ईरान के सुप्रीम लीडर की भांजी गिरफ्तार:अपनी सरकार को ‘हत्यारा’ बताया था; अधिकारियों ने विरोध समर्थक फिल्ममेकर को भारत आने से रोका

तेहरान2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ईरान की सरकार हिजाब के खिलाफ जारी प्रदर्शनों में हिस्सा लेने वाले किसी भी व्यक्ति को नहीं छोड़ रही है। यहां तक कि ईरान के सुप्रीम लीडर आयातुल्लाह खामेनेई की भांजी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। दरअसल, सुप्रीम लीडर की भांजी फरिदेह मोरादखानी ने एक वीडियो जारी किया था। इसमें उन्होंने ईरान की सरकार को ‘हत्यारा’ और ‘बच्चों का कातिल’ बताया था। साथ ही आयातुल्लाह खामेनेई की तुलना जर्मनी के तानाशाह हिटलर और मुसोलिनी से की थी।

दूसरी तरफ के एक रिपोर्ट के मुताबिक ईरान की सरकार ने अपने एक फिल्ममेकर को भारत जाने की परमिशन नहीं दी। वैरायटी मैग्जीन के मुताबिक ईरान के फिल्ममेकर रेजा डोर्मशियान को गोवा में इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के लिए आना था। जहां उनकी फिल्म ‘ए माइनर’ की स्क्रीनिंग होनी थी। लेकिन प्रदर्शनकारियों का समर्थन करने के कारण उन्हें इसकी परमिशन नहीं मिली। रेजा डोर्मशियान ने बताया कि इंस्टाग्राम और सोशल मीडिया पर प्रदर्शन को सपोर्ट करने के कारण उन्हें भारत आने से रोका गया है।

फिल्ममेकर रेजा डोर्मशियान लगातार ईरान में हो रहे विरोध प्रदर्शनों पर अपनी राय देते रहे हैं।
फिल्ममेकर रेजा डोर्मशियान लगातार ईरान में हो रहे विरोध प्रदर्शनों पर अपनी राय देते रहे हैं।

जानी-मानी मानवाधिकार कार्यकर्ता हैं फरिदेह

फरिदेह मोरादखानी एक जानी मानी मानवाधिकार कार्यकर्ता हैं। उन्होंने वीडियो में दूसरे देशों की सरकारों से अपील कर कहा था कि वो ईरान से सभी संबंधों को खत्म कर दें। इस वीडियो को ऑलनाइन पोस्ट करने के दो दिन बाद ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। फरिदेह के वीडियो को उनके भाई ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था, जिसके बाद से प्रदर्शनकारी उसे खूब शेयर कर रहे हैं। उनके गिरफ्तार होने की जानकारी भी उनके भाई ने ही दी। फरिदेह पेशे से एक इंजिनीयर हैं, उनके पिता विपक्ष के बड़े नेता थे। जिन्होंने ख़ामेनेई की बहन से शादी की थी।

फरिदेह ने कहा था कि ईरान की सत्ता अपने लोगों के प्रति वफादार नहीं है, वो कोई कायदे कानून नहीं मानती है।
फरिदेह ने कहा था कि ईरान की सत्ता अपने लोगों के प्रति वफादार नहीं है, वो कोई कायदे कानून नहीं मानती है।

पेशी होने गईं तो गिरफ्तार कर लिया

फरिदेह के भाई महमूद मोरादखानी के मुताबिक उन्हें एक समन देकर पेश होने के लिए कहा गया था। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। अपनी वीडियो में फरिदेह ने प्रदर्शनकारियों के दमन की आलोचना की थी । उन्होंने इंटरनेशनल कम्युनिटी को भी कोई एक्शन नहीं लेने के लिए कोसा था और ईरान पर लगाए सैंक्शन्स को मजाक बताया था।

ईरान के मशहूर रैपर तूमाज सलेही ने माना है कि तूमाज सलेही के परिवार ने उनकी जान को खतरा बताया है।
ईरान के मशहूर रैपर तूमाज सलेही ने माना है कि तूमाज सलेही के परिवार ने उनकी जान को खतरा बताया है।

रैपर को करप्शन के चार्ज में फंसाकर गिरफ्तार किया

फरिदेह मोरादखानी पहली नहीं है जिसे प्रदर्शनकारियों को समर्थन करने पर गिरफ्तार किया है। रविवार को ज्यूडिशियल ऑथोरिटीज ने बताया कि ईरान के मशहूर रैपर तूमाज सलेही ने प्रदर्शनकारियों का समर्थन किया है। इसके बाद उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगा दिए गए हैं। जिसके चलते उन्हें मौत की सजा भी मिल सकती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक ईरान में हिजाब के खिलाफ प्रदर्शनों के चलते अभी तक 450 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 18,173 लोगों को डिटेन किया गया है।

ईरान में हिजाब के खिलाफ जारी प्रदर्शनों में अभी तक 450 लोगों की जान जा चुकी है।
ईरान में हिजाब के खिलाफ जारी प्रदर्शनों में अभी तक 450 लोगों की जान जा चुकी है।

प्रदर्शनकारियों से अलग-अलग तरीकों से निपट रही सरकार

ईरान में हिजाब के खिलाफ जारी प्रदर्शनों से निपटने के लिए वहां की सरकार अलग-अलग तरीके अपना रही है। कहीं प्रदर्शनकारियों की आंखों को निशाना बनाया जा रहा है तो कहीं उन्हें डिटेन करने के लिए एंबुलेंस का इस्तेमाल किया जा रहा है। न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले दो महीनों से जारी प्रदर्शनों में अब तक 500 से ज्यादा लोग अपनी आंखों की रोशनी गवां चुके हैं। दो महीनों से ज्यादा समय से जारी ईरान के प्रदर्शनों में इसी तरह के अनोखे मामले सामने आए हैं।

ये खबरें भी पढ़ें....

ईरान प्रदर्शन रोकने के लिए हद पार कर रहा:पुलिस आंखें फोड़ रही तो लोग पब्लिक में किस कर रहे, एंबुलेंस अस्पताल नहीं जेल पहुंचा रही

गोलियों का जवाब पब्लिक में ‘किस ऑफ लव’ से दे रहे लोग

ईरान में सरकार जितना प्रदर्शनों को दबाने की कोशिश कर रही है ये उतने ही बड़े होते जा रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक ईरान का प्रदर्शन अब 140 शहरों में फैल चुका है। प्रदर्शनकारी हर वो काम कर रहे हैं जिससे सरकार चिढ़ती है। हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। जिसमें बीच सड़क पर बिना हिजाब के एक लड़की अपने साथी को किस करते हुए देखी जा सकती है। ये दोनों लोग काफी सारी गाड़ियों से घिरे हुए हैं। माना जा रहा है कि ऐसा कर सरकार को चुनौती दी गई है। दरअसल ईरान में सार्वजनिक जगह पर इस तरह से किस करने की सख्त मनाही है। पढ़ें पूरी खबर...

जन्मदिन से एक दिन पहले कत्ल:ईरान के सेलेब्रिटी शेफ थे शाहिदी, हिजाब के विरोध में गई जान

ईरान के मशहूर शेफ महरशाद शाहिदी की हत्या कर दी गई है। शाहिदी देश में चल रहे हिजाब विरोधी प्रदर्शन का एक अहम चेहरा बन गए थे। इसकी वजह से वहां की सरकार और मॉरल पुलिस उनसे बेहद खफा थी।मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि 19 साल के शाहिदी को पिछले हफ्ते उस वक्त गिरफ्तार किया गया, जब वो हिजाब विरोधी प्रदर्शन कर रहे थे। पढ़ें पूरी खबर..