लंदन / महिला यात्री के पहनावे को देखकर फ्लाइट क्रू ने कहा- शरीर ढंकें या विमान से उतर जाएं

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2019, 04:26 PM IST



emily oconnor to board thomas cook airlines birmingham to canary islands flight told cover
X
emily oconnor to board thomas cook airlines birmingham to canary islands flight told cover

  • बर्मिंघम एयरपोर्ट से कैनरी आइलैंड जा रही थी महिला यात्री
  • यात्रा के दौरान महिला ने हाई वेस्ट पैंट और क्रॉप टॉप पहना था

लंदन. इंग्लैंड के बर्मिंघम में एक महिला को सिर्फ इसलिए फ्लाइट से उतारने की धमकी दे दी गई, क्योंकि विमान के क्रू को उसके कपड़ों पर आपत्ति थी। फ्लाइट में बैठने के बाद महिला से यहां तक कहा गया कि या तो वह अपने कपड़े बदल लें या फिर फ्लाइट छोड़ दें। चौंकाने वाली बात यह है कि इस दौरान साथी यात्रियों में किसी ने भी महिला के बचाव में आवाज नहीं उठाई। इस घटना के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद एयरलाइन को दुर्व्यव्हार के लिए महिला से माफी मांगनी पड़ी।

 

ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक, पीड़ित महिला का नाम एमिली ओ कॉनर है। वह पिछले हफ्ते थॉमस कुक एयरलाइंस कंपनी के विमान से स्पेन के कैनरी आइलैंड जा रही थी। एमिली ने खुद इस घटना को ट्विटर पर पोस्ट किया है। एमिली के मुताबिक, यह उनकी जिंदगी का सबसे शर्मनाक अनुभव था। एयरपोर्ट प्रशासन और सिक्योरिटी चेकिंग ने उनके कपड़ों पर कोई आपत्ति नहीं जताई। लेकिन विमान का क्रू कपड़ों को अनुचित बताता रहा है। एमिली ने बताया कि विमान में चार क्रू मेंबर उनका सामान बाहर ले जाने के लिए तैयार खड़े थे। 

 

महिला को कवर करने के लिए उसकी बहन ने जैकेट दिया

एमिली ने बताया कि उन्होंने इस घटना के बाद फ्लाइट में सवार बाकी यात्रियों से अपने कपड़ों के बारे में पूछा, लेकिन किसी ने भी उनका साथ नहीं दिया। क्रू की धमकियों के चलते आखिरकार फ्लाइट में साथ सफर कर रही उनकी बहन ने उन्हें शरीर ढकने के लिए जैकेट दिया। एमिली ने कहा कि उनसे दो सीट पीछे बैठा एक व्यक्ति शॉर्ट पैंट्स और बनियान पहनकर यात्रा कर रहा था, लेकिन उसे कुछ नहीं कहा गया। मैंने अपने बगल वाले यात्री से पहनावे को लेकर पूछा लेकिन उसने कोई आपत्ति नहीं जताई।"

 

थॉमस कुक ने बयान जारी कर मांगी माफी

मंगलवार को इस मामले पर थॉमस कुक एयरलाइंस ने माफी मांगी है। एयरलाइंस ने बयान में कहा कि आमतौर पर यात्रियों के लिए एक उपयुक्त पोशाक नीति होती है। यह बिना किसी भेदभाव के पुरुषों और महिलाओं दोनों पर लागू होती हैं। लेकिन एमिली के साथ हुआ बर्ताव गलत था। इस मामले से फ्लाइट क्रू को बेहतर ढंग से निपटना था। 

COMMENT