--Advertisement--

बयान / अमेरिकी प्रतिबंधों को ईरान के राष्ट्रपति ने बताया आर्थिक आतंकवाद



Iran President said US sanctions were economic terrorism
X
Iran President said US sanctions were economic terrorism

  • ईरान के तेल सेक्टर पर 5 नवंबर को लागू हुए थे अमेरिकी प्रतिबंध
  • अमेरिका इस साल मई में ईरान के साथ न्यूक्लियर डील से अलग हुआ था
  • उसी वक्त अमेरिका ने ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 02:21 PM IST

तेहरान. ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी ने उनके देश पर लगे अमेरिकी प्रतिबंधों को आर्थिक आतंकवाद बताया है। रुहानी ने कहा कि अमेरिका ने गैरकानूनी तरीके अपनाकर ईरान को निशाना बनाया। रुहानी ने तेहरान में एक कॉन्फ्रेंस के दौरान यह बात कही। कार्यक्रम में अफगानिस्तान, चीन, पाकिस्तान, रूस और तुर्की के अधिकारी मौजूद थे।  

 

रुहानी ने कहा कि अमेरिका ने ईरान की अर्थव्यवस्था को संकट में डालने के लिए आर्थिक आतंकवाद का तरीका निकाला। वह दूसरे देशों के मन में भी डर पैदा करना चाहता है ताकि वो ईरान में निवेश ना करें। 

 

ईरान के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध 5 नवंबर से लागू हुए थे। ये प्रतिबंध ईरान के तेल और उसके फाइनेंशियल सेक्टर्स पर लगाए गए हैं। अमेरिका ने इसे ईरान के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई बताया था। ऐसा माना जा रहा है कि अमेरिका की कार्रवाई से उन कंपनियों पर असर पड़ेगा जो ईरान के साथ कारोबार करती हैं।

 

ईरान के साथ हुई न्यूक्लियर डील से अमेरिका इस साल मई में पीछे हट गया था और ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था। इसके बाद ईरान की मुद्रा रियाल में काफी कमजोरी आ गई।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..