कोरोना से जंग / फ्रांस ने हाईस्पीड ट्रेन को एंबुलेंस के रूप में बदला, ट्रेन एक घंटे में 300 किमी का सफर तय करती है

मेडिकल स्टाफ की मौजूदगी में ट्रेन में मरीजों को इस तरह लाया जा रहा है। मेडिकल स्टाफ की मौजूदगी में ट्रेन में मरीजों को इस तरह लाया जा रहा है।
ट्रेन में मौजूद मेडिकल स्टाफ। ट्रेन में मौजूद मेडिकल स्टाफ।
X
मेडिकल स्टाफ की मौजूदगी में ट्रेन में मरीजों को इस तरह लाया जा रहा है।मेडिकल स्टाफ की मौजूदगी में ट्रेन में मरीजों को इस तरह लाया जा रहा है।
ट्रेन में मौजूद मेडिकल स्टाफ।ट्रेन में मौजूद मेडिकल स्टाफ।

  • देशभर में मौजूद किसी भी मरीज को केवल 5 घंटे में यह ट्रेन राजधानी पेरिस तक ले आएगी
  • पहली ट्रेन 20 मरीजों को लेकर अस्पताल पहुंची, हर कैबिन में 4 मरीजों को लाया जा सकता है

दैनिक भास्कर

Mar 29, 2020, 01:30 PM IST

पेरिस. फ्रांस ने अपनी एक हाईस्पीड टीजीवी ट्रेन को देशभर में कोरोना मरीजों को लाने-लेजाने के  लिए अस्पताल के रूप में तब्दील कर दिया। देशभर में कहीं भी अगर कोरोना का मरीज है, उसे 5 घंटे में ही यह ट्रेन राजधानी पेरिस तक ले आएगी। ट्रेन के हरेक कैबिन में 4 मरीजों को लाया जा सकता है। इसमें ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और मेडिकल स्टाफ जैसी आपातकालीन सुविधाएं मौजूद हैं। शुक्रवार को गंभीर हालत में करीब 20 कोरोना मरीजों को ट्रेन से अस्पताल तक पहुंचाया गया। यह ट्रेन एक घंटे में 300 किमी का सफर तय करती है।

ट्रेन में मरीजों की देखभाल करने वाले डॉक्टर लियोनेल लामहुत ने बताया कि फ्रांस के पूर्वी और पश्चिम क्षेत्र में कोरोना के ज्यादातर मरीज सामने आ रहे हैं। ट्रेन के हर कैबिन में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और अन्य सभी जरूरी उपकरण के कारण हेलिकॉप्टर की तुलना में ज्यादा सुविधाजनक है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना