हॉन्गकॉन्ग / घर बनाने से ज्यादा महंगी ‘दो गज जमीन’, अस्थिकलश दफनाने के लिए डेढ़ करोड़ रु. में मिल रहा टुकड़ा



भस्म दफनाने के लिए हॉन्गकॉन्ग में जमीन की कमी। भस्म दफनाने के लिए हॉन्गकॉन्ग में जमीन की कमी।
लॉकर्स में रखे जा रहे अस्थिकलश। लॉकर्स में रखे जा रहे अस्थिकलश।
2016 में एक क्रूज शिप को रेस्त्रां में बदलने के साथ उसमें 48 हजार अस्थिकलशों के लिए भी जगह बनाने का प्रस्ताव था। 2016 में एक क्रूज शिप को रेस्त्रां में बदलने के साथ उसमें 48 हजार अस्थिकलशों के लिए भी जगह बनाने का प्रस्ताव था।
X
भस्म दफनाने के लिए हॉन्गकॉन्ग में जमीन की कमी।भस्म दफनाने के लिए हॉन्गकॉन्ग में जमीन की कमी।
लॉकर्स में रखे जा रहे अस्थिकलश।लॉकर्स में रखे जा रहे अस्थिकलश।
2016 में एक क्रूज शिप को रेस्त्रां में बदलने के साथ उसमें 48 हजार अस्थिकलशों के लिए भी जगह बनाने का प्रस्ताव था।2016 में एक क्रूज शिप को रेस्त्रां में बदलने के साथ उसमें 48 हजार अस्थिकलशों के लिए भी जगह बनाने का प्रस्ताव था।

  • जमीन की बढ़ती कीमतों के चलते ज्यादातर लोग अस्थियों को एक पार्क पर बिखेर देते हैं, इसे ग्रीन बुरियल कहा जाता है
  • सरकारी लॉकर में अस्थिकलश रखने के लिए 22 हजार रु. सालाना देने होते हैं, लेकिन यहां भी 4 साल की वेटिंग

Dainik Bhaskar

Apr 28, 2019, 08:07 AM IST

हॉन्गकॉन्ग. यहां जमीन के भाव आसमान छू रहे हैं। चिता की राख दफनाने के लिए अगर आपको छोटा सा जमीन का टुकड़ा चाहिए तो इसके लिए 1 लाख 80 पाउंड (करीब एक करोड़ 62 लाख रुपए) चुकाने होंगे। इतनी कीमत में पॉश इलाके में प्रति वर्गफीट के हिसाब से जमीन मिल सकती है। जमीन की बढ़ती कीमतों असर यह है कि 4 लाख अस्थिकलश अभी भी दफनाए जाने का इंतजार कर रहे हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना