरी तरह से सामान्य था। हवाओं की रफ्तार 16 से 24 किमी प्रति घंटे थी और बारिश 10% से भी कम थी।

द बलूचिस्तान पोस्ट ने सेना के खराब मौसम होने के दावे को गलत बताया है।
द बलूचिस्तान पोस्ट ने सेना के खराब मौसम होने के दावे को गलत बताया है।

पाकिस्तान PM ने जताया शोक
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पाकिस्तानी सेना के साथ हुए इस हादसे से मैं दुखी हूं। लेफ्टिनेंट जनरल सरफराज अली और सेना के 5 अन्य अधिकारियों की शहादत से देश शोक में है। उनकी जान बाढ़ पीड़ितों की मदद करते हुए गई है।

PM शहबाज शरीफ ने प्लेन क्रैश में मारे गए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी है।
PM शहबाज शरीफ ने प्लेन क्रैश में मारे गए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी है।

बलूचिस्तान में बारिश से 142 की मौत
बलूचिस्तान में भारी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या 142 हो गई है। PM शरीफ ने लोगों की मौत पर दुख जतय है। बलूचिस्तान में आई बाढ़ से निपटने के लिए सरकार पीड़ितों की मदद के लिए दिन-रात काम कर रही है। सभी को राशन दिया जा रहा है। फैल रही बीमारियों से बचने के लिए हेल्थ कैंप लगाए जा रहे हैं।

बलूचिस्तान में भारी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या 142 हो गई है।
बलूचिस्तान में भारी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या 142 हो गई है।