पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Donald Trump Impeachment Vs Joe Biden Update | What Impeachment Means For President Trump, Biden And The US

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर एक्सप्लेनर:ट्रम्प पर महाभियोग चलाने के क्या मायने? सीनेट में वोटिंग हुई तो क्या होगा? पढ़ें रिपोर्ट

वॉशिंगटन13 दिन पहले

अमेरिकी लोकतंत्र के 231 साल के इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी राष्ट्रपति को दूसरी बार महाभियोग का सामना करना पड़ रहा है। संसद के निचले सदन यानी हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स (HOR) में प्रस्ताव पारित हो गया है। सीनेट में फैसला होना बाकी है। ट्रम्प के कार्यकाल में सिर्फ पांच दिन बाकी हैं लिहाजा, सीनेट में क्या होगा? क्या वहां भी प्रस्ताव पारित हो जाएगा या ट्रम्प दूसरी बार भी महाभियोग से बच जाएंगे, इन सवालों का जवाब कुछ दिनों में मिलेगा। एक सवाल यह है कि इस महाभियोग की इस कवायद का मतलब क्या है? अमेरिका, प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और खुद ट्रम्प के लिए इसके क्या मायने हैं। आइए, ऐसी ही कुछ बातों पर नजर डालते हैं।

ट्रम्प की वजह से रिपब्लिकन पार्टी में फूट
HOR में जब वोटिंग हुई तो 10 रिपब्लिकन सांसद (ट्रम्प की पार्टी) डेमोक्रेट्स के साथ खड़े दिखे। सीनेट में अगर वोटिंग की नौबत आती है तो क्या होगा, ये वक्त बताएगा। लेकिन, हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स में महाभियोग प्रस्ताव के समर्थन से इतना तो साफ है कि ट्रम्प को लेकर रिपब्लिकन पार्टी में सब ठीक नहीं है। ग्राहम और मिट रोमनी जैसे कुछ सांसद ऐसे भी थे, जिन्होंने प्रस्ताव के पक्ष में तो वोट नहीं किया, लेकिन ट्रम्प के बर्ताव को लोकतंत्र का अपमान बताया। अब सवाल ये है कि रिपब्लिकन इस मुद्दे पर और बंटेंगे, या सब चीजें सामान्य हो जाएंगी।

यह ट्रम्प और उनकी सोच पर महाभियोग है
BBC के नॉर्थ अमेरिका एक्सपर्ट एंथनी जुरचेर कहते हैं- डेमोक्रेट्स एक तरह से राष्ट्रपति पर नहीं, बल्कि ट्रम्प और उनकी सोच पर महाभियोग चला रहे हैं। प्रस्ताव में इस बात का साफ तौर पर जिक्र भी है कि ट्रम्प ने नवंबर के चुनाव के बाद किस तरह के बयान दिए। HOR की बहस में भी यही बातें उभरकर आईं। कुछ डेमोक्रेटिक सांसद ऐसे भी हैं जो ट्रम्प पर कार्यकाल के आखिरी दौर में शिकंजा कसना चाहते हैं।

पार्टी में ट्रम्प का दबदबा कम नहीं हुआ
जॉर्जिया में सीनेट की दो सीटों पर चुनाव हुआ, वहां रिपब्लिकन जीते और इस कैम्पेन को ट्रम्प ने ही संभाला। सीनेट में रिपब्लिकन का बहुमत यह साबित करता है कि पार्टी में किंगमेकर ही हैं। बहुत मुमकिन है कि 2024 में भी वे ही राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनें। हालांकि, यह इस बात पर निर्भर करता है कि सीनेट में महाभियोग प्रस्ताव पास होता है या नहीं। अगर ये पास हो गया तो 2024 में ट्रम्प राष्ट्रपति की दौड़ से बाहर हो जाएंगे। ये संवैधानिक व्यवस्था है। 5 साल में ट्रम्प ने आलोचकों को गलत साबित किया है। विवादों और स्कैंडल्स से वे बाहर निकल गए, लेकिन इस बार हालात ज्यादा गंभीर हैं।

बाइडेन के लिए भी अजीब हालात
चुनाव में कोरोनावायरस पर ट्रम्प की नाकामी मुद्दा बनी। उनकी हार का सबसे बड़ा कारण भी यही माना गया। अमेरिका में अब भी हजारों लोग हर दिन दम तोड़ रहे हैं। इकोनॉमी पर भी गंभीर असर पड़ रहा है। सवाल यह है कि बाइडेन अब सीनेट ट्रायल में उलझेंगे या इन दोनों मुद्दों पर फोकस करेंगे।

रिपब्लिकन्स मानते हैं कि अगर ट्रम्प पर महाभियोग हुआ तो इससे अमेरिकी समाज पहले से ज्यादा बंट जाएगा। बाइडेन जख्मों पर मरहम का वादा करके सत्ता में आए हैं। अगर महाभियोग को मंजूरी मिली तो यह जख्म कुरेदने जैसा होगा। अमेरिका में राष्ट्रपति के पहले 100 दिन बहुत मायने रखते हैं। अगर बाइडेन महाभियोग में उलझ गए तो यह उनकी मुश्किलों में इजाफा ही करेगा। ऐसा भी बिल्कुल नहीं है कि बाइडेन और उनके सलाहकारों को इन बातों का इल्म न हो।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser