अमेरिका / भारतीय मूल की महिला 9 साल की सौतेली बेटी की हत्या के जुर्म में दोषी



मृतक अशदीप और उसकी सौतेली मां शामदई। मृतक अशदीप और उसकी सौतेली मां शामदई।
X
मृतक अशदीप और उसकी सौतेली मां शामदई।मृतक अशदीप और उसकी सौतेली मां शामदई।

  • शामदई अर्जुन को 25 साल की सजा हो सकती है, 3 जून को सजा सुनाई जाएगी
  • घटना 2016 की, अशदीप को गला घोंटकर मारा गया, वह 3 महीने पहले ही भारत से अमेरिका गई थी

Dainik Bhaskar

May 14, 2019, 11:44 AM IST

न्यूयॉर्क. अमेरिका में भारतीय मूल की एक महिला को नौ साल की सौतेली बेटी की हत्या का दोषी पाया गया है। सजा 3 जून को सुनाई जाएगी। इसे 25 साल तक की कैद हो सकती है। घटना 2016 की है। 55 साल की शामदई अर्जुन ने अशदीप कौर की गला घोंटकर हत्या कर दी थी।

 

कार्यवाहक डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी जॉन रियान ने फैसला सुनाते वक्त कहा, ‘‘बेबस बच्ची के साथ हुआ यह दिल दहला देने वाला मामला है। उसकी देखभाल सौतेली मां काे करनी थी, लेकिन उसने ही उसका गला घोंट दिया। वह कानूनन अधिकतम सजा की हकदार है।’’ अटॉर्नी की इस टिप्पणी के बाद माना जा रहा है कि दोषी शामदई को उम्रकैद की सजा सुनाई जाएगी।

 

शामदई के जवाब से चश्मदीद को हुआ था शक

एक चश्मदीद के मुताबिक, उसने 19 अगस्त 2016 की शाम शामदई को उसके पूर्व पति रेमंड नारायण, 3 और 5 साल के दो पोतों के साथ क्वींस स्थिति अपार्टमेंट निकलते देखा था। चश्मदीद ने सौतेली बेटी के बारे में पूछा तो शामदई ने कहा- वह बाथरूम में है और उसके पिता के आने का इंतजार कर रही है। वह उसे ले जाएंगे।

 

चश्मदीद ने पिता को बुलाया

बाद में चश्मदीद ने देखा कि बाथरूम की लाइट कई घंटों तक जलती रही। तब उसने पीड़ित के पिता सुखजिंदर को फोन किया। उनके आने पर बाथरूम का दरवाजा तोड़ा गया। वहां अशदीप नग्न अवस्था में बाथटब में मृत पड़ी थी। उसके शरीर पर चोट के कई निशान थे। मेडिकल रिपोर्ट में भी हाथ से गला घोंटे जाने की पुष्टि हुई थी।

 

नौकरानी ने भी बाथरूम से अकेले निकलते देखा था

घटना से तीन महीने पहले ही अशदीप पिता के साथ अमेरिका आई थी। घर में काम करने वाली नौकरानी ने भी देखा था कि शामदई अशदीप के साथ बाथरूम में गई, लेकिन अकेली बाहर आई थी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना