--Advertisement--

तूफान / अमेरिका से टकराया ‘माइकल’, 200 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चल रही हवाएं



अंतरिक्ष से ली गई तूफान माइकल की फोटो। अंतरिक्ष से ली गई तूफान माइकल की फोटो।
तटीय इलाकों में तूफान की वजह से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई। तटीय इलाकों में तूफान की वजह से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई।
200 किमी/घंटे की रफ्तार से चली हवाओं की वजह से फ्लोरिडा के तटीय इलाकों में इमारतों को भारी नुकसान पहुंचा। 200 किमी/घंटे की रफ्तार से चली हवाओं की वजह से फ्लोरिडा के तटीय इलाकों में इमारतों को भारी नुकसान पहुंचा।
तूफान की वजह से भूस्खलन और पेड़ गिरने के कई मामले सामने आए। तूफान की वजह से भूस्खलन और पेड़ गिरने के कई मामले सामने आए।
कई दुकानों के ऊपर लगे साइनबोर्ड और पुतले नीचे जमीन पर गिर पड़े। कई दुकानों के ऊपर लगे साइनबोर्ड और पुतले नीचे जमीन पर गिर पड़े।
तेज हवाओं से एक घर का मलबा गाड़ी के ऊपर गिर पड़ा। तेज हवाओं से एक घर का मलबा गाड़ी के ऊपर गिर पड़ा।
तूफान की वजह से करीब 8 फीट ऊंची लहरें तूफान की वजह से करीब 8 फीट ऊंची लहरें
बचावकर्मियों की टीम ने तटीय इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। बचावकर्मियों की टीम ने तटीय इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।
X
अंतरिक्ष से ली गई तूफान माइकल की फोटो।अंतरिक्ष से ली गई तूफान माइकल की फोटो।
तटीय इलाकों में तूफान की वजह से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई।तटीय इलाकों में तूफान की वजह से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई।
200 किमी/घंटे की रफ्तार से चली हवाओं की वजह से फ्लोरिडा के तटीय इलाकों में इमारतों को भारी नुकसान पहुंचा।200 किमी/घंटे की रफ्तार से चली हवाओं की वजह से फ्लोरिडा के तटीय इलाकों में इमारतों को भारी नुकसान पहुंचा।
तूफान की वजह से भूस्खलन और पेड़ गिरने के कई मामले सामने आए।तूफान की वजह से भूस्खलन और पेड़ गिरने के कई मामले सामने आए।
कई दुकानों के ऊपर लगे साइनबोर्ड और पुतले नीचे जमीन पर गिर पड़े।कई दुकानों के ऊपर लगे साइनबोर्ड और पुतले नीचे जमीन पर गिर पड़े।
तेज हवाओं से एक घर का मलबा गाड़ी के ऊपर गिर पड़ा।तेज हवाओं से एक घर का मलबा गाड़ी के ऊपर गिर पड़ा।
तूफान की वजह से करीब 8 फीट ऊंची लहरेंतूफान की वजह से करीब 8 फीट ऊंची लहरें
बचावकर्मियों की टीम ने तटीय इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।बचावकर्मियों की टीम ने तटीय इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।
  • बुधवार सुबह माइकल कैटेगरी-4 का तूफान था, तब हवाओं की गति करीब 210 किमी/घंटा थी
  • फ्लोरिडा तट से टकराने से पहले माइकल की तीव्रता कैटेगरी-3 तूफान की हुई, हवाओं की रफ्तार 200 किमी/घंटा हुई

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 10:50 AM IST

न्यूयॉर्क. अमेरिका मेें 167 साल का सबसे भीषण तूफान ‘हरिकेन माइकल’ गुरुवार को फ्लोरिडा के उत्तर-पश्चिमी तट से टकराया। तूफान की वजह से 200 किमी/घंटा की रफ्तार से हवाएं चलीं, जिससे तटीय इलाकों में भूस्खलन और पेड़ गिरने जैसी घटनाएं हुई। भारी बारिश से समुद्र के करीबी इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई। पेड़ की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। 

अभी भी चल रहीं तेज हवाएं

  1. राज्य के आपातकालीन सेवा विभाग के मुताबिक, फ्लोरिडा, अलाबामा और ज्योर्जिया में तूफान की वजह से 5 लाख लोग बिना बिजली के रहने को मजबूर हैं। तट से टकराने के वक्त माइकल इतना ताकतवर था कि अंदर घुसने के बावजूद हवाओं की रफ्तार में खास कमी नहीं आई। 

  2. जानकारी के मुताबिक, माइकल मंगलवार को कैटेगरी-2 का तूफान था। लेकिन बुधवार सुबह तक इसकी तीव्रता बढ़कर कैटेगरी-4 के ‘अत्याधिक खतरनाक’ तूफान की हो गई थी। वैज्ञानिकों का कहना था कि इस बेहद भीषण तूफान की तुलना पिछले तूफानों से नहीं की जा सकती। हालांकि, बुधवार शाम तट से टकराने से पहले माइकल की तीव्रता घटकर कैटेगरी-3 पर आ गई। 

  3. माइकल की चपेट में आकर मध्य अमेरिका में अब तक 13 लोगों की मौत हुई है। होंडुरास में 6 की मौत, निकारागुआ में 4 और अल-साल्वाडोर 3 लोगों की मौत हुई। खतरे को देखते हुए फ्लोरिडा से पहले ही 3.70 लाख लोगों को निकाल लिया गया। अधिकारियों का कहना है कि कई लोगों ने उनकी चेतावनी नहीं मानी। 

  4. फ्लोरिडा से कभी नहीं टकराया ऐसा भीषण तूफान

    रिकॉर्ड के मुताबिक, फ्लोरिडा पैनहैंडल (उत्तर-पश्चिमी इलाकों) से आज तक कभी कैटेगरी-4 तूफान नहीं टकराया। तूफान से निपटने के लिए नेशनल गार्ड के 2500 सदस्यों को ड्यूटी पर लगाया गया है। राहत अभियानों के लिए संघीय फंड जारी किए गए।

  5. वहीं, न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, माइकल अमेरिका में भूस्खलन लाने वाला तीसरा सबसे ताकतवर तूफान है। इससे पहले 1969 में मिस्सीसिपी और 1935 में फ्लोरिडा में तूफानों की वजह से अमेरिकी मेनलैंड में भूस्खलन हुआ था। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..