गाजा पट्टी के रिफ्यूजी कैंप में आग:21 की मौत, इनमें 10 बच्चे; कैंप में फिलिस्तीनी शरणार्थी थे

गाजा सिटी2 महीने पहले
गाजापट्टी की जिस इमारत में आग लगी, वहां जाबालिया रिफ्यूजी कैंप है। यहां ज्यादातर फिलिस्तीनी रिफ्यूजी रहते हैं।

गाजा पट्टी पर गुरुवार देर रात रिफ्यूजी कैंप में आग लग गई। हादसे में 21 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 10 बच्चे भी हैं। जिस इमारत में यह आग लगी, वहां बड़ी संख्या में फिलिस्तीनी रिफ्यूजी रहते हैं। आशंका जाहिर की जा रही है कि गैस लीक होने के कारण आग लगी।

पुलिस अफसर ने बताया कि आग लगने के कारण का पता नहीं चल सका है। प्राइमरी इन्वेस्टिगेशन के मुताबिक, बिल्डिंग में गैसोलीन रखी थी। हो सकता है कि आग लगने वजह यही हो।

4 मंजिला इमारत की पहली मंजिल पर आग लगी और देखते ही देखते आग की लपटें पूरी इमारत में तेजी से फैल गईं।
4 मंजिला इमारत की पहली मंजिल पर आग लगी और देखते ही देखते आग की लपटें पूरी इमारत में तेजी से फैल गईं।

मौतों का आंकड़ा बढ़ सकता है
जिस अस्पताल में बॉडीज और घायलों को लाया गया है, वहां के डायरेक्टर ने मृत बच्चों की संख्या 10 बताई है। एक अफसर ने कहा- आग काफी भयानक थी। मरने वालों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं। कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए जिसके चलते मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

इस हादसे की तस्वीरें और इससे जुड़ी जानकारी जानने से पहले आप अपनी राय हमें जरूर दें...

चश्मदीद बोला- महिलाएं-बच्चे जिंदा जल रहे थे, बचाना मुश्किल था
एक चश्मदीद ने बताया- लोग इमारत के सामने चिल्ला रहे थे। प्रार्थना कर रहे थे कि कोई आकर उनके रिश्तेदारों को बचा ले। बच्चे और महिलाएं जिंदा जल रहे थे और उन्हें बचाने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रही थी। एक स्थानीय ने बताया- इमारत में गैसोलीन रखी थी। इससे वहां जेनरेटर ऑपरेट किया जाता था।

हादसे की तस्वीरें...

इमारत में आग की खबर मिलने के बाद अफरा-तफरी मच गई।
इमारत में आग की खबर मिलने के बाद अफरा-तफरी मच गई।
हादसे की खबर मिलते ही मौके पर दमकल विभाग की गाड़ियां और एम्बुलेंस पहुंची। घायलों को फौरन अस्पताल ले जाया गया।
हादसे की खबर मिलते ही मौके पर दमकल विभाग की गाड़ियां और एम्बुलेंस पहुंची। घायलों को फौरन अस्पताल ले जाया गया।
रेस्क्यू टीम ने आग पर काबू पाने के बाद बिल्डिंग में फंसे लोगों को बाहर निकाला।
रेस्क्यू टीम ने आग पर काबू पाने के बाद बिल्डिंग में फंसे लोगों को बाहर निकाला।
पुलिस बिल्डिंग में आग लगने के कारण का पता लगा रही है। पुलिस का कहना है कि आग किचन में रखी गैस में लगी होगी और बाद में ये फैल गई।
पुलिस बिल्डिंग में आग लगने के कारण का पता लगा रही है। पुलिस का कहना है कि आग किचन में रखी गैस में लगी होगी और बाद में ये फैल गई।
इन्वेस्टिगेशन टीम जांच कर रही है कि रेसिडेंशियल बिल्डिंग में भारी मात्रा में गैसोलीन क्यों रखा हुआ था।
इन्वेस्टिगेशन टीम जांच कर रही है कि रेसिडेंशियल बिल्डिंग में भारी मात्रा में गैसोलीन क्यों रखा हुआ था।
पुलिस ने लोगों की सुरक्षा को देखते हुए आस-पास के इलाके को सील कर दिया है।
पुलिस ने लोगों की सुरक्षा को देखते हुए आस-पास के इलाके को सील कर दिया है।

विदेश से आया था रिश्तेदार, वापसी का जश्न चल रहा था
एक अधिकारी ने बताया कि इमारत में जश्न चल रहा था। एक परिवार का रिश्तेदार विदेश से वापस आया था और उसके लिए ही सेलिब्रेशन किया जा रहा था। मृतकों में ज्यादातर एक ही परिवार के सदस्य हैं। संख्या अभी साफ नहीं हो पाई है।

एक घंटा लगा आग पर काबू पाने में, ज्यादातर लोगों को रेस्क्यू किया
एक दमकलकर्मी ने बताया कि आग काफी भयानक थी। आग पर काबू पाने में करीब एक घंटे का समय लगा। इसी बीच लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन भी जारी रहा। बिल्डिंग में रह रहे ज्यादातर लोगों को बाहर निकाल लिया गया है। फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने इस हादसे को नेशनल ट्रैजडी बताया है। एक दिन के शोक की भी घोषणा की है।

दुनिया में सबसे घनी आबादी वाली जगहों में एक गाजा, 6 लाख रिफ्यूजियों का घर
एक रिपोर्ट के मुताबिक, गाजापट्टी दुनिया में सबसे घनी आबादी वाली जगहों में एक है। यहां 23 लाख लोग रहते हैं। आमतौर पर घनी आबादी वाली जगहों में एक स्क्वायर किलोमीटर में 5 हजार 700 की आबादी रहती है। ये आंकड़ा लंदन की आबादी की तरह है, लेकिन बात अगर गाजा की हो तो एक स्क्वायर किलोमीटर में 9 हजार लोग रहते हैं।

ये खबरें भी पढ़ें...

मालदीव में बिल्डिंग के गैरेज में आग लगी, 9 भारतीयों समेत 11 की मौत

मालदीव के माले शहर में गुरुवार को एक बिल्डिंग के गैरेज में आग लग गई। इस हादसे में 9 भारतीयों समेत 11 लोगों की मौत हो गई। आग ग्राउंड फ्लोर पर बने गैरेज में लगी, जो काफी भीषण थी। इसकी लपटें पहली मंजिल तक पहुंच गई। देखते ही देखते पूरी इमारत जल गई। पढ़ें पूरी खबर...

दक्षिण अफ्रीका की संसद में भीषण आग, मीलों दूर से नजर आईं लपटें

दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन में स्थित संसद भवन में आग लगने की वजह से छत गिर गई। दमकल विभाग की 35 गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाने की कोशिश की। आग लगने की वजह से संसद के कई हिस्से जलकर खाक होने की आशंका है। स्थानीय समयानुसार, आज सुबह करीब 5 बजे हाउस ऑफ पार्लियामेंट में आग लगी। पढ़ें पूरी खबर...

पाकिस्तान में बस में आग लगने से 18 जिंदा जले, सभी बाढ़ पीड़ित

पाकिस्तान के जमशोरो जिले में बुधवार को एक यात्री बस में आग लग गई। हादसे में 8 बच्चों सहित 18 लोग जिंदा जल गए, जबकि कई लोग घायल हो गए। सभी को जमशोरो अस्पताल ले जाया गया है। पढ़ें पूरी खबर...