विदेश

--Advertisement--

संयुक्त राष्ट्र / भारत 3 साल के लिए मानवाधिकार परिषद का सदस्य बना, एशिया-प्रशांत श्रेणी में 188 वोट मिले



भारत का कार्यकाल एक जनवरी, 2019 से शुरू होगा। भारत का कार्यकाल एक जनवरी, 2019 से शुरू होगा।
भारत के अलावा चार अन्य देशों को भी यूएन मानवाधिकार परिषद में प्रवेश मिला है। भारत के अलावा चार अन्य देशों को भी यूएन मानवाधिकार परिषद में प्रवेश मिला है।
X
भारत का कार्यकाल एक जनवरी, 2019 से शुरू होगा।भारत का कार्यकाल एक जनवरी, 2019 से शुरू होगा।
भारत के अलावा चार अन्य देशों को भी यूएन मानवाधिकार परिषद में प्रवेश मिला है।भारत के अलावा चार अन्य देशों को भी यूएन मानवाधिकार परिषद में प्रवेश मिला है।
  • यूएन मानवाधिकार परिषद में सदस्य बनने के लिए किसी भी देश को 97 वोटों की जरूरत होती है
  • एशिया-प्रशांत श्रेणी में भारत के साथ बहरीन, बांग्लादेश, फिजी और फिलीपींस को भी प्रवेश मिला

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 10:37 PM IST

न्यूयॉर्क. संयुक्त राष्ट्र में शुक्रवार को भारत को बड़ी जीत मिली। भारत 3 साल के लिए संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) में सदस्य चुन लिया गया है। एशिया-प्रशांत श्रेणी में भारत को 188 वोट मिले। भारत का तीन साल का कार्यकाल एक जनवरी, 2019 से शुरू होगा। 

 

193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा में यूएनएचआरसी के नए सदस्यों के लिए वोटिंग कराई गई थी। खुफिया तरीके से हुए मतदान में 18 देशों को बहुमत से जीत मिली। यूएन मानवाधिकार परिषद में सदस्य बनने के लिए किसी भी देश को 97 वोटों की जरूरत होती है।

 

भारत को एशिया-पैसिफिक कैटेगरी में मिली जीत
भारत को एशिया-प्रशांत कैटेगरी में परिषद में एंट्री मिली है। भारत के साथ बहरीन, बांग्लादेश, फिजी और फिलीपींस को भी इसी श्रेणी में परिषद में प्रवेश मिला है। एशिया-प्रशांत श्रेणी में पांच सीटों के लिए पांच राष्ट्र थे, जिसके लिए भारत का चुनाव निश्चित था।

--Advertisement--
Click to listen..