जिब्राल्टर / ईरानी तेल टैंकर से भारतीय कैप्टन समेत 4 क्रू मेंबर्स रिहा, 42 दिन पहले गिरफ्तार हुए थे



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • 4 जुलाई को जिब्राल्टर के तटों के पास ईरानी तेल टैंकर ग्रेस-1 को जब्त किया गया था
  • ब्रिटिश अधिकार वाले जिब्राल्टर का आरोप- तेल टैंकर ने यूरोपियन यूनियन के प्रतिबंधों को तोड़ा
  • जिब्राल्टर के अधिकारियों ने कहा- सीरिया में सप्लाई के लिए तेल ले जा रहा था टैंकर

Dainik Bhaskar

Aug 15, 2019, 07:36 PM IST

लंदन. जिब्राल्टर के तटों से जब्त किए गए तेल टैंकर पर सवार एक भारतीय कैप्टन समेत चार क्रू मेंबर्स को गुरुवार को मुक्त कर दिया गया। जिब्राल्टर के अधिकारियों ने इन क्रू मेंबर्स को सभी आरोपों से बरी कर दिया। ईरान के ग्रेस-1 सुपर टैंकर को 4 जुलाई को जब्त किया गया था। आरोप था कि यह सीरिया में तेल की सप्लाई कर रहा है।

कैप्टन ने कहा- रिहाई में भूमिका निभाने वालों का शुक्रिया

  1. भारतीय कैप्टन ने एक बयान में कहा- अपने रिहा होने पर मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं। मैं अपनी लीगल टीम में उन लोगों का शुक्रिया अदा करता हूं, जिन्होंने मेरी रिहाई में भूमिका निभाई।

  2. ईरानी तेल टैंकर पर सवार भारतीय क्रू को उस वक्त गिरफ्तार किया गया था, जब टैंकर जिब्राल्टर के यूरोपा प्वाइंट से गुजर रहा था। यह ब्रिटेन के अधिकार क्षेत्र वाला इलाका है।

  3. हालांकि, अब जिब्राल्टर सरकार के अधिकारियों ने भी यह स्पष्ट कर दिया गया है कि चारों क्रू मेंबर्स के खिलाफ की जा रही पुलिस कार्रवाई को खत्म कर दिया गया है।

  4. जिब्राल्टर के अधिकारियों ने कहा था कि टैंकर यूरोपियन यूनियन के प्रतिबंधों का उल्लंघन कर तेल की सप्लाई सीरिया को कर रहा है।

  5. अधिकारियों ने कहा कि जहाज की जब्ती के लिए अमेरिका ने भी अपील की है। उसने भी अपने कई प्रतिबंधों को तोड़े जाने का हवाला दिया है। हालांकि, अभी इस मसले की सुनवाई जिब्राल्टर की सुप्रीम कोर्ट में होनी है।

  6. इस बीच ईरान ने भी अपने जहाज को मुक्त कराने के लिए ब्रिटेन में अधिकारियों के साथ संपर्क साध रखा है। ईरान सरकार का कहना है कि जल्द ही इस मसले को सुलझा लिया जाएगा।

    DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना