• Hindi News
  • International
  • France Said Rafale Aircraft Will Be Delivered To India In Due Time, There Will Be No Delay In Delivery

राफेल डील:फ्रांस ने कहा- भारत को राफेल जेट फाइटर्स तय वक्त पर मिलेंगे, इनकी डिलीवरी में देरी नहीं होगी

नई दिल्ली2 वर्ष पहले
कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को काबू करने के लिए फ्रांस उलझा हुआ था। ऐसे में आशंकाएं थीं कि महामारी के कारण राफेल जेट की डिलीवरी में देरी हो सकती है।
  • फ्रांस के राजदूत ने कहा- जो रूपरेखा बनी थी, उसका पूरा पालन किया जा रहा है
  • भारत ने फ्रांस से 36 राफेल जेट्स खरीदे हैं, इसमें 30 लड़ाकू और छह ट्रेनर विमान हैं

फ्रांस ने कहा है कि भारत को 36 राफेल विमानों की डिलीवरी तय वक्त पर ही की जाएगी। इसमें देरी नहीं होगी। भारत में फ्रांस के राजदूत एमैनुएल लेनैन ने कहा- विमानों की डिलीवरी उसी समय पर होगी जो तय की गई थी। लेनैन ने न्यूज एजेंसी पीटीआई से बातचीत में बताया कि राफेल जेट की डिलीवरी को लेकर जो रूपरेखा बनी थी, अभी तक उसका पूरा पालन किया गया है।

डील के अनुसार, फ्रांस ने अप्रैल के अंत तक एक राफेल जेट भारत को दे दिया था। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पहला राफेल आठ अक्टूबर को प्राप्त किया था। लेनैन ने कहा, “हम जल्द से जल्द फ्रांस से चार राफेल जेट की पहली खेप भारत लाने के लिए व्यवस्थाएं करने में भारतीय वायुसेना की मदद कर रहे हैं। अभी ऐसा कोई कारण नहीं हैं, जिससे यह अनुमान लगाया जाए कि शेड्यूल को बनाए रखा नहीं जाएगा।”
इन 36 राफेल जेट्स में 30 फाइटर जेट्स हैं और छह ट्रेनर विमान हैं। ट्रेनर जेट्स दो सीटों वाले होंगे। इनमें फाइटर जेट्स के सभी फीचर होंगे।

58 हजार करोड़ की लागत से 36 राफेल जेट्स खरीदे गए हैं
भारत ने सितंबर 2016 में लगभग 58 हजार करोड़ रुपये की लागत से 36 राफेल लड़ाकू जेट की खरीद के लिए फ्रांस के साथ डील साइन की थी। राफेल जेट के आने से  भारतीय वायुसेना की युद्धक क्षमता में काफी बढ़ोतरी होगी। यह विमान कई ताकतवर हथियारों को ले जाने में सक्षम है। इसमें मिटियोर एयर टू एयर और स्कैल्प क्रूज मिसाइल साथ भी लगी होंगी।

मिसाइल सिस्टम के अलावा, राफेल जेट और भी मोडिफाइड होकर आएंगे। इसमें इजरायल हेलमेट-माउंटेड डिस्प्ले, रडार वॉर्निंग रिसीवर, लो बैंड जैमर, 10 घंटे की उड़ान की डेटा रिकॉर्डिंग, इन्फ्रा-रेड सर्च और ट्रैकिंग सिस्टम शामिल हैं।

कोरोना संक्रमण से जूझ रहा है फ्रांस
कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को काबू करने के लिए फ्रांस उलझा हुआ है। ऐसे में आशंकाएं थीं कि महामारी के कारण राफेल की डिलीवरी में देरी हो सकती है। फ्रांस में अब तक 1 लाख 45 हजार मामले सामने आए हैं, जबकि 28 हजार 330 लोगों की मौत हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...