पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • India China Border News Update | Chinese People Liberation Army Construction Activities In Ladakh Pangong Lake Day After Firing Incident

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लद्दाख में फिर आमने-सामने:पैंगॉन्ग में बढ़ते तनाव के बीच गलवान का नया वीडियो सामने आया, 3 मिनट 25 सेकंड के वीडियो में भारत के जवानों से हाथापाई करते दिखे चीनी सैनिक

नई दिल्ली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने गलवान झड़प का वीडियो जारी किया है। इसमें भारत और चीन के सैनिक नदी के किनारे झड़प करते दिख रहे हैं।
  • पैंगॉन्ग के दक्षिणी इलाके में चीन के सैनिकों ने 7 सितंबर को भारतीय पोस्ट की तरफ बढ़ने की कोशिश की थी और फायरिंग की थी
  • भारतीय सैनिक इस इलाके की दो अहम चोटियों पर डटे हुए हैं, चीन ने भी अब इस इलाके में निर्माण शुरू किया

लद्दाख में पैंगॉन्ग सो लेक के दक्षिणी इलाके में भारतीय जवानों से मात खाने बाद चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी अब उत्तरी इलाके में अपने सैनिक बढ़ा रही है। यहां नया निर्माण भी किया जा रहा है और ट्रांसपोर्टेशन के साधन जुटाए जा रहे हैं, लेकिन भारतीय सैनिक इस जगह से इतने करीब हैं कि वे चीन की हर हरकत पर नजर रख रहे हैं। इस बीच, भारत और चीन की सेना के बीच बुधवार को 4 घंटे तक ब्रिगेड कमांडर लेवल की बातचीत हुई। सहमति बनी है कि दोनों तरफ से कॉर्प्स कमांडर चर्चा करेंगे।

इस बीच 15 जून को गलवान में हुई झड़प का नया वीडियो सामने आया है। वीडियो साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने जारी किया है। 3 मिनट 25 सेकंड के इस वीडियो में भारत और चीन के सैनिक डंडों से एक-दूसरे पर वार करते दिख रहे हैं। इस झड़प के दौरान कुछ सैनिक पानी में गिर गए। गलवान में हुई झड़प के दौरान 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

पैंगॉन्ग में फिंगर 5 से 8 के बीच चीन ने निर्माण शुरू किया

पैंगॉन्ग का उत्तरी इलाका आठ अलग-अलग फिंगर एरिया में बंटा है। भारत का दावा है कि लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) फिंगर आठ से शुरू होती है और फिंगर चार तक जाती है। चीनी सेना एलएसी को नहीं मान रही। चीन के सैनिक फिंगर चार के पास डटे हुए हैं। वे फिंगर पांच से आठ के बीच निर्माण कर रहे हैं।

दक्षिणी इलाके की दो अहम चोटियों पर भारतीय सैनिक डटे
7 सितंबर को दक्षिणी इलाके में चीनी सैनिकों ने भारतीय पोस्ट की तरफ बढ़ने की कोशिश की थी और चेतावनी के तौर पर फायरिंग की थी। यहां पर भारत के सैनिकों ने उन्हें रोक दिया था। इस घटना की तस्वीर भी सामने आई है, जिसमें चीन के सैनिक भाला, रॉड और धारदार हथियार लिए नजर आए।

भारत ने कहा था कि जब चीनी सैनिकों को उन्होंने अपनी पोस्ट की तरफ आने से रोका तो उन्होंने हवाई फायर भी किए थे। जबकि, इससे पहले चीन कह रहा था कि फायरिंग भारतीय जवानों ने की है। भारतीय जवान इस इलाके की दो अहम चोटियों पर डटे हैं और चीन कई बार भारत को इस पोजिशन से हटाने की कोशिश कर चुका है।

7 सितंबर को पैंगॉन्ग झील के पास चीन के सैनिक भाला, रॉड और धारदार हथियार लिए नजर आए थे।
7 सितंबर को पैंगॉन्ग झील के पास चीन के सैनिक भाला, रॉड और धारदार हथियार लिए नजर आए थे।

दो हफ्तों में दो बार आमने-सामने आए भारत-चीन के सैनिक

भारतीय और चीनी सैनिक दो हफ्तों में दो बार आमने-सामने आए हैं। 31 अगस्त की दोपहर भी चीन सेना ने भारतीय इलाके पर कब्जे की कोशिश की थी, जिसे भारतीय सेना ने रोका था। 29-30 अगस्त की रात चीन की साजिशों को नाकाम करते हुए भारतीय सेना ने पैंगॉन्ग झील के दक्षिणी हिस्से में मौजूद अहम चोटियों, ब्लैक टॉप और हेलमेट टॉप पर कब्जा कर लिया था।

लद्दाख सीमा पर भारत चीन के बीच जून से तनाव

भारत और चीन के बीच इस साल जून से ही तनाव जारी है। गलवान घाटी में 15 जून की रात भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। चीन के सैनिकों ने रात के समय कांटेदार तारों से लिपटे रॉड और डंडों से भारतीय सैनिकों पर हमला किया था। इसमें भारत के 20 सैनिक शहीद हुए थे।

चीन के भी 40 सैनिकों के मारे जाने की खबरें आई थीं। इसके बाद से ही दोनों देशों की ओर से सैन्य स्तर पर तनाव करने के लिए बातचीत हो रही है। हालांकि, कई चरणों की बातचीत के बाद भी अब तक कोई हल नहीं निकल सका है।

आप भारत-चीन सीमा विवाद से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं...

1. चीन को माकूल जवाब:भारतीय सेना ने पैगॉन्ग सो झील के दक्षिणी हिस्से में अहम चोटी पर कब्जा किया; चीन ने कहा- भारत से तनाव बढ़ने का खतरा

2. चीनी मीडिया की धमकी:ग्लोबल टाइम्स ने लिखा- भारत का चीन से कोई मुकाबला नहीं, अमेरिका की मदद से भी युद्ध नहीं जीत सकता

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser