• Hindi News
  • International
  • Indians Living In US Australia Placed Orders For More Than 50 Thousand Oxygen Concentrators To Be Sent To India.

रिकॉर्ड स्तर पर क्राउडफंडिंग:अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया में रह रहे भारतीयों ने भारत भेजने के लिए 50 हजार से ज्यादा ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर के ऑर्डर दिए

5 महीने पहलेलेखक: वॉशिंगटन से भास्कर के लिए रोहित शर्मा और ऑस्ट्रेलिया से अमित चौधरी
  • कॉपी लिंक
अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया में रह रहे भारतीय अपने परिजन व देश के लोगों को ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर भेज रहे हैं। - Dainik Bhaskar
अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया में रह रहे भारतीय अपने परिजन व देश के लोगों को ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर भेज रहे हैं।

वॉशिंगटन से भास्कर के लिए रोहित शर्मा और ऑस्ट्रेलिया से अमित चौधरी

भारत में ऑक्सीजन की भारी किल्लत के बाद अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के एनआरआई आगे आए हैं। इस वजह से इन दोनों देशों में ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर की बिक्री में रिकॉर्ड इजाफा हुआ है। अमेरिकी कंपनी निडेक ने बताया कि वे भारत के 8 शहरों में मेडिकल उपकरण की सप्लाई करते हैं। बीते 12 दिन में उन्होंने 8 हजार ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर भेजे हैं। अगले दो महीने के लिए 14 हजार ऑर्डर आ चुके हैं।

इसके अलावा ऑक्सीजन सिलेंडर बनाने वाली तीन कंपनियां रेस्पीरोनिक्स, केयरे और इंवीकेयर ने बताया कि उनके पास भी करीब इतने ही ऑर्डर हैं। ये कंपनियां अमेरिका, मलेशिया, इंडोनेशिया, ग्रीस, सिंगापुर और ब्रिटेन स्थित अपने सेंटर्स से कन्सन्ट्रेटर भारत भेज रही हैं। यही नहीं, एनजीओ भी अपने स्तर पर मदद भेज रही हैं। सेवा इंटरनेशनल ने बीते हफ्ते 45 करोड़ रुपए जुटाए हैं। इस संस्था ने 2 हजार सिलेंडर भारत भेजे हैं।

संस्था इंडियॉजपोरा ने 75 करोड़ रुपए की मदद भेजी है। इसमें 23 करोड़ बिजनेसमैन विनोद खोलसा ने दिए हैं। दूसरी तरफ, ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले अमित सिंगला ने पटियाला के नाभा में कोरोना से पीड़ित रिश्तेदार के लिए डेढ़ लाख रुपए खर्च कर कन्सन्ट्रेटर भिजवाया है। इसमें 25 हजार रुपए जीएसटी के तौर पर अदा किए हैं।

सिद्धार्थ सोनीपत के रहने वाले है और ब्रिस्बेन के टवुमब्बा में रहते हैं। वे बताते हैं कि वह 10 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर्स सोनीपत भेज रहे हैं। सिडनी में मेडिकल इक्विपमेंट का कारोबार करने वाले साहिल एस शाह के मुताबिक 10 दिन पहले ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर्स की मांग जीरो थी। वहीं उन्हें 150 लोग सम्पर्क कर चुके हैं। पांच ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर अहमदबाद भेज चुके हैं। 55 ऑर्डर लगे हैं। शाह ने चीन की वक कंपनी से कॉन्ट्रैक्ट किया है। 7 लीटर क्षमता का ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर्स महज 20 हजार रुपए में उपलब्ध है और इतनी ही लागत इसे चीन से भारत पहुंचाने में लग रही है।

ग्रुप बना लोग एक-दूसरे को कन्सन्ट्रेटर खरीदने में मदद कर रहे

भारतीय मूल के लोगों ने ऑस्ट्रेलिया में कई फेसबुक और वाॅट्सएप ग्रुप बनाए हैं। एक दूसरे की सहायता के लिए जानकारियां शेयर की जा रही हैं। ऐसे ही एक ग्रुप से जुड़े सिद्धार्थ भारद्वाज के मुताबिक आम लोगों को यह जानकारी ही नहीं है कि कौनसा कन्सन्ट्रेटर्स किस हालात के लिए सही है। सिद्धार्थ के परिवार में कई लोग डॉक्टर हैं, लिहाजा उनसे जानकारी लेकर वह इन ग्रुप्स में शेयर कर लोगों की कन्सन्ट्रेटर्स खरीदने में मदद कर रहे हैं।

दिल्ली के रईस घरों में ही आईसीयू तैयार कर रहे हैं

ऑस्ट्रेलिया सिख सपोर्ट एनजीओ के लिए ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर्स का इंतजाम करने वाले कारोबारी तरुणदीप बताते हैं वह उन्हीं लोगों को ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर्स दे रहे हैं जिनकी हालत नाजुक है। इसके लिए मेडिकल सर्टिफिकेट भी जांचते हैं। वे कहते हैं कि लोगों ने जमाखोरी शुरू कर दी है।

दिल्ली में ही रसूख और पैसे वाले लोगों ने घर में आईसीयू तैयार कर लिया है। इसकी वजह से बाजार में जान बचाने वाले कई उपकरणों की बेहद कमी हो गई है। इन्हें मंगाने में 7-15 दिन का समय लगता है और इतने लंबे वक्त तक गंभीर मरीजों को जिंदा रख पाना बहुत मुश्किल होता है।