पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • International
  • Imran Khan China Vaccine | Pakistan Prime Minister Personally Handling The Matter Of Chinese Vaccine With Saudi And Other Countries

चीन की वैक्सीन PAK के लिए मुसीबत:इमरान खान खुद सऊदी और दूसरे अरब देशों को मनाने में जुटे, जनता पाकिस्तान सरकार से सवाल पूछ रही

इस्लामाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चीनी वैक्सीन को अप्रूवल दिलाने के लिए इमरान खुद खाड़ी देशों से बात कर रहे हैं। (फाइल) - Dainik Bhaskar
चीनी वैक्सीन को अप्रूवल दिलाने के लिए इमरान खुद खाड़ी देशों से बात कर रहे हैं। (फाइल)

चीन की वैक्सीन पाकिस्तान के लिए परेशानी का सबब बन गई हैं। हज यात्रा या रोजगार के लिए पाकिस्तानी नागरिक सऊदी अरब जाना चाहते हैं, लेकिन सऊदी और दूसरे गल्फ कंट्रीज चीनी वैक्सीन लगवाने वाले पाकिस्तानियों को वीजा नहीं दे रहे हैं। अब होम मिनिस्टर शेख रशीद ने कहा है कि खाड़ी देशों के साथ यह मामला सुलझाने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान खुद बातचीत कर रहे हैं। लोग भी इस मामले पर पाकिस्तान सरकार से बेहद नाराज हैं।

रशीद ने क्या कहा
शेख रशीद ने रविवार को माना कि सऊदी अरब और दूसरे खाड़ी देश उन पाकिस्तानियों को वीजा इश्यू नहीं कर रहे हैं, जिन्होंने चीन में बनी वैक्सीन लगवाई हैं। रशीद ने कहा- हमारे लिए भी यह बहुत फिक्र की बात है कि खाड़ी देश ऐसा कर रहे हैं, लेकिन इस मामले का कोई रास्ता तो निकालना ही होगा। कैबिनेट मीटिंग में प्रधानमंत्री ने खुद कहा कि वे इस मामले पर सभी संबंधित देशों से बातचीत कर रहे हैं।

दिक्कत कहां है
दुनिया के कई देशों की तरह सऊदी अरब और दूसरे खाड़ी देशों ने चीन की साइनोफार्म और साइनोवैक वैक्सीन को मंजूरी नहीं दी है। चीन ने पाकिस्तान को पहले तो 10 लाख वैक्सीन डोनेट कीं, फिर पाकिस्तान ने लाखों वैक्सीन खरीदने का एग्रीमेंट किया। पाकिस्तान से हजारों लोग हज यात्रा या फिर रोजगार के लिए खाड़ी देशों में जाते हैं। इनमें से कुछ पिछले साल और इस साल लॉकडाउन में इन देशों से वापस भी आए थे। खाड़ी देशों में जो लोग जाना चाहते हैं, उनके पास वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट होना जरूरी है। इन लोगों ने चीनी वैक्सीन तो लगवा ली, लेकिन वीजा मंजूर नहीं हुए।

सरकार से सवाल
सरकार से नाराज कुछ लोग अब हर मंच पर अपनी आवाज उठा रहे हैं। इनका कहना है कि अगर चीनी वैक्सीन को दुनिया के दूसरे देश मंजूरी दे ही नहीं रहे तो फिर इमरान सरकार ने ये वैक्सीन क्यों खरीदीं। सऊदी और दूसरे खाड़ी देशों ने अब तक फाइजर, एस्ट्राजेनिका, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन को ही अप्रूवल दिया है।

पाकिस्तान ने कुछ डोज रूस की स्पुतनिक वैक्सीन के खरीदे हैं। अमेरिका या ब्रिटेन की कोई वैक्सीन उनके पास नहीं है। ऐसे में लोगों की नाराजगी और बढ़ रही है। इस पर रशीद कहते हैं- अगर कोई देश चीन की वैक्सीन को मंजूरी नहीं देता तो इससे महामारी कैसे खत्म होगी। दिक्कत बढ़ती जाएगी।