पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • India Warning To China | India China Ladakh Border Update | Ladakh Galwan Valley Face off US Report

गलवान-डोकलाम के पीछे एक ही चीनी अफसर:गलवान में जिस चीनी जनरल ने भारतीय सैनिकों पर हमले का आदेश दिया, वह डोकलाम विवाद के लिए भी जिम्मेदार था

वॉशिंगटन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
17 जून को कश्मीर के गांदरबल से लद्दाख रवाना होते भारतीय सैनिक। एक प्राईवेट जियो इंटेलिजेंस फर्म हॉकआई 360 के मुताबिक, चीन मई के आखिर से ही लद्दाख में सैनिकों की तादाद बढ़ाने लगा था। उसने यहां काफी हथियार भी जमा किए थे।
  • अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जनरल झाओ जोंग्की ने भारतीय सैनिकों पर हमले का आदेश दिया था
  • डोकलाम विवाद के वक्त भी झाओ ही कमांडर था, वो चीनी सेना का काफी सीनियर कमांडर है

गलवान में हिंसक झड़प और डोकलाम विवाद के पीछे एक ही चीनी अफसर का हाथ था। अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने मंगलवार को दावा किया कि 15 जून को गलवान घाटी में चल रही बातचीत के दौरान चीन के कमांडर झाओ जोंग्की ने ही भारतीय जवानों पर जवानों पर हमले का आदेश दिया था। एजेंसियों ने बताया कि झाओ ही 2017 में डोकलाम विवाद के वक्त भी चीनी सेना का कमांडर था। उसी की वजह से विवाद बढ़ा।

वेस्टर्न थिएटर कमांड का जनरल है झाओ
अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट्स के मुताबिक- जनरल झाओ चीनी सेना की वेस्टर्न थिएटर कमांड को लीड करता है। वो पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए या चीनी सेना) के सबसे सीनियर कमांडर्स में से एक है। इस कमांडर का मानना है कि चीन को अमेरिका और भारत के रिश्तों की वजह से दबाव में आने की जरूरत नहीं है। वो भारत को सबक सिखाना चाहता था। हालांकि, इस बार झाओ का दांव उल्टा पड़ गया। झाओ ने 2016 में तब के आर्मी चीफ दलबीर सिंह सुहाग से भी मुलाकात की थी। 

ये भी पढ़ें चीन पर शक की वजह / इस बार चीन सिर्फ 7 दिन में पीछे हटने को राजी हो गया, पिछली बार वह 30 दिन में राजी हुआ और पलट गया, डोकलाम में उसने 73 दिन लगाए थे

भारत को चेतावनी देना चाहता था चीन
रिपोर्ट के मुताबिक- चीन की मंशा भारत को अपनी ताकत का अहसास कराने की थी। लेकिन, मामला हाथ से निकल गया और हिंसक झड़प हो गई। अब भारत में चीन के खिलाफ गुस्सा है। भविष्य में दोनों देशों के बीच बातचीत पहले जैसी आसान नहीं रहेगी। अमेरिका और भारत अब और ज्यादा करीब आएंगे। अमेरिका ने कई महीनों पहले भारत को चेताया था कि वो 5जी नेटवर्क तैयार करने में चीन की कंपनी हुबेई की मदद न ले। 15 जून की घटना के बाद भारतीय टिकटॉक जैसे ऐप हटा रहे हैं। चीनी हैंडसेट के इस्तेमाल से बच रहे हैं।  

उल्टी पड़ गई चाल
एक सूत्र के मुताबिक, “चीन जो चाहता था, वैसा नहीं हुआ और दांव उल्टा पड़ गया। यह चीन की सेना की भी जीत नहीं है।” रिपोर्ट में कहा गया है- ये दावा तो नहीं किया जा सकता कि राष्ट्रपति इस मामले में किस हद तक शामिल हैं। लेकिन, इतना तय है कि उन्हें चीनी सेना को दिए आदेश की जानकारी जरूर रही होगी। प्राईवेट जियो इंटेलिजेंस फर्म हॉकआई 360 ने मई के आखिर में बताया था चीन लद्दाख में सैनिक और हथियार जमा कर रहा है। 

भारत और चीन सीमा विवाद पर आप ये खबरें भी पढ़ सकते हैं

1. चीन के साथ विवाद की पूरी कहानी: 58 साल में चौथी बार एलएसी पर भारतीय जवान शहीद हुए, 70 साल में बतौर पीएम मोदी सबसे ज्यादा 5 बार चीन गए
2. गलवान के 20 शहीदों के नाम: हिंसक झड़प में शहीद हुए 20 सैनिक 6 अलग-अलग रेजिमेंट के, सबसे ज्यादा 13 शहीद बिहार रेजिमेंट के

3. शहीद बताया जवान जिंदा निकला: भारतीय जवान की कल शहादत की खबर मिली थी, उसने आज खुद पत्नी को फोन कर बताया- जिंदा हूं
4. भारत-चीन झड़प की आंखों देखी: दोपहर 4 बजे से रात 12 बजे तक एक-दूसरे का पीछा कर हमला करते रहे; भारत के 17 सैनिक नदी में गिरे  

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें