• Hindi News
  • International
  • Dmitry Medvedev Resignation | Dmitry Medvedev resigns as Russia Prime Minister Latest News and Updates; President Vladimir Putin

रूस / राष्ट्रपति पुतिन ने संविधान में बदलाव की बात कही, प्रधानमंत्री मेदवेदेव समेत पूरी सरकार का इस्तीफा

रूस के प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव ने इस्तीफा दिया। -फाइल रूस के प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव ने इस्तीफा दिया। -फाइल
X
रूस के प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव ने इस्तीफा दिया। -फाइलरूस के प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव ने इस्तीफा दिया। -फाइल

  • पुतिन ने नए प्रधानमंत्री के तौर पर टैक्स विभाग के प्रमुख मिशुस्तीन का नाम प्रस्तावित किया
  • राष्ट्रपति पुतिन ने नई सरकार के गठन तक सभी मंत्रियों से अपना जिम्मा संभालने की अपील की
  • राष्ट्र के नाम संदेश में पुतिन ने मेदवेदेव के लिए सुरक्षा समिति में डिप्टी सेक्रेटरी का पद सृजित किया

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 11:02 PM IST

मॉस्को. रूस के राष्ट्रपति के राष्ट्र के नाम संदेश के बाद पूरी रशिया सरकार ने इस्तीफा दे दिया। प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव ने बुधवार को इस फैसले की जानकारी दी। इस्तीफे के बाद पुतिन ने अपने सभी मंत्रियों को धन्यवाद दिया और तब तक कार्यवाहक सरकार के तौर पर काम करने की अपील की, जब तक नई सरकार का गठन नहीं किया जाता। न्यूज एजेंसी के मुताबिक पुतिन ने नए प्रधानमंत्री के तौर पर मिशुस्तीन का नाम प्रस्तावित किया है। वह फिलहाल टैक्स विभाग के प्रमुख के तौर पर काम कर रहे हैं।

मेदवेदेव ने यह निर्णय राष्ट्रपति के राष्ट्र के नाम संबोधन के कुछ घंटे बाद लिया। मेदवेदेव को राष्ट्रपति पुतिन का करीबी माना जाता है। पुतिन ने देश को संबोधित करते हुए बड़े पैमाने पर सुधारों की बात कही थी, जिनसे उनके बाद देश की सत्ता पर काबिज होने वाली सरकारें कमजोर हो जाएंगी। मेदवेदेव 2012 से प्रधानमंत्री का पदभार संभाल रहे थे। वे 2008 से 2012 के बीच देश के राष्ट्रपति रह चुके हैं।

हमने रूस के संविधान की धारा 117 के तहत यह कदम उठाया: मेदवेदेव

मेदवेदेव और पुतिन के बीच बुधवार को देश के हालात को लेकर मुलाकात हुई थी। इस्तीफे पर मेदवेदेव ने कहा कि हमने रूस के संविधान की धारा 117 के तहत यह कदम उठाया है। इसमें कहा गया है कि पूरी सरकार राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा पेश कर सकती है। यह राष्ट्रपति पर है कि वे इसे स्वीकार करते हैं, या नहीं। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि मेदवेदेव का मंत्रिमंडल निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने में विफल रहा।

मेदवेदेव को सुरक्षा समिति का डिप्टी सेक्रेटरी बनाने का प्रस्ताव
राष्ट्र के नाम संदेश में राष्ट्रपति पुतिन ने कई सुधारों की घोषणा की। उन्होंने कहा कि मैंने रूस की सुरक्षा समिति में डिप्टी सेक्रेटरी का पद सृजित करने का मन बनाया है और यह पद पर प्रधानमंत्री मेदवेदेव को दिया जाएगा। अब मेदवेदेव के इस्तीफा दिए जाने के बाद यह साफ हो गया है कि नई सरकार का गठन होने पर रूस को नया प्रधानमंत्री मिलना तय है।

पुतिन के भाषण में अधिकार बढ़ाने का आह्वान

भाषण में पुतिन ने प्रधानमंत्री और मंत्रिमंडल सदस्यों के अधिकारों को बढ़ाने के लिए संविधान में संशोधन के लिए रेफ्रेंडम का आह्वान किया। रूस के संविधान के मुताबिक, कोई भी व्यक्ति अधिकतम दो कार्यकाल तक राष्ट्रपति रह सकता है। पुतिन का दोहरा कार्यकाल 2024 में पूरा होगा। ऐसे में मेदवेदेव के इस्तीफे से ऐसा माना जा रहा है कि वह इसके बाद भी पद पर बने रहने के लिए संविधान में संशोधन कर सकते हैं।

पुतिन का पिछला दोहरा कार्यकाल 2008 में पूरा हुआ था

पिछली बार राष्ट्रपति के तौर पर पुतिन का कार्यकाल 2008 में पूरा हुआ था। इसके बाद मेदवेदेव राष्ट्रपति निर्वाचित हुए थे और पुतिन प्रधानमंत्री बने थे। हालांकि, सरकार की असल कमान पुतिन के हाथों में थी। 2012 में एक बार फिर से पुतिन राष्ट्रपति बने और मेदवेदेव प्रधानमंत्री चुने गए। अब पुतिन एक बार फिर से यही रास्ता अपनाकर नया प्रधानमंत्री या स्टेट काउंसिल के हेड बन सकते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना