• Hindi News
  • International
  • Kashmir Issue: Donald Trump To Pakistan Imram Khan, Resolve Kashmir Conflict With India Bilaterally: US President PAK PM

अमेरिका / ट्रम्प की इमरान को सलाह- कश्मीर मुद्दा सुलझाने के लिए भारत से बातचीत शुरू करें

Kashmir Issue: Donald Trump To Pakistan Imram Khan, Resolve Kashmir Conflict With India Bilaterally: US President PAK PM
X
Kashmir Issue: Donald Trump To Pakistan Imram Khan, Resolve Kashmir Conflict With India Bilaterally: US President PAK PM

  • इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की गुप्त बैठक से ठीक पहले अमेरिकी राष्ट्रपति से फोन पर बात की
  • व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान के मुताबिक, ट्रम्प ने पाक को द्विपक्षीय वार्ता की अहमियत समझने के लिए कहा

दैनिक भास्कर

Aug 17, 2019, 12:29 PM IST

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को सलाह दी है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से शुक्रवार को बातचीत के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि कश्मीर को लेकर किसी भी विवाद को सुलझाने के लिए पाक अपनी तरफ से भारत से बात शुरू करे। कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मुद्दे पर शुक्रवार को ही यूएन की गुप्त बैठक हुई। इससे पहले इमरान ने ट्रम्प को फोन लगाकर अमेरिका को अपने पक्ष में करने की कोशिश की। हालांकि, ट्रम्प ने इसे द्विपक्षीय मामला बताकर पाक की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। 

 

व्हाइट हाउस के डिप्टी प्रेस सेक्रेटरी होगन गिडले की ओर से जारी बयान के मुताबिक, ट्रम्प और इमरान के बीच क्षेत्र में हो रही हलचल पर बात हुई। ट्रम्प ने इसी दौरान इमरान को सलाह दी कि अगर पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर भारत के साथ तनाव कम करना चाहता है तो उसे द्विपक्षीय वार्ता की अहमियत समझनी होगी। 

 

पाक ने कश्मीर मुद्दे को गंभीर दिखाने की हरसंभव कोशिश की

इससे पहले पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस्लामाबाद में रिपोर्टर्स को बातचीत के दौरान बताया था कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्रम्प से बात की है। उन्होंने बताया कि ट्रम्प को कश्मीर के हालात और इस पर पाक की स्थिति से अवगत करा दिया गया है। इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के 5 स्थाई सदस्यों में से 4 से सीधे संपर्क साधे गए हैं। 

 

इमरान की कोशिशों के बावजूद पाक को नहीं मिला किसी का साथ
रिपोर्ट्स के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र की गुप्त बैठक में शामिल 5 स्थाई और 10 अस्थाई सदस्यों में पाक को चीन के अलावा किसी भी देश का साथ नहीं मिला। दावा किया गया है कि सुरक्षा परिषद के ज्यादातर सदस्यों ने इस मामले में कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। मीटिंग खत्म होने के बाद यूएन में भारत के प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने भी कहा कि कश्मीर से जुड़े फैसले भारत का आंतरिक मामला है। उन्होंने आरोप लगाया कि चीन और पाकिस्तान ने अपने विचारों को सभी के विचारों के तौर पर थोपने की कोशिश की। 

 

DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना