मिस्र / राष्ट्रपति का फरमान- काहिरा की इमारतें एक रंग की हों, नहीं तो जिम्मेदारों को हो सकती है सजा



काहिरा में ज्यादातर इमारतें बदरंग हैं। -फाइल काहिरा में ज्यादातर इमारतें बदरंग हैं। -फाइल
Egyptian president calls for unified colour scheme for buildings
X
काहिरा में ज्यादातर इमारतें बदरंग हैं। -फाइलकाहिरा में ज्यादातर इमारतें बदरंग हैं। -फाइल
Egyptian president calls for unified colour scheme for buildings

  • काहिरा के मकान मटमैले और तटीय इलाकों के नीले रंग में रंगने का आदेश
  • राष्ट्रपति का मानना- अलग-अलग रंग के मकान भद्दे लगते हैं, मार्च तक पूरा करना होगा काम

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2019, 08:04 AM IST

काहिरा. राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी के निर्देश पर अमल करते हुए मिस्र की सरकार ने भवनों को एक रंग में रंगने की कवायद शुरू कर दी है। प्रधानमंत्री मोस्तफा मेडबोली ने कैबिनेट की बैठक में कहा कि मार्च तक भवनों को एक जैसा रूप नहीं दिया गया तो जिम्मेदार कर्मचारियों और मकान मालिकों को सजा दी जा सकती है। राष्ट्रपति का आदेश है कि काहिरा के सारे भवनों पर मटमैला रंग हो, जबकि तटीय इलाके के घर नीले रंग के हों।

मिस्र में दिखाई देती हैं लाल ईंटों की इमारतें

  1. शहरी योजना के विशेषज्ञ डेविड सिम्स कहते हैं कि मिस्र में ज्यादातर घर रेड ब्रिक से बने हैं। इन्हें पेंट करना राष्ट्रीय परियोजना है। गांवों में ज्यादातर घर लाल ईंटों से बने हैं, वहीं शहरों में लाल ईंटों से बने आधे से ज्यादा भवन गैरकानूनी हैं।

  2. सरकार का एक और कड़ा फैसला

    मिस्र की सरकार सख्त फैसलों से पहले ही बदनाम है। जरूरी चीजों पर सब्सिडी में कटौती और मौन विरोध जताने वाले हजारों लोगों की गिरफ्तारी के फैसले जनता को रास नहीं आए हैं। गरीबों को शहरों से बाहर भेजने का फैसला भी सरकार को बदनाम करने वाला है। अवैध कॉलोनियों को भी सरकार इसी साल खत्म करना चाहती है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना